ENG | HINDI

क्या है स्पाईकैम पॉर्न जिसके खिलाफ इस देश में महिलाएं कर रही हैं प्रदर्शन

स्पाइकैम

स्पाइकैम पोर्न – महिलाएं कहीं सुरक्षित नहीं है। ना घर में ना सार्वजनिक जगहों में, और इस दुनिया में अभी तक कोई भी देश इतना अधिक विकसित नहीं हुआ है जो कह सके कि उनके देश में महिलाएं सुरक्षित हैं।

आज ऐसे ही एक विकसित देश की खबर जहां हजारों की तादाद में महिलाएं अपनी सुरक्षा के लिए सड़क पर विरोध प्रदर्शन कर रही हैं।

दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल

हम बात कर रहे हैं दक्षिण कोरिया की जो टेक्नोलॉजी के मामले में अमेरिका और चीन को टक्कर देता है। लेकिन टेक्नोलॉजी विकसित कर लेने के बाद भी दक्षिण कोरिया के लोगों की भी मानिसकता पिछड़े देशों की तरह ही है और वे भी महिलाओं को एक भोग्या की दृष्टि से ही देखते हैं। इसकी पुष्टि बीते शनिवार को सियोल की राजधानी में महिलाओं द्वारा किए आंदोलन से हो गई है।

स्पाइकैम

बीते शनिवार को सियोल की सड़कों पर हजारों की तादाद में महिलाओं ने स्पाई कैम पोर्नोग्राफी के विरोध में प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन करती ये महिलाओं ने स्पाईकैम पॉर्न पुरुष अपराधियों के खिलाफ मजबूत जांच और दंड देने की मांग की है, जो बिना बताए महिलाओं की फोटोग्राफी करते हैं या फिल्म बनाते हैं और फिर उसे ऑनलाइन पोस्ट करते हैं।

पुलिस नहीं है गंभीर

विरोध करने वाली अधिकांश प्रदर्शनकारी महिलाओं ने बेसबॉल कैप्स, चश्मा और सर्जिकल मास्क से चेहरे को कवर किया था। इन महिलाओं का आरोप है कि पुलिस भी इस मामले में अपराधियों के तरफ झुकी है। जिसके कारण जांच ठीक ढंग से नहीं चल पा रही है। इन महिलाओं का आरोप है कि अगर पीड़ित कोई मर्द होता तो जांच में इतनी देर नहीं होती।

स्पाइकैम

तीसरी बार हो रहा विरोध प्रदर्शन

यह तीसरी बार है जब दक्षिण कोरिया में महिलाएं स्पाई कैम पोर्नोग्राफी के खिलाफ सड़कों पर उतरी हैं। विरोध प्रदर्शन करती महिलाओं ने रेड रंग की टीशर्ट पहनी ती जिस पर लिखा था, ‘Angry women will change the world’. वहीं कुछ महिलाओं ने स्टेज पर अपना सिर मुंडवा कर विरोध प्रदर्शन किया।

स्पाइकैम

दक्षिण कोरियाः स्पाइकैम का देश है

शनिवार को हुए विरोध प्रदर्शन में 70,000 लोगों ने हिस्सा लिया था। पिछले महीने भी रैली हुई थी जिसमें 60,000 लोग शामिल हुए थे। यानी की इस महीने पिछले महीने की तुलना में 10 हजार अधिक लोगों ने प्रदर्शन में भाग लिया। वह भी ऐसे समय में जब तापमान 40 डिग्री के आसपास है। महिलाएं इस दौरान नारेबाजी कर रही है, ‘देश में महिलाओं के टॉइलट में स्पाइकैम लगाए जा रहे हैं। कृपया इस अपराध को रोकिए।’ वहीं, कुछ महिलाएं नारेबाजी कर रही हैं, ‘हम इस तरह और नहीं रह सकतीं’, ‘दक्षिण कोरियाः स्पाइकैम का देश है।’

स्पाइकैम

क्या है स्पाईकैम पॉर्न?

स्पाईकैम पॉर्न में सार्वजनिक जगहों की महिलाओं की तस्वीरें स्पाईकैमरे से लेकर पॉर्न साइट पर पोस्ट की जाती है। तकनीक के मामले में दुनिया के अग्रणी देशों मे शामिल दक्षिण कोरिया में टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल केवल विकास के लिए ही नहीं बल्कि गलत कामों के लिए भी हो रहा है। दक्षिण कोरिया के स्कूलों, ऑफिसों, ट्रेन और यहां तक टॉइलट में स्पाइकैम लगे हुए हैं जो चुपके से महिलाओं की फोटो खींचकर पोर्न साइट में पोस्ट कर देते हैं।

इन पोर्न साइट पोस्ट के खिलाफ ही इस टेक-सेवी देश में महिलाएं प्रदर्शन कर रही हैं।
यह तो इस देश की बात है। लेकिन आप इससे सतर्क हो सकती हैं। क्योंकि टेक्नोलॉजी कहीं भी पहुंच सकती है, खासकर तो गलत काम करने में किसी को डर नहीं लगता है।

Don't Miss! random posts ..