ENG | HINDI

रोज़ करेंगे हनुमान चालीसा का वाचन, होंगे ये चौंकाने वाले फायदे

हनुमान चालीसा का वाचन करना परम शुभ होता है।

ये बिगड़े कामों को बनाता है, भय और संकटों से हमारी रक्षा करता है। ऐसा माना जाता है कि हनुमान जी आज भी इस धरती पर विराजमान हैं और अपनो भक्तों की हर दुख तकलीफ से रक्षा करने के लिए तत्पर हैं।  हनुमान जी को प्रसन्‍न कर अपने कष्‍टों को दूर करना चाहते हैं तो हनुमान चालीसा इसका सबसे सरल उपाय है। ज्योतिष के जानकारों की मानें तो हनुमान चालीसा का पाठ जितना आसान होता है उतना ही प्रभावशाली भी होता है। इसे करने के अनेकों फायदे हैं, जिनसे शायद आप अनजान होंगे।

हनुमान चालीसा का वाचन –

हनुमान चालीसा का वाचन करने से ना केवल सभी समस्याएं दूर होती हैं बल्कि सुख, समृध्दि, सम्पन्नता और सौभाग्य भी आता है। हनुमान चालीसा, पवनपुत्र हनुमान को समर्पित है। चमत्कारी शक्ति से युक्त इस चालीसा के प्रभाव निराले हैं, ये भक्तों के सभी दुखों को हर लेती है।

अगर आपने हनुमान चालीसा का वाचन किया है, आप उसका अर्थ जानते हैं तो आप इस बात से परिचित होंगे कि हनुमान चालीसा में हनुमानजी की पराक्रम की विशेषताएं बताई गईं हैं।

हनुमान चालीसा का नियमित रूप से वाचन कर परम फलदायी होता है लेकिन इनका उच्चारण करते वक्त कोई गलती नहीं करनी चाहिए।

भूत-पिशाच निकट नहीं आवे। महावीर जब नाम सुनावे।।

अगर इस चौपाई का आप नियमित रूप से वाचन करेंगे तो किसी भी प्रकार के डर से आपको मुक्ति मिलेगी। जिस व्यक्ति को किसी भी अनजानी चीज़ का भय सताता हो उसे सुबह-शाम 108 बार इस चौपाई का जाप करना चाहिए।

हनुमान चालीसा का वाचन

नासै रोग हरै सब पीरा। जपत निरंतर हनुमत बीरा।।

इस चौपाई का जाप करते रहने से सभी रोग दूर होते हैं और कष्ट कटते हैं। अगर कोई व्यक्ति बीमार रहता है तो उसे सुबह-शाम 108 बार इस चौपाई का जाप करना चाहिए। इसके साथ ही मंगलवार को हनुमान जी की मूर्ति के आगे बैठकर पूरे हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए। इससे जल्दी की किसी भी व्यक्ति की सारी बीमारियां दूर हो जाती हैं।

हनुमान चालीसा का वाचन

अष्ट-सिद्धि नवनिधि के दाता। अस बर दीन जानकी माता।।

अगर आप किसी बात से परेशान हैं, मुश्किलों का सामना करने की हिम्मत नहीं जुटा पा रहे हैं तो हनुमान चालीसा की इस चौपाई का पाठ करना आपके लिए परम शुभ रहेगा और मनवांछित फलदायी होगा। ब्रह्म मुहूर्त में आधा घंटा इन पंक्तियों का जप करें, आपको लाभ अवश्य प्राप्त होगा।

हनुमान चालीसा का वाचन

विद्यावान गुनी अति चातुर। रामकाज करिबे को आतुर।।

इस चौपाई का जाप करने से बुध्दि, विद्या और धन की प्राप्ति होती है। अगर आप पढ़ाई में ध्यान नहीं लगा पा रहे हैं या फिर किसी भी प्रकार के आर्थिक संकट से जूझ रहे हैं तो आपको इस चौपाई का नियमित रूप से जप करना चाहिए।

हनुमान चालीसा का वाचन

भीम रूप धरि असुर संहारे। रामचंद्रजी के काज संवारे।।

अगर लाख कोशिशों के बाद भी आपके काम नहीं बनते हैं, बने बनाए काम बिगड़ने में मिनट भर की भी देर नहीं होती तो आपको अवश्य ही इस चौपाई का पाठ करना चाहिए।

हनुमान चालीसा का वाचन और उसकी चौपाईयों का वाचन बहुत ही शुभ होता है और इसे नियमित रूप से करते रहने से सभी संकट दूर होते हैं, बिगड़े काम बनते हैं और जीवन में सब शुभ होता है।

Don't Miss! random posts ..