ENG | HINDI

सरकार पढ़ रही है आपकी व्‍हॉट्सऐप चैट, जानें इस खबर की पूरी सच्‍चाई

व्‍हॉट्सऐप

आप व्‍हॉट्सऐप का इस्‍तेमाल चैटिंग के लिए करते होंगें लेकिन कुछ लोग इसका इस्‍तेमाल किसी भी मैसेज को चेतावनी या परम ज्ञान मानकर फॉरवर्ड करने के लिए करते हैं। हममें से कोई भी इस बात को वेरिफाई नहीं करता कि उस मैसेज या परम ज्ञान की बात में कितनी सच्‍चाई है।

आजकल एक ऐसा ही नया व्‍हॉट्सऐप मैसेज वायरल हो रहा है जिसमें लिखा है कि इस ऐप ने अपना एक नया फीचर लॉन्‍च किया है जिसके तहत आपकी हर जानकारी और हरकत पर सरकार नज़र रखे हुए है और कुछ भी गलत किया तो आपको जेल की हवा खानी पड़ सकती है।

हाल ही में नरेंद्र मोदी जी की सरकार की तरफ से चेतावनी दी गई थी कि वो अफवाहों पर लगाम कसने के लिए कोई ठोस कदम उठाए। अभी तक व्‍हॉट्सऐप की ओर से इस बात की पुष्टि नहीं की गई है लेकिन इस चेतावनी के बाद एक मैसेज सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है जिसमें उस नए फीचर के बारे में बताया गया है जिसमें मैसेज पर सिंगल टिक और डबल टिक के बाद अब तीन टिक की बात की गई है।

लाल टिक पर होगी जेल

इस मैसेज के अनुसार अगर आपके फॉरवर्ड किए गए मैसेज में दो ब्‍लू टिक के साथ एक तीसरा टिक भी दिख रहा है तो इसका मतलब है कि सरकार ने आपका मैसेज पढ़ लिया है। अगर तीनों टिक ब्‍लू हैं तो इसका मतलब है कि आपका मैसेज सही है लेकिन अगर उसमें तीसरा टिक लाल है तो आपका मैसेज आपत्तिजनक हो सकता है और उसके लिए आपके ऊपर पुलिस कार्यवाही कर सकती है।

क्‍या है खबर की सच्‍चाई

दरअसल, व्‍हॉट्सऐप ने ऐसा कोई फीचर नहीं निकाला है और ना ही इसकी कोई संभावना जताई है। कंपनी का कहना है कि ऐप में हर यूज़र की डिटेल्‍स जैसे चैट, फोटोज़, वीडियो और वॉइस मैसेज वगैरह को उसकी तय जगह तक पहुंचते ही डिलीट कर दिया जाता है। ये सब चीज़ं यूज़र अपने डिवाइस पर ही स्‍टोर करके रख सकता है। इसके अलावा किसी दूसरे सर्वर पर ये जानकारी उवलब्‍ध नहीं होती है। सारे मैसेज इन्क्रिप्‍टेड होते हैं इसलिए किसी और के लिए इन्‍हें पढ़ना नामुकिन होता है।

अगर आपका मैसेज उसी समय डिलीवर नहीं होता है तो कंपनी के सर्वर पर वह इन्‍क्रिप्‍टेड मोड में 30 दिनों तक रहता है। व्‍हॉट्सऐप इसे 30 दिनों तक भेजने की कोशिश करता है, जिसके बाद इसे भी सर्वर से डिलीट कर दिया जाता है।

कंपनी की पॉलिसी

2 अप्रैल, 2016 को ऐप पर एंड टु एंड इनक्रिप्‍शन की प्राइवेसी पॉलिसी लागू है। इसके तहत जो इंसान मैसेज भेज रहा है और जिसे मैसेज भेजा है उनके अलावा कोई तीसरा इसे पढ़ या देख नहीं सकता है।

अब तो आप समझ ही गए होंगें कि सोशल मीडिया पर जो खबर वायरल हो रही है वो पूरी तरह से झूठी है और उसमें कोई सच्‍चाई नहीं है। व्‍हॉट्सऐप ने ऐसा कोई फीचर लॉन्‍च नहीं किया है जिसके तहत सरकार आपकी चैट पढ़ सकती है और वो तीन टिक वाली बात भी झूठी है।

ये सब किया धरा सोशल मीडिया है।

Don't Miss! random posts ..