ENG | HINDI

इस गजब की यूनिवर्सिटी में छात्रों को सिखाया जाता है फेल होना !

यूनिवर्सिटी में छात्रों को सिखाया जाता है फेल होना

यूनिवर्सिटी में छात्रों को सिखाया जाता है फेल होना – हर कोई कॉलेज इसलिए पढ़ने जाता है ताकि वो आगे चलकर कामयाब बन सके, अच्छी नौकरी कर सके और अपने लिए एक बेहतर भविष्य पा सके लेकिन एक कॉलेज बिलकुल इसके उलट कर रहा है।

आज हम एक ऐसे कॉलेज के बारे में बताने जा रहे हैं जो अपने छात्रों को एक उज्‍जवल भविष्य देने की बजाय उन्हें फेल होना सिखा रहा है।

यूनिवर्सिटी में छात्रों को सिखाया जाता है फेल होना –

स्मिथ कॉलेज अमेरिका की यूनिवर्सिटी मैसाच्यूसेट के साथ मिलकर एक खास प्रोग्राम चला रहा है।

इस कोर्स के तहत अपने छात्रों फेल होने के बाद आगे बढ़ने के तरीकों के बारे में बताया जाता है और कैसे नाकामयाबी से बाहर निकल कर एक बेहतर इंसान बना जाए। कॉलेज में छात्रों को खासतौर पर बताया जाता है कि फेल होने के क्या फायदे हैं और आखिर फेल होने पर कैसे आगे बढ़ सकते हैं।

स्मिथ कॉलेज का ये नया कोर्स ‘फेलिंग वेल’ के नाम से दुनियाभर में चर्चा का विषय बना हुआ हैं।

कॉलेज इस कोर्स को दुनियाभर से आए असफल छात्रों के लिए चलाता है। इस प्रोग्राम के अनुसार हर छात्र बारी-बारी से अपनी असफलता की कहानी सुनाते हैं, जिसके बाद उनके टीचर्स उन्हें बताते हैं कि आखिर कैसे उन्‍हें इस सिचुएशन को हैंडल करना है और अपनी असफलता को किस तरह से भुलाना है या अपनी पुरानी गलतियों को किसत तरह सुधारना है और कैसे अपने आने वाले भविष्य की ओर ध्यान लगाना है।

इस कोर्स में दाखिला लेना बेहद असान है।

इस कोर्स में एडमिशन लेने वाले छात्र किसी भी रिश्ते, क्लास, स्पोर्ट्स, एग्जाम, दोस्ती या फिर किसी भी एक्टिविटी में फेल हो चुके होते हैं। बस अगर आप भी ऐसी ही किसी चीज़ में फेल हुए हैं तो आपको इस कोर्स में एडमिश्न मिल जाएगा और बाकायदा कॉलेज आपको फेलियर सर्टिफिकेट भी देगा।

अगर आप भी सीखना चाहते हैं कि लाइफ में कैसे असफलता को हैंडल करते हैं तो आप भी दाखिला ले सकते हैं स्मिथ कॉलेज के इस फेलियर वेल कोर्स में।

Don't Miss! random posts ..