ENG | HINDI

अगर आप गुस्से पर काबू नहीं रखेंगे तो सलमान खान की तरह पछताना पड़ेगा!

salman-khan

गुस्सा ऐसा भाव है जो १००% लोगों में पाया जाता है.

कोई इंसान इस भाव से अछूता नहीं है, चाहे को कोई महात्मा ही क्यों न हो.

अगर आप गुस्सा प्रकट नहीं करेंगे तो आप को हर कोई हलके में ले लेगा.

इसलिए कुछ लोगों को ऐसा लगता है कि गुस्सा आज के ज़माने में आवश्यक भाव हो गया है.

लेकिन इस में कोई तथ्य नहीं है. गुस्सा अधिक तर नुकसानदेह ही रहता है.

कोई भी चीज जब हद से ज्यादा होती है तो वह हानिकारक हो जाती है.

मिस वर्ल्ड सलमान के हाथों से इसलिए निकल गई थी, क्योंकि उनसे गुस्से में आकर मारा था उसे चाटा.

आज तक उस वाकये को लेकर पछता रहा है सलमान!

गुस्से का नकारात्मक इफेक्ट्स

आज की यूथ अधिक तर इमपेशंट होते है. कोई भी चीज वक़्त पर ना मिली तो उसे पाने के लिए जान लगा देते है, चाहे वो कोई भी छोटी या बड़ी चीज हो. लेकिन उनको वह चीज हासिल करनी होती है.

१.  प्यार में डूबे दिवानो को इतनी गरमी छाई हुई होती है मानो जिससे प्यार हुआ है वह दुनिया की आखरी लड़की है. ऐसे में उस लडकी ने अपनी मंजूरी  नहीं दी तो इनका गुस्सा सातवे आशमान पर आ जाता है. इसका परिणाम हत्या और ऐसिड विक्टिम्स को देख कर लगा सकते है. जिसके परिणाम स्वरुप वह इन्सान सलाखों के पीछे पहुच जाता है. क्या यही प्यार है जिसको आप खुश नहीं देख सकते और इस तरह का कुकृत्य करके हासिल भी क्या करते हो ? जेल की हवा.

pyaarmaidubadeewana

1 2 3 4 5 6

Don't Miss! random posts ..