ENG | HINDI

पूर्व दिग्गज कप्तान रिकी पोंटिंग ने कहा – इस महान टीम का बनना चाहता हूं कोच

रिकी पोंटिंग

क्रिकेट इतिहास में अगर किसी खिलाड़ी को अब तक सबसे बेहतरीन बल्लेबाज माना गया है तो वो या तो भारतीय टीम के भगवान माने जाने वाले सचिनतेंदुलकर है या फिर ऑस्ट्रेलियन टीम के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग.

रिकी पोंटिंग ने अपने क्रिकेट करियर में कई विश्व रिकॉर्ड बनाए हैं जिन्हें आज तक कोई खिलाड़ी नहीं तोड़ पाया है.

रिकी पोंटिंग का जन्म 19 दिसंबर 1974 को लॉन्सेस्टॉन ऑस्ट्रेलिया में हुआ था. उन्होंने पहला डेब्यू मैच सन 195 में श्री लंका के खिलाफ़ खेला था. रिकी पोंटिंग के करियर की सबसे बड़ी अवधि कोई रही है तो वो है उनकी केप्टंशिप में ऑस्ट्रेलिया का दो बार विश्व कप जीतना. और ऐसा करने वाले वह क्रिकेट इतिहास के चुनिंदा कप्तानों में से एक हैं. बहरहाल रिकी पोंटिंग ने अपने क्रिकेट करियर से साल 2012 में सन्यास ले लिया था. लेकिन अब वह एक बार फिर क्रिकेट मैदान पर कदम रखने की सोच रहे हैं मगर इस बार एक खिलाड़ी की तरह नहीं एक कोच की तरह पोंटिंग इस टीम कोच करनाअ चाहते हैं.

पूर्व दिग्गज कप्तान

हाल ही में रिकी पोंटिंग ने अपने एक इंट्रव्यू में बताया की वह दुनिया की किस महान टीम के कोच बनना चाहते हैं और क्यों.

तो आइए जानते हैं रिकी पोंटिंग के इस बयान के बारे में –

रिकी पोंटिंग ने बताया की वह सीए से छोटे फॉर्मेट में कोचिंग को लेकर चर्चा कर रहे हैं. उन्होंने अपने इंटरव्यू में कहा “मैं ऑन रिकॉर्ड कह रहा हूँ कि अगर मेरे पास मौका आता है और सभी चीजें सही रहती हैं तो मैं ऑस्ट्रेलिया की टी-20 टीम का कोच बनना चाहता हूँ.” इसके आगे पोंटिंग का कहना है की वह सीए के उपर कुछ ऐसी चीजें छोड़ रहे हैं जिन पर उनके मोहर लगने के बाद ही वह अपना निर्णय लेंगे.

पूर्व दिग्गज कप्तान

रिकी पोंटिंग ने बताया की टेस्ट क्रिकेट में भले ही ऑस्ट्रेलियाई टीम का कोई मुकाबला नहीं है लेकिन टी-20 जैसे फॉर्मेट में अभी-भी टीम काफी कमजोर है. कुछ ही समय में ऑस्ट्रेलिया में बहुत बड़ी चैंपियनशिप खेली जाएगी जिसमें ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम इस काम को अंजाम देना चाहती है और टी-20 में खुद को और बेहतर करने की सोच रही है.

आपको बता दे की रिकी पोंटिंग पहले से ही ऑस्ट्रेलियन टीम को कोचिंग दे रहे हैं. हाल ही में ऑस्ट्रेलिया के श्री लंका के खिलाफ़ हुए तीन मैचों की टी-20 मैचों की सीरीज के लिए टीम को पोंटिंग ने ही कोचिंग दी है. फिलहाल 43 वर्षीय पोंटिंग फरवरी-मार्च में चल रहे इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के खिलाफ खेली जा रही ट्राईसीरीज में हेड कोच डैरेनलैहमन के सहायक कोच की भूमिका निभा रहे हैं. शनिवार को रिकीपोंटिंग को ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड द्वारा हॉल ऑफ फेम चुना गया है और उस समय भी पोंटिंग ने कोच बनने की अपनी इच्छा जाहिर की थी.

तो दोस्तो और भिन क्रिकेट और अन्य खेलों से जुड़ी जानकारी पाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को जरूर लाईक करें, और आपको हमारा ये आर्टिकल कैसा लगा हमें कमंटबॉक्स में बताए.

 

Don't Miss! random posts ..