ENG | HINDI

प्रियंका चोपड़ा की दर्द भरी दास्तां, हॉलीवुड में हुई रंगभेद का शिकार और..

रंगभेद का शिकार

रंगभेद का शिकार – हॉलीवुड में जाने का सपना तो हर कोई देखता है लेकिन कोई ये नहीं जानता की इस ग्लेमर से भरी दुनिया में आपको रंग और नस्लवाद से जुझना पड़ सकता है.

हॉलीवुड में ये प्रथा बहुत पुरानी चली आ रही है, कि काले रंगो के कलाकारों को गोरे रंग वालो से हमेशा पीछे रखा जाता है.

इस बात का बहुत बड़ा उदाहरण है हॉलीवुड की फिल्मे जिनमें ज्यादा तर लीडरोल केवल गोरे एक्ट्रस को ही मिलता है. इस रंगभेद का शिकार आज तक कई बड़ी हस्तियां हो चुकी हैं और इस लिस्ट में अब एक नाम बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रियंका चोपडा का भी जुड चुका है. प्रियंका हॉलीवुड में रंगभेद का शिकार हुई है. पिछले कुछ समय से प्रियंका बॉलीवुड छोड हॉलीवुड में अपना ज्यादा समय बिता रही हैं.

प्रियंका बॉलीवुड की और दक्षिण एशिया की हॉलीवुड में लीडरोल पाने वाली पहली अभिनेत्री हैं.

हाल में प्रियंका ने एक साक्षात्कार में हॉलीवुड में रंगभेद की भावना का सच बताया. प्रियंका ने बताया की कैसे उन्हें हॉलीवुड में रंगभेद का शिकार होना पड़ा.

 रंगभेद का शिकार –

हॉलीवुड फिल्म से निकाल दिया गया

प्रियंका ने अपने एक अंतरराष्ट्रीय इंटरव्यू में बताया की वह किस तरह रंगभेद का शिकार हुई और उन्हें हॉलीवुड कि एक फिल्म तक से निकाल दिया गया. उन्होंने बताया कि यह बात पिछले वर्ष की है. जिस समय वह फिल्म की शूटिंग के लिए कही बाहर गई हुई थी. तो उनकी गैर मौजूदगी में उनकी सभी कॉल्स और ऑडीशंस की देख रेख का जिम्मा उनके मैनेजर का था. इसी दौरान एक स्टूडियो से उनके मैनेजर को कॉल आता है जो उनसे कहते हैं कि प्रियंका की फिजिकैलिटी के कारण उन्हें इस फिल्म में कास्ट नहीं किया जा सकता.

रंगभेद का शिकार

फिजिकैलेटी का अर्थ था रंग

जिस स्टूडियो से प्रियंका के मैनेजर को कॉल आया उन्होंने बेहद ही तेजी से बीना रंगभेद जैसे शब्द का इस्तेमाल करें इसे फिजिकैलेटी का नाम दे दिया. इस बात का खुलासा तब हुआ जब प्रियंका ने अपने मैनेजर से इस मामले को समझने के लिए कहा, तब जा के उन्हें पता चला की इस शब्द का मतलब त्वचा के रंग को लेकर था. प्रियंका ने कहा कि फिल्म निर्माता ये नहीं चाहते थे कि उनकी फिल्म में कोई ब्राउनस्किन का हो.

रंगभेद का शिकार

सोच को बदलने की है जरूरत

प्रियंका इस बात पर इतनी ज्यादा नाराज थी कि उनका कहना था की हॉलीवुड को लोग दुनिया भर में देखते हैं जिसके कारण अगर रंगभेद हॉलीवुड में होता है तो वह दुनिया में भी मौजूद है. जिसे मिटाने के लिए लोगों की सोच को बदलना होगा और यह और कोई नहीं बल्कि उन्हें खुद ऐसा करना पडेगा. साथ ही हॉलीवुड में लोगों को अपनी समझ और व्यवहार का भी विकास करना होगा. प्रियंका ने पुरुष और महिला कलाकारों के बीच बराबर भुगतान ना होने का मामला भी उठाया, कि किस तरह पुरुषों को फिल्मो  में काम करने के पैसे महिलाओं के मुकाबले अधिक क्यों मिलते हैं? इस विषय में भी सभी को सोचना चाहिए. देखा जाए तो लिंगभेद तक की शिकार है हॉलीवुडएक्ट्रेसिस.

रंगभेद का शिकार

इस तरह से रंगभेद का शिकार हुयी बॉलीवुड अभिनेत्री प्रियंका चोपरा – आपको जान कर शायद हैरानी हो लेकिन प्रियंका से पहले शिल्पा शेटी भी हॉलीवुड में नस्लभेद का शिकार हो चुकी हैं.

Don't Miss! random posts ..