ENG | HINDI

किस्सा – जब इजराइल ने अकेले ही सारे अरब देशों को चटा दी धुल।

इजरायल देश

इजरायल देश – इस दुनिया में कई शक्तिशाली देश जिनमें अमेरिका,रूस, चीन, ब्रिटेन, भारत इत्यादि शामिल है.

लेकिन आपको बता दें कि ऐसे बहुत सारे देश हैं जिन्होंने परतंत्रता की जंजीरों को तोड़ते हुए स्वतंत्रता को अपनाया और विश्व पटल पर एक समृद्ध इतिहास लिखा है. इन देशों में शीर्ष स्तर पर शामिल देश हैं- अमेरिका, भारत, इसराइल इत्यादि.

लेकिन इन नामों में जो इजरायल देश है यह कोई साधारण देश नहीं है, यह एक लौता देश है जिसने सारी दुनिया को तब अपनी शक्ति का एहसास कराया जब उसने अकेले ही 6 अरब देशों को युद्ध में मात दे दी. कम सेना होने के बावजूद उसने सारे विश्व को बता दिया कि वह कुछ भी कर सकता है.

इजरायल देश के बारे में तो हम जानते ही होंगे इजरायल एक संपन्न देश है.

इजरायल देश

अभी हाल ही में भारत में हुई मीटिंग के दौरान इजरायल के प्रधानमंत्री ने खुद बताया कि अगर हम विश्व में शांति कायम करना चाहते हैं तो इसके लिए हमें शक्तिशाली होना पड़ेगा क्योंकि जब तक आप शक्तिशाली नहीं बनोगे तब तक लोग आपकी बातों को महत्व नहीं देंगे, जो सही भी है.

आपको बता दें की 1917 के आसपास इजरायल देश पर ब्रिटेन का शासन था. और इसी समय ब्रिटिश विदेश मंत्री ने इजरायल को यहूदियों का देश बनाने की घोषणा की और आखिरकार 1948 में मित्र देशों की सहायता से इजराइल नामक देश यहूदी राष्ट्र की स्थापना हुई.

इजरायल देश

इजरायली पार्लियामेंट के कानून के अनुसार संसार के किसी भी कोने में रहने वाले यहूदी अपनी इच्छा से इजरायल में आकर बस सकते हैं. इस क़ानून का असर इतना ज्यादा हुआ कुछ ही समय में लगभग 8 लाख यहूदी आकर इजरायल में बस गए।

इजरायल की अर्थव्यवस्था के बारे में बात करें तो इज़राइल को आर्थिक और औद्योगिक विकास में दक्षिण पश्चिम एशिया और मध्य पूर्व में सबसे उन्नत देश माना जाता है। इज़राइल की अत्याधुनिक विश्वविद्यालय और गुणवत्ता शिक्षा, देश की उच्च प्रौद्योगिकी उछाल और तेजी से आर्थिक विकास को बढ़ावा देने के लिए ज़िम्मेदार है। सीमित प्राकृतिक संसाधनों के बावजूद, पिछले दशकों में कृषि और औद्योगिक क्षेत्रों के गहन विकास ने अनाज और बीफ के अलावा, इजरायल को खाद्य उत्पादन में काफी हद तक आत्मनिर्भर बना दिया है। 2016 में कुल 57.9 बिलियन अमरीकी डालर का आयात किया गया था, जिसमें कच्चे माल, सैन्य उपकरण, निवेश सामान, कच्चे हीरे, ईंधन, अनाज और उपभोक्ता सामान शामिल हैं। 2016 में, इजरायल का निर्यात 51.61 अरब डॉलर तक पहुंच गया। प्रमुख निर्यात में, मशीनरी और उपकरण, सॉफ्टवेयर, कटे हीरे, कृषि उत्पादों, रसायन और वस्त्र और परिधान शामिल हैं।

इजरायल देश

इसके अलावा इजरायल एक ऐसा देश है जहाँ हिब्रू केलेंडर चलता है, वैसे छुट्टियों यहूदी दिन की उपयोगिता को देखते हुए निर्धारित होती है लेकिन हफ्ते में शनिवार के दिन छुट्टी होती है।

आपको कुछ इजरायली फैक्ट के बारे में बताएं तो इजरायल एक ऐसा देश है जिसका खुद का सेटेलाईट सिस्टम है वह अपना सिस्टम किसी से साझा नहीं करता, इसके अलावा पहला एंटीवायरस भी इजरायल में ही इजाद किया गया था।

इसके अलावा एक यह भी बात भी प्रचलित है कि अगर आप मुस्ल्लिम हो और इजरायल देश के दुश्मन हो तो आपका इस दुनिया में कहीं भी जिन्दा रह पाना नामुमकिन है।

Don't Miss! random posts ..