ENG | HINDI

रोटी या चावल, दोनो में से क्या है ज्यादा फायदेमंद?

गेहूं से बनी रोटियां बेहतर हैं या चावल

गेहूं से बनी रोटियां बेहतर हैं या चावल – हमारे देश में दो ऐसे अनाज हैं जिन्हें सबसे ज्यादा खाने में पसंद किया जाता है. एक है गेहूं से बनी रोटी तो दूसरा है चावल.

ये रोटी और चावल ही हमारे देश में शुरूआत से लेकर आजतक बेहद महत्वपूर्ण भोजन रहे हैं और इन दोनों को लेकर सदियों से हमारे यहां एक बहस चली आ रही है.

इन दोनों अनाजों में कौन सबसे ज्यादा बेहतर है और कौन हमारे स्वास्थ्य के लिए ज्यादा लाभदायक, इस बात पर खूब चर्चा होती है.

आज हम इसी बात पर चर्चा करने जा रहे हैं कि आखिर गेहूं से बनी रोटियां बेहतर हैं या चावल,

तो आइए जानते हैं गेहूं से बनी रोटियां बेहतर हैं या चावल  –

पहले तो आपको बता देंकि इनका इस्तेमाल कहां-कहां होता है –

गेहूं से बनी रोटियां बेहतर हैं या चावल

इन दोनों अनाजों को आप दिन के नाश्ते में खा सकते हैं, दिन के समय लंच में और रात को डिनर में भी खा सकते हैं. आप गेहूं की रोटियां किसी भी सब्जी के साथ खा सकते हैं तो चावल भी आपको हर किसी के साथ पसंद आएंगें. लेकिन अब बात आती है इनके फायदे और नुकसान की. आपको बता दें कि इन दोनों ही अनाज के कोई नुकसान नही हैं. यह केवल हमारे शरीर को लाभ ही पहुंचाते हैं. मगर सवाल अभी भी वहीं का वहीं है कि कौन-सा अनाज ज्यादा बेहतर है.

चावल की तुलना में गेहूं से बनी रोटियों का इस्तेमाल करने से हमे ढेर सारी उर्जा मिलती है और इनमें फैट की मात्रा कम होने की वजह से हमें हृदय संबंधी समस्या और डायबिटीज़ जैसी गंभीर समस्या होने की संभावना भी कम रहती है.

चावल और रोटी दोनों ही कार्बोहाइड्रेट लेवल और कैलोरी लेवल में एक समान रहता है, ये दोनों अनाज केवल अपने न्यूट्रीशनल वैल्‍यू को लेकर ही एक दूसरे से भिन्न हैं.

तो आइए आपको बताते हैं कि कैसे ये दोनो एक दूसरे से अलग हैं –

चावल में फाइबर नहीं होता वहीं दूसरी ओर रोटी में फाइबर होता है

गेहूं से बनी रोटियां बेहतर हैं या चावल

सफेद और पॉलिश चावल में फाइबर जोकि चावल की भूसी और चोकर में होता है उसे उसमें से निकाल दिया जाता है जिसके कारण चावल में मौजूद ज्यादातर माइक्रोन्यूट्रीयेंट्स जैसे विटामिन और मिनरल्स बाहर निकल जाते हैं.

वहीं दूसरी ओर गेहूं से बनी रोटियों में बहुत अधिक मात्रा में फाइबर, प्रोटीन और मिनरल्स होते हैं जिसके कारण यह चावल के मुकाबले ज्यादा फायदेमंद होती हैं.

दोनों के पाचन समय में है फर्क

चावल में स्टार्च बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है जिसके कारण यह आसानी से पच जाता है. लेकिन चावल की तुलना में गेहूं से बनी रोटी धीरे-धीरे पचती है और इसी वजह से रोटी खाने से आपको देर तक भूख नहीं लगती है.

दोनों के बीच की अन्य भिन्नताएं–

– चावल की न्यूट्रीशनल वैल्यू कम होती है और रोटी में न्यूट्रीशन बहुत अधिक होता है.

– आपको बता देंकि चावल से आपको कैल्शियम प्राप्त नहीं होता जबकि रोटी से आपको कैल्शियम के अलावा फॉस्फोरस, आयरन और पोटैशियम जैसे मिनरल्स तक मिलते हैं.

– चावल ब्लड शुगर लेवल को तेजी से बढाता है और वहीं दूसरी ओर रोटी डायबिटीज के मरीजों के लिए एक अच्छा विकल्प होती हैं.

गेहूं से बनी रोटियां बेहतर हैं या चावल – दोस्तों अगर हर चीज़ को मद्दे नज़र रखा जाए तो दोनों ही अनाज अपनी-अपनी जगह बेहतर हैं लेकिन अंत में अगर कोई जीतता है तो वो है गेहूं से बनी रोटी क्योंकि इसमें आपको अपने शरीर के लिए जरूरी हर मिनरल प्राप्त हो जाता है और यह आपको चावल के मुकाबले ज्यादा शक्ति प्रदान करती हैं.

Don't Miss! random posts ..