ENG | HINDI

क्या गंजेपन का पैसों से कुछ लेना देना है?

गंजेपन का पैसे से लेना देना

गंजेपन का पैसे से लेना देना – गंजापन आजकल की समस्या नहीं है बल्कि सदियों पहले भी लोग गंजेपन का शिकार होते रहे है.

रोम के राजा जुलियस सीजर ने अपने गंजेपन को दूर करने के लिए कई जतन किये थे लेकिन उन्हें कोई फायदा नहीं हुआ था.

एक बार जब जुलियस मिस्र की राजकुमारी क्लियोपेट्रा से मिले तो वे पूरी तरह से गंजे थे. तब उन्हें क्लियोपेट्रा ने गंजापन दूर करने का एक घरेलू नुस्खा बताया था, लेकिन अफ़सोस ये नुस्खा भी राजा जुलियस के काम ना आ सका और वे ताउम्र गंजे ही रहे.

हालाँकि समय के साथ जैसे-जैसे मेडिकल साइंस ने तरक्की की गंजेपन के कई ईलाज भी खोज लिए गए. लेकिन गंजेपन को लेकर लोगों से आज भी कई भ्रांतियां सुनने को मिलती है. आपने भी किसी से सुना ही होगा कि…

गंजेपन का पैसे से लेना देना –

‘गंजे लोग पैसे वाले होते है’,

‘जो लोग गंजे होने लगते है वो धीरे-धीरे अमीर होने लगते है’,

‘जिसके सिर पर चाँद पड़ जाती है उसके पास धन आने लगता है’

गंजेपन का पैसे से लेना देना

… जैसी कई बातें आपने सुनी ही होगी लेकिन क्या ये बातें सही है या फिर ये महज भ्रांतियां और अफवाहें ही है और इनका सच्चाई से कुछ लेना देना नहीं है. ये जानने के लिए नीचे पढ़ते है.

गंजेपन का पैसे से लेना देना

तो आइये जानते है गंजेपन का पैसे से लेना देना है या नहीं- 

गंजेपन का कारण हार्मोनल होता है, इसके अलावा शरीर में पोषक तत्वों की कमी से भी बाल झड़ने लगते है और गंजापन आ जाता है, किसी बीमारी की वजह से भी गंजापन आ जाता है, स्ट्रेस में भी लोगों के बाल झड़ने लगते है.

गंजेपन का पैसे से लेना देना

लेकिन गंजेपन का पैसे से लेना देना कैसे हो सकता है ?

इसका कोई सटीक कारण नहीं है क्योंकि ये पूरी तरह से निराधार है कि पैसे आने से बाल झड़ने लगते है और गंजापन आ जाता है.

हालाँकि इसके पीछे एक तर्क ये हो सकता है कि जब व्यक्ति अपने काम-धंधे में पूरी तरह से लग जाता है तब वह अपनी सेहत और खान-पान का ध्यान नहीं रख पाता है. उसकी दिनचर्या अनियमित हो जाती है और कई बार उसे स्ट्रेस का भी सामना करना पड़ता है जिससे उसके हार्मोन में भी बदलाव आता है जिससे उसके बाल झड़ने लगते है और नतीजा ये निकलता है कि वो गंजा होने लगता है. जब कोई व्यक्ति अपने आप को भुलाकर अपने काम-धंधे या बिजनेस में पूरी तरह से लग जाता है तो उसे उस काम में निश्चित ही सफलता मिलती है जिसका नतीजा ये होता है कि उसके पास पैसे आने लगते है. और लोग कहने लगते है कि गंजा होने की वजह से उसके पास पैसे आने लगे है, लेकिन ये सिर्फ एक तरह की कल्पना ही है कि ऐसा हो सकता है बाकी इसका वास्तविकता से कोई लेना देना नहीं है.

गंजेपन का पैसे से लेना देना

लेकिन आपको बता दें कि दुनिया में कई बड़े और सफल लोग हुए है जिनके सिर पर बाल नहीं थे उनमें सुकरात, नेपोलियन, अरस्तु, गाँधी, चार्ल्स डार्विन, विंस्टन चर्चिल और शेक्सपियर जैसी बड़ी हस्तियाँ आती है जो अपनी जिंदगी में बालों की खूबसूरती से महरूम ही रही.

शायद इन महान और सफल लोगों की वजह से भी पूर्व में कभी गंजेपन को सफलता से जोड़कर देखा गया हो, इसलिए लोग कहते है कि गंजेपन का पैसे से लेना देना नहीं है.

Don't Miss! random posts ..