ENG | HINDI

सेहत के लिए क्या है बेस्ट रोटी या चावल ?

रोटी या चावल

भारतीय सुबह से रात तक के भोजन में रोटी व चावल बहुत खाना पसंद करते हैं।

हालांकि चावल व रोटी का आनंद लेते समय अक्सर भारतीय ये प्रश्न करते हैं कि रोटी या चावल में क्या खाना अधिक सेहतमंद हैं। क्योंकि रोटी व चावल की अलग-अलग क्वालिटी हैं। जिससे सेहत को अलग-अलग लाभ मिलते हैं अगर आप भी रोटी व चावल की उलझन में हैं तो यहां आप जान पायेगें कि अच्छे स्वास्थ्य के लिये आपको चावल को ज्या दा अहमियत देनी चाहिये या फिर रोटी को?

डायटिंग कर रहे हैं तो चावल से दूरी बनाएं

चावल आसानी से पच जाता है क्योंकि इसमें स्टार्च की मात्रा होती है हालांकि भोजन के जल्दी पाचन से भूख जल्दी लगती है फिर हम असमय कुछ भी खा लेते हैं। जोकि सेहत के लिए उपयुक्त नहीं है और डायटिंग कर रहे लोगों को चावल से दूर रहना चाहिए क्योंकि चावल से शरीर में फैट बढ़ाता है। हालांकि रोटी से नहीं। इस वजह से चावल से दूरी बना कर रखें।

रोटी या चावल में पोषक तत्वों में क्या है बेस्ट

रोटी में कैल्शियम, फॉस्फोारस, आयरन और पोटेशियम जैसे मिनरल्स पाये जाते हैं। हालांकि चावल में हमें रोटी जितना ही आयरन मिलता है। लेकिन चावल में फॉस्फोचरस, पोटेशियम और मैग्नीहशियम की मात्रा रोटी के मुकाबले कम होती है। चावल में कैल्शियम नहीं होता। रोटी में चावल के मुकाबले ज्यारदा फाइबर, प्रोटीन, माइक्रोन्यू ट्रि एंट्स और सोडियम मिलता है। चावल में सोडियम नहीं होता। तो पोषक तत्वों में रोटी चावल से बेस्ट है।

डायबटीज लेवल के लिए- रोटी या चावल ?

रोटी या चावल, दोनों में ग्लाइसेमिक इंडेक्स एक सा होता है।

यानी दोनों को खाने से ब्लमड शुगर का लेवल एक जैसा ही बढ़ता है। मतलब अगर आप खाने की मात्रा पर नियंत्रण रखते हैं तो इससे ज्यादा फर्क नहीं पड़ता कि आप क्याा खाते हैं। अगर आप एक रोटी और एक छोटी कटोरी चावल खाते हैं तो यह पूरी तरह से सही है। इसलिए चावल छोड़ने की जरूरत नहीं है। बस चावल की मात्रा नियंत्रित लें।

इस तरह से चावल और रोटी, दोनों ही सेहत को अलग-अलग तरह से लाभ पहुंचाती है। यह लोगों पर हैं कि वे सेहत के लिए क्या खाना पसंद करेंगे।

Don't Miss! random posts ..