ENG | HINDI

क्रिकेटर कैसे बनें?

क्रिकेटर

हर किसी का सपना होता है कि वह अपने जीवन में कुछ न कुछ बने तो इसमें कई बच्चों का सपना यह होता है कि वह क्रिकेटर बनकर देश या अपने राज्य और शहर के लिए खेले।

आज क्रिकेट में मुख्य रूप से भारतीय टीम में कई खिलाड़ी ऐसे है जिन्होंने काजी मेहनत करके भारतीय टीम में जगह बनाई है और अच्छा प्रदर्शन करते हुए देश को लगातार नई ऊंचाइयों पर लेकर जा रहे है।

आज हम इस पोस्ट में बात करने वाले है कि आखिर क्रिकेटर कैसे बने, तो चलिए आरम्भ करते है।

ऐसे बनते है क्रिकेटर

बचपन से ही क्रिकेट खेले

अगर किसी को क्रिकेटर बनना है तो उसे बचपन से ही अर्थात शुरुआत से ही क्रिकेट पर ध्यान देना चाहिए। बता दें कि जो भारतीय टीम में खिलाड़ी है वह लगभग सभी बचपन से ही क्रिकेट पर पूरा ध्यान देते आए हैं। इस प्रकार अगर यह सपना पूरा करना है तो स्कूली जीवन से ही क्रिकेट पर पूरा फोकस करते हुए मेहनत और लगन से आगे बढ़ना ही अच्छा रहता है। स्कूल के समय बहुत बार कई छोटे मोटे टूर्नामेंट भी होते है तो उसमें हिस्सा लेना चाहिए इससे काफी अनुभव मिलता है।

फिटनेस पर ध्यान

क्रिकेटर को अपने शरीर पर भी पूरा ध्यान देना चाहिए क्योंकि अच्छा शरीर ही आपको आगे लेकर जाएगा। ऐसा नहीं है कि आप रन बना रहे है और विकेट तो निकाल रहे है लेकिन बॉडी कुछ भी नहीं और दौड़ने में हांफ जाते है तो यह सही नहीं है इस कारण फिटनेश पर पूरा ध्यान देना चाहिए।

स्कूल के अलावा बाहरी टूर्नामेंटों में खेलना

क्रिकेटर बनना जितना आसान लगता है उतना है नहीं क्योंकि जब तक आप अच्छे से मेहनत नहीं करेंगे तब तक आप आगे नहीं बढ़ पाएंगे। इस कारण स्कूल के बाहर होने वाले छोटे या बड़े टूर्नामेंट में भाग लेना और उसमें अच्छा प्रदर्शन करने की हर कोशिश करनी चाहिए ताकि आप रणजी, दिलीप और जिला स्तरीय क्रिकेट टीमों में जगह बना पाएं।

कभी हार न मानें

कई बार देखा जाता है कि सपना साकार करने के चक्कर में बच्चे बीच में ही छोड़ देते है। तो आपको अगर एक क्रिकेटर बनना ही है तो बीच में हिम्मत नहीं हारनी चाहिए क्योंकि मेहनत करने वालों की जीत हमेशा होती ही है।

क्रिकेट अकेडमी

क्रिकेटर बनने के लिए क्रिकेट अकेडमी ज्वाइन करना एक अच्छा विकल्प है। इसमें खिलाड़ियों को काफी बेहतर तरीके से क्रिकेट खेलना सिखाया जाता है। हालांकि कई क्रिकेट लवर पैसों की कमी के कारण अकेडमी नहीं जा पाते है।

क्रिकेटर

जब खुद पर विश्वास हो तब राज्य स्तरीय टीम में खेलने की तैयारी करो

हालांकि कोई ऐसे चाहकर राज्य स्तरीय टीम में नहीं खेल सकता लेकिन जिला स्तरीय क्रिकेट में अगर अच्छी क्रिकेट खेलता है तो उसे अपने राज्य की टीम में बुला दिया जाता है जिसके बाद उसे अपने सपने साकार करने का मौका मिलता है। यहाँ जो भी कोई क्रिकेटर अच्छा खेल जाता है उसको भारत में आईपीएल जैसी लीग तो बाहर के खिलाड़ियों को भी कई ऐसी टी20 लीग में खेलने का मौका मिलता है जिसके चलते ये मुख्य टीमों तक पहुंच जाते है।

इस प्रकार अगर किसी के मन में यह है कि वह अपने देश के लिए क्रिकेट खेलेगा तो उन्हें इन दिए गए बातों पर जरूर गौर करना चाहिए ताकि सपना साकार हो और देश को अच्छा क्रिकेटर मिले।

Article Categories:
खेल

Don't Miss! random posts ..