ENG | HINDI

द ग्रेट वॉल ऑफ चाइना की दीवार में दफ्न है कई ऐसे राज़ जो कर सकते हैं आपको विचलित !

द ग्रेट वॉल ऑफ चाइना

द ग्रेट वॉल ऑफ चाइना ना सिर्फ दुनिया के सात अजूबों में शुमार है बल्कि इसे विश्व की सबसे लंबी दीवार का दर्जा भी प्राप्त है. इस दीवार की लंबाई और चौड़ाई देखकर कोई भी हैरत में पड़ सकता है हालांकि साल 1970 में चाइना की दीवार को आम पयर्टकों के लिए खोला गया था.

इंसानों द्वारा बनाई गई इस सबसे बड़ी संरचना द ग्रेट वॉल ऑफ चाइना की इस दीवार से संबंधित कुछ ऐसे राज़ हैं जिनके बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं.

1- दीवार के निर्माण की वजह

द ग्रेट वॉल ऑफ चाइना को चीन के लोग वान ली छांग छंग कहते हैं जिसका मतलब है चीन की विशाल दीवार. कहा जाता है कि विदेशी हमलावरो को रोकने के लिए इस दीवार का निर्माण हुआ था. लेकिन यह दीवार हमेशा सुरक्षित और अजेय नहीं रह सकी. कई बार विदेशी हमलावरों ने इस दीवार को तोड़ा और इसपर विजय भी प्राप्त की.

2- चंगेज खां ने तोड़ी दीवार

चीन की सबसे विशाल संरचना कही जानेवाली इस दीवार की ऊंचाई हर जगह एक जैसी नहीं है इसकी सबसे ज्यादा ऊंचाई 35 फुट है जबकि कुछ जगह पर यह दीवार 8 से 9 फुट ऊंची है. कहा जाता है कि सन 1211 में चंगेज खां ने इस दीवार को तोड़कर चीन में प्रवेश किया था.

3- दुनिया का सबसे लंबा कब्रिस्तान

चीन के इस विशाल दीवार के बारे में कहा जाता है कि इस दीवार को बनाने के दौरान करीब 4 लाख लोगों की मौत हुई थी जिन्हें इसी दीवार में दफनाया गया था. यही वजह है कि इस दीवार को दुनिया का सबसे लंबा कब्रिस्तान भी कहा जाता है.

4- चावल के आंटे का इस्तेमाल

द ग्रेट वॉल ऑफ चाइन के नाम से मशहूर इस दीवार की लंबाई 3460 किमी है और इसे दुनिया में इंसानों की बनाई सबसे बड़ी संरचना का दर्जा प्राप्त है. बताया जाता है कि इस दीवार को बनाते वक्त इसके पत्थरों को जोड़ने के लिए चावल के आटे का इस्तेमाल क‌िया गया था.

5- इसे बनाने में लगे 2 हजार साल

चीन के पूर्व सम्राट किन शी हुआंग की कल्पना के बाद इस दीवार को बनाने में करीब 2 हज़ार साल लगे. 3400 किमी लंबी इस पूरी दीवार में बीकन टॉवर, सीढ़‌ियां और कई पुल भी शामिल हैं. आपको बता दें कि एक करोड़ पयर्टक हर साल इस दीवार को देखने के लिए आते हैं.

6- दुनिया के 400 नेता कर चुके हैं दीदार

चीन के इस विशाल दीवार का दीदार करने के लिए वैसे तो हर साल पर्यटकों का तांता लगा रहता है लेकिन दुनियाभर के कई नेताओं ने भी इस दीवार का दीदार किया है. आपको बता दें कि बराक ओबामा, रिचर्ड निक्सन, रानी एलिज़ाबेथ (सेकेंड) और जापान के सम्राट सहित दुनियाभर के करीब 400 नेताओं ने इस दीवार का दीदार किया है.

7- चांद से दिखाई देती है ये दीवार

आम धारणाओं के अनुसार कहा जाता है कि चीन की यह दीवार चांद से भी दिखाई देती है लेकिन इसमे कितनी सच्चाई है यह कोई नहीं जानता. बता दें कि 85° डिग्री की ढलान और 30 सेंटी की चौड़ाई के साथ इस दीवार का सिमातई वाला भाग सबसे संकरा है.

गौरतलब है कि चीन में स्थित यह विशाल दीवार अपने आप में कई रहस्य समेटे हुए हैं और उन रहस्यों को जानने के लिए हर साल यहां पर्यटकों का सैलाब उमड़ता है लेकिन इससे जुड़ी ये बातें बहुत कम लोग ही जान पाते हैं.

Don't Miss! random posts ..