ENG | HINDI

अपनी एक गलती से सीखते हैं आप ये 5 नई चीजें

गलती करना

गलती करना – हम सभी अपनी लाइफ में गलतिया करते आए हैं, हम में से कोई भी अपनी जिंदगी में परफेक्ट नहीं होता है.

और यही गलतिया कई बार हमें ऐसी सीख दे जाती हैं जो हमारे लिए गलती नहीं बल्कि एक पाठ बन जाती हैं.

आदमी हो या औरत हम सभी को अपनी गलतियों से कुछ ना कुछ सीखने को जरूर प्राप्त होता है लेकिन अब वो हम पर है कि हम उसे नकारात्मक रुप से लेते हैं या सकारात्मक से. यदि आप ने आज हमारे इस लेख से अपनी गलतियों को सकारात्मक रूप से लेना सीख लिया तो यकीन मानिये आपको सफलताओं की सीढ़ियों पर चढ़ने से कोई नहीं रोक पाएगा.

बता दे की गलती करना एक बात है और उसे दोहराना दूसरी ! पहली गलती से हम बहुत कुछ सीखते हैं लेकिन यदि हम उसी गलती को दोहराते रहे तो उसे नासमझी कहा जाता है. ठीक उसी तरह आज हम आपको कुछ ऐसी बाते बताने जा रहे हैं जिनके जरिए आप अपनी गलतियों को समझेंगे और उनसे काफी फायदेमंद बाते सीखेंगे.

गलती करना –

गलती करना

१ – गलतियों से मिलती हैं ये सीख

माना जाता है कि गलती इंसान का सबसे बड़ा शिक्षक होता है. इंसान अपनी गलतियों से बहुत कुछ सीखता है और आगे बढ़ता चला जाता है. ये गलतियां ही तो हमें सफलता के मुकाम तक ले जाती हैं. अगर हम इनसे कुछ ना सीखें तो सारी जिंदगी एक ही जगह सर मारते रहेंगे. वास्तव में देखा जाए तो यह गलतियां ही हैं जिनसे आपका तजुर्बा बढ़ता है.

२ – गलती करना भी एक काम है

गलतियां करने का मतलब ये नहीं है कि आप नकारा हैं बल्कि गलतियां करना भी एक कार्य ही है जिसे आप जितनी जल्दी समझेंगे उतनी ही जल्दी आप अपनी मंजिल तक पहुंच पाएंगें. इसलिए गलती करने पर आपको बुरा नहीं मानना चाहिए, बल्कि उससे सबक लेकर अपने काम में सुधार करना चाहिए.

३ – गलतियों से बन सकते हैं समझदार

एसोसिएशन फॉर साइकोलॉजिकल की मानें तो गलतियां आपके दिमाग को तेज बनाती हैं और समझदारी विकसित करने में मदद करती हैं. संतुलित मस्तिष्क वाले लोगों की गलती करने की क्षमता कम होती है और इसी कारण इनमें चालाकी भी कम पाई जाती है.

४ – कभी-कभी फायदा भी मिलता है

कई गलतियां ऐसी भी होती हैं जिन से आपको या किसी और को फायदा पहुंचता हैं. और ऐसी गलतियां आपके जीवन में एक मीठी याद की तरह रह जाती हैं, जिन्हें आप अपने बुढापे में अपने पोता-पोती को सुनाना पसंद करेंगें.

५ – आता है दयालु बनने का गुण

गलतियां सभी करते हैं. इसी कारण अगर कभी आपने कोई गलती की हो और उसके बाद आपके सामने कोई वही गलती दोहराए तो आप उसका दर्द समझ सकते हैं और यही एक खूबी आपको दयालु बनाती है.

गलती करना

गलती करना – तो दोस्तों जिंदगी में कभी-भी अपनी गलतियों को नजर अंदाज ना करें क्योंकि हम अपनी सफलताओं से ज्यादा अपनी गलतियों से सीखते और आगे बढ़ते हैं. अब यदि आगे चल के आप कभी भी कोई गलती करें तो उसके बारे में सकारात्मक रूप से सोचे और समझे की आप उस गलती से कितनी फायदेमंद बाते सीखे हैं.

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..