ENG | HINDI

बिहार की गूगल गर्ल जिसकी सलाना कमाई जान उड़ जाएंगे होश

मधुमिता कुमार

मधुमिता कुमार बिहार की गूगल गर्ल – आप 25 साल में ज्यादा से ज्यादा कितनी सैलरी पैकेज की डिमांड कर सकते हैं, शायद 1 लाख, 2 लाख ज्यादा से ज्यादा 5 लाख ।

पर आप क्या यकीनन कर पाएंगे कि बिहार की एक लड़की मधुमिता कुमार को गूगल की तरफ से 9 लाख प्रति माह की सैलरी ऑफर हुई है ।

यानी कि गूगल मधुमिता को एक करोड़ आठ लाख का सालाना पैकेज देगा । यकीन करना मुश्किल है लेकिन कहते है हैना जज्बे और हुनर से पूरी दुनिया को मुठी में किया जा सकता है, ऐसा ही कुछ मधुमिता कुमार ने भी कर दिखाया है । मधुमिता ने गूगल का ये ऑफर एक्सपेट कर लिया है और वो जल्द गूगल के स्विजरलैंड वाले ऑफिस में टेक्निकल सोल्युशन इंजीनियर के तौर पर ज्वाइन भी करने वाली है ।

मधुमिता के परिवार के मुताबिक मधुमिता को एमजॉन, माइक्रोसॉफ्ट और मर्सिडीज  जैसी कंपिनयों से भी ऑफर मिल चुका है ।

25 साल की मधुमिता गूगल से पहले बेंगलरु की एपीजी कंपनी में काम कर चुकी है । मधुमिता के गूगल में ज्वाइन करने से उनका परिवार बहुत खुश है और इसका जश्न मना रहा है ।  मधुमिता को इतनी बड़ी कामयाबी मिल जाने से मधुमिता के परिवार की पूरे बिहार में वाह- वाही हो रही है और हर कोई उन्हें बधाइयां दे रहा है ।

आईएएस बनना चाहती थी मधुमिता कुमार

मधुमिता स्कूल के दिनों एक ब्राइट स्टूडेंट थी, फिजिक्स और मैथ में मधुमिता की खासा दिलचस्पी थी । जिस वजह से ही शायद वो आज एक कामयाब कम्प्यूटर साइंटिस है,  लेकिन स्कूल के दिनों में मधुमिता अपना करियर आईएएस के तौर पर बनना चाहती थी । लेकिन बारंवी पास करने तक उनकी दिलचस्पी इंजीनियरिंग में बढ़ने लगी थी । जिसके बाद उन्होनें अपने पिता से इंजीनियरिंग में पढ़ाई करने की इच्छा जताई । लेकिन मधुमिता के 12वीं केवल 86 प्रतिशत मार्क्स आए थे जिसे किसी बड़ी इंजीनियरिंग संस्था में एडमिशन मिलना आसान नहीं था ।साथ ही उनके पिता भी इस कोर्स को कराने में रुचि नहीं ले रहे थे

मधुमिता कुमार

 इंजीनियरिंग नहीं कराना चाहते थे मधुमिता के पिता

आज भले ही मधुमिता को गूगल की तरफ से 9 लाख प्रति माह सैलरी मिल रही हो और उनके पिता और परिवार इसे बहुत खुश भी हो, लेकिन एक वक्त ऐसा भी था जब मधुमिता के पिता उन्हें इंजीनियरिंग कराने के लिए तैयार ही नहीं थी । मधुमिता के पिता के अनुसार पहले उन्हें लगता था कि इंजीनियरिंग में लड़कियों का भविष्य बना मुश्किल है लेकिन जब उन्होनें दूसरी लड़कियों को इंजीनियरिंग की फील्ड में अच्छा करते हुए देखा तो वो मधुमित को इंजीनियरिंग कराने के लिए मान गए । मधुमिता ने जयपुर के आर्या कॉलजे ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नॉली से कंप्यूटर साइंस में इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है ।

अब्दुल कलाम है मधुमिता के आइडल

मधुमिता के परिवार के मुताबिक उनके परिवार से इसे पहले कभी कोई विदेश नहीं गया । मधुमिता को दूर विदेश में अगर किसी से प्रेरणा और हिम्मत मिली तो वो है भारत के पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम ।  मधुमिता को एपीजे अब्दुल कलाम की लिखी किताबें, बायोग्राफी और कोट्स पढ़ाना बहुत पसंद है । ये उन्हें आगे बढ़ने की प्ररेणा देते है ।

मधुमिता कुमार

क्या मधुमिता बिहार की पहली इंजीनियर है जिसे इतना बड़ा पैकेज मिला है ।

बिहार की किसी महिला इंजीनियर मधुमिता कुमार को 1 करोड़ 8 लाख का इतना बड़ा पैकेज पहली बार मिला है, हालांकि पुरुषों में बिहार के  वात्सल सिंह को माइक्रोसॉफ्ट की तरफ से 1 करोड़ 20 लाख का पैकेज मिल चुका है, जो आईआईटी खड़गपुर के छात्र थे ।

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...

Don't Miss! random posts ..