ENG | HINDI

इंजीनियरों से ज्‍यादा तो डिलीवरी ब्‍वॉय ही कर रहे हैं कमाई

डिलीवरी ब्‍वॉय

डिलीवरी ब्‍वॉय – अब मार्केट में फूड डिलीवर करने वाली कई बड़ी कंपनियां उतर चुकी हैं।

ऐसे में कस्‍टमर के घर तेजी से ऑर्डर पहुंचाने की होड़ बढ़ गई है। जोमैटो, स्विगी और उबर ईट्स जैसे फूड एग्रिगेटर प्‍लेटफॉर्म्‍स पर डिलीवरी एग्‍जक्‍यूटिव्‍स की कमाई ढाई गुना बढ़ गई है। आपको जानकर हैरानी होगी कि पहले कभी 18 से 20 हज़ार रुपए कमाने वाले डिलीवरी ब्‍वॉय आज 40 से 50 हजार रुपए कमा रहे हैं।

डिलीवरी ब्‍वॉय –

डिलीवरी ब्‍वॉय की बढ़ा दी सैलरी

खबरों की मानें तो फूड डिलीवर करने वाली इन कंपनियों ने डिलीवरी बॉय की सैलरी में 60 पर्सेंट तक इजाफा किया है। तकरीबन एक दर्जन डिलीवरी ब्‍वॉएज़ से बात करने पर पता चला कि जमैटो और स्विगी ने अपने डिलीवरी बॉएज़ की पेमेंट में पिछले 3-4 महीनों के दौरान 60 से 120 पर्सेंट की बढ़ोत्तरी की है। पीक ऑवर और बारिश में फूड डिलीवर करने पर इंसेटिव्‍स भी दिए जा रहे हैं।

फ्लिपकार्ट पर पड़ा असर

फिल्‍पकार्ट, अमेजॉन और बिग बास्‍केट जैसी ई कॉमर्स वेबसाइट के डिलीवरी बॉएज़ पर भी इन फूड डिलीवरी कंपनियों का असर पड़ा है। अब उन्‍हें भी महीने में 16 से 18 हज़ार की सैलरी के साथ इंसेटिव भी मिलने लगा है। बाइक से ऑर्डर ले जाने वाले डिलीवरी ब्‍वॉय को फूड एग्रिगेटर्स बहुत ज्‍यादा सपोर्ट कर रहे हैं।

अब फ्लिपकार्ट, एमेजॉन और बिग बास्‍केट जैसी बड़ी कंपनियों के डिलीवरी ब्‍वॉएज़ दूसरी कपंनियों के पास जाने लगे हैं जहां उन्‍हें बढिया सैलरी मिलती है। स्विगी और जोमैटो दोनों ही अपने डिलीवरी सिस्‍टम को बेहतर बनाने में लगे हुए हैं। जनवरी में स्विगी के पास तकरीबन 30 हजार डिलीवरी ब्‍वॉएज़ थे और अब इनकी संख्‍या बढ़कर 55 हजार हो गई है। वहीं जोमैटो की बात करें जनवरी में यहां सिर्फ 1800 डिलीवरी एग्‍जीक्‍यूटिव्‍स थे जोकि अब बढ़कर 50 हज़ार तक पहुंच गए हैं।

डिलीवरी ब्‍वॉय – डिलीवरी पार्टनर

जोमैटो कंपनी का कहना है कि अभी उनके पास 50 हजार से भी ज्‍यादा डिलीवरी पार्टनर हैं। साल के आखिर तक इस संख्‍या के 60 प्रतिशत बढ़ने की उम्‍मीद है। हालांकि, जोमैटो ने ये खुलासा नहीं किया है कि वो अपने डिलीवरी ब्‍वॉएज़ को कितनी सैलरी देती है।

इस फील्‍ड में स्विगी अपने पैर पसारने की सोच रही है। अगले 6 से 9 महीनों में एक लाख डिलीवरी ब्‍वॉएज़ तक पहुंचने की उसे उम्‍मीद है। बैंगलोर, हैदराबाद, पुणे और दिल्‍ली के इलाकों में स्विगी और जोमैटो के लिए खाना डिलीवर करने पर इन्‍हें 80-120 रुपए इंसेटिव भी मिलता है। पहले इन जगहों पर 40 से 50 रुपए मिला करते थे लेकिन अब इसे बढ़ाकर दोगुना कर दिया गया है।

अब तो आप समझ गए ना कि आपके घर खाना लाने वाले डिलीवरी ब्‍वॉएज़ कितना कमा लेते हैं। इतनी सैलरी तो आजकल पढ़े-लिखे लोगों को भी नहीं मिल पाती है। खैर, अगर ये फूड डिलीवर करने वाली कंपनियां इन्‍हें इतनी सैलरी दे रही हैं तो बहुत बढिया बात है क्‍योंकि ये लोग मेहनत भी बहुत करते हैं।

डिलीवरी ब्‍वॉय – बारिश हो या तपती हुई धूप, ये डिलीवरी ब्‍वॉएज़ आपके घर पर आपकी पसंद का खाना पहुंचा ही देते हैं। यहां तक कि आधी रात को भी इन फूड कंपनियों द्वारा खाना डिलीवरी किया जाता है।

Don't Miss! random posts ..