ENG | HINDI

 हैप्पी वाइफ मतलब हैप्पी लाइफ !

हैप्पी लाइफ

हैप्पी लाइफ – ये टाइटल पढ़कर जहां सारी पत्नियां खुश हो गईं होंगी तो वही पति इसे बस यूं ही समझ रहे होंगे लेकिन असल में ये बात अब स्टडी में साबित हो चुकी है।

जी हां, यूं तो ये बात सालों से कही और सुनी जाती रही है लेकिन अब ये बात सिध्द भी हो चुकी है कि अगर आप खुश रहना चाहते हैं तो सबसे पहले अपनी पत्नी को खुश रखिए और उसके बाद आपकी खुशी निश्चित है।

हैप्पी लाइफ –

हैप्पी लाइफ

वैसे, अगर इस बात को सीधे शब्दों में भी समझा जाएं तो जब आपकी पार्टनर खुश होंगे तो आप अपने आप खुश होंगे इसे इस तरह कहा जा सकता है लेकिन अगर रिसर्च पर गौर फरमाए तो न्यू जर्सी की एक यूनिवर्सिटी में हुई रिसर्च के मुताबिक अगर किसी शादीशुदा पुरूष की पत्नी खुश है तो वो खुश होंगे इस बात के चांसेज़ कईं गुना बढ़ जाते हैं। भले ही वो पुरूष अपनी शादी को सफल ना मानता हो लेकिन अगर उनकी वाइफ खुश है तो वो पुरूष की पूरी ज़िदंगी खुशियों से भर जाती है।

हैप्पी लाइफ

रिसर्च में सामने आया है कि अगर कोई महिला खुश है तो उसके पति की लाइफ अच्छी होने के पीछे कईं वजहें हैं। जैसे कि अगर महिला खुश है तो अपने पति को खुश रखने की, उसकी हर ज़रूरत को पूरा करने की, उसकी ज़िदंगी को बेहतर बनाने की, खाने-पीने जैसी बातों का ध्यान रखरने की पूरी कोशिश करती है।

हैप्पी लाइफ

साथ ही उसे हर प्रकार का इमोशनल सपोर्ट देती है, अपने पति के दिल की हर बात सुनने की और उसे समझने की कोशिश करती है। सेक्शुअली भी अपने पति की हर ज़रूरत को पूरा करती है। और यही सब बातें किसी भी पुरूष की ज़िदंगी को बेहतर बनाने में, अपनी ज़िदंगी के साथ बेहतर करने में उसकी मदद करती हैं। लेकिन अगर मिसेज़ हैप्पी नहीं है तो मिस्टर आपके लिए मुश्किल बहुत हैं।

हैप्पी लाइफ

इस रिसर्च में ये बात भी सामने आई है कि जहां अपने पति की बीमारी और उससे जुड़ी छोटी सी बात भी महिलाओं की परेशानी का कारण बनती है तो वहीं पुरूष अपनी पत्नी की बीमारी से प्रभावित नहीं होते हैं। इसके साथ ही एक और बात जो सामने आई है वो ये है कि पुरूष अपनी परेशानियों को खुलकर अपनी पार्टनर से नहीं कह पाते हैं तो वहीं महिलाएं अपनी परेशानियां अपने पति को बता दिया करती है लेकिन कईं मामलों में ये बात उलट साबित होती है।

हैप्पी लाइफ

कईं केसेज़ में महिलाएं अपनी परेशानी को अपने दिल में ही दबा कर रखती हैं और अपने पार्टरन की बातें सुनने और समझने के लिए तैयार रहती हैं।

हैप्पी लाइफ

खैर, ये तो हुई रिसर्च की बात लेकिन ये बात भी एकदम सच है कि एक शादी खुशहाल और सफल तभी हो सकती है जब पति और पत्नी दोनों खुश हो।

हैप्पी लाइफ – वैसे, अगर शोध की बात को हटा भी दिया जाए तो पतियों को अपनी पत्नी को खुश रखने की हर संभव कोशिश करनी चाहिए क्योकि उनकी खुशी असल में आपके रिश्ते, आपकी ज़िदंगी सबको बेहतर बनाएगी और इस मुस्कुराहट को बरकरार रखना आपकी ही ज़िम्मेदारी है।

Don't Miss! random posts ..