ENG | HINDI

जानिये क्योंं विराट को माना जाता है बेहतरीन बल्लेबाज़ और सचिन को भगवान

सचिन विराट

सचिन विराट – हम सभी यह जानते हैं कि मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर क्रिकेट के भगवान माने जाते हैं जिनको पूरी दुनिया कभी नहीं भुला सकती. सचिन की बैटिंग देखने के लिए लोगों में जो उत्साह रहता था वह किसी और खिलाडी के समय में देखने को कभी नही मिला.

आज भी सचिन के नाम कुछ ऐसे रिकॉर्ड हैं जिन्हें उनकी रिटायरमेंट के बाद भी कोई नहीं तोड़ पाया.

लेकिन आज हम केवल सचिन के बारे में नहीं बल्कि विराट कोहली की भी बात करेंगे जो कि इस जेनरेशन के सबसे बेहतरीन बल्लेबाज़ माने जाते हैं.

आज हम आपको बताएंगे सचिन विराट का अंतर – आज के नम्बर 1 बल्लेबाज़ विराट में और क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर में क्या अंतर है.

तो चलिए जानते हैं कि 29 वर्ष की उम्र में सचिन कहां थे और आज विराट कहां हैं. साथ ही ये भी जानेंगें कि सचिन ने 29 वर्ष की उम्र में कितने शतक लगाए और कितने रन बनाए. इसके अलावा ये भी बात करेंगें कि 29 वर्ष की उम्र में विराट ने कितने शतक और अर्धशतक लगाए.

वैसे तो विराट कई रिकॉर्ड तोड़ चुके हैंऔर उनकी यह उम्‍दा बैटिंग देखकर लोग उनकी कई बार सचिन तेंदुलकर से तुलना करते हैं.

सचिन विराट का अंतर

विराट – 29 साल की उम्र तक

विराट ने 60 टेस्ट और 194 वनडे मैच खेले.

विराट ने अपने 60 टेस्ट मैच में 4658 रन बनाए जिसमें 17 शतक और 14 अर्धशतक शामिल हैं.

वनडे क्रिकेट की बात करें तो विराट ने 194 मैच में 8587 रन बनाए हैं जिनमें 30 शतक और 44 अर्धशतक मौजूद हैं.

अब बात करते हैं मास्टर बलास्टर सचिन की –

29 साल की उम्र तक सचिन ने 105 टेस्ट मैच व 314 वनडे खेले हैं.

अपने टेस्ट मैच में उन्होंने 8811 रन बनाए जिसमें 31 शतक और 55 अर्धशतक भी शामिल हैं.

वहीं दूसरी ओर वनडे क्रिकेट की बात करें तो सचिन का वहां भी कोई जवाब नहीं है. उन्होंने 314 वनडे मैच में 34 शतक और 62 अर्धशतक के साथ 12219 रन बनाए.

ये है सचिन विराट का फर्क – यह जानकारी पढ़ कर आपको यह तो पता लग ही गया होगा कि क्यों सचिन को क्रिकेट का भगवान कहा जाता है और विराट को इस सदी का नया सचिन तेंदुलकर.

Don't Miss! random posts ..