ENG | HINDI

आखिर क्या है हैलोवीन पार्टी जिसके लिए भूत बन जाते हैं लोग?

हैलोवीन फेस्टिवल

हैलोवीन फेस्टिवल – क्या आप भूत बनना चाहेंगे, यदि कोई आपसे ये सवाल पूछे तो आपको लगेगा कि सामने वाला का दिमाग खराब हो गया है जो से फालतू सवाल कर रहा है.

क्योंकि दुनिया का कोई भी इंसान कभी भूत नहीं बनना चाहेगा, भूत के नाम से ही अधिकतर लोगों की सांसे थमने लगती है. लेकिन हम आपसे ये कहें कि एक दिन ऐसा भी होता है जिस दिन लोग भूत बनना पसंद करते हैं तो?

यकीन नहीं हो रहा, अरे भई, ये सच है, लेकिन लोग सच का भूत नहीं बनते, बल्कि भूत का स्वांग रचाते हैं. जी हां, ऐसा होता है हैलोवीन फेस्टिवल के दौरान.

ये विदेशी त्योहार आजकल भारतीय युवाओं के बीच भी काफी पॉप्युलर हो गया है. हैलोवीन फेस्टिवल 31 अक्टूबर को मनाया जाएगा.

बाकी त्योहार पर जहां लोग खूबसूरत कपड़े पहनकर सजते हैं, वहीं इस त्योहार पर कुछ ही स्टाइल में तैयार होते हैं.

इस दिन लोग डरावना रूप बनाते हैं, आत्माओं और भूतों की तरह मेकअप करते हैं. कपड़े भी इसी थीम के अनुसार चुने जाते हैं.इस त्योहार की शुरुआत यूरोप से हुई. वहां सैल्टिक जाति के लोग मानते थे कि इस समय मृत लोगों की आत्माएं आकर संसारिक प्राणियों से मिलती हैं. वे सोचते थे कि उनके पुरखों की आत्मा धरती पर आएगी, जिससे उनका फसल काटना आसान हो जाएगा. ये लोग अलाव के आसपास नाचते -गाते थे. वे मानते थे कि कोई प्राकृतिक शक्ति है जो उनकी मदद करेगी. इसीलिए वे चुड़ेलें बनते और जानवरों के मौखटे, उनकी चमड़ी, उनके सिर पहनकर अलाव के आसपास नाचते -गाते थे.

वे मानते थे कि कोई प्राकृतिक शक्ति है जो उनकी मदद करेगी. इसे ‘All Saints-Day’-All Hallows (holy) या Hallows Eve मानते थे , जो धीरे- धीरे Halloween (हैलोवीन) बन गया.

अमेरिका मे तो इसे कद्दू की खेती की कटाई के साथ भी जोड़ा जाता है.

इस समय कद्दू की खेती बहुत होती है और बड़े- बड़े मिलते हैं, जिन्हें आसानी से काटा भी जा सकता है. सामने की तरफ इस पर डरावने तरीके से मुंह काटकर, बीच में जलती हुई मोमबत्ती रख देते हैं. जिन्हें पुरानी सदी की याद में रात को अंधेरे में घर की चौखट पर रखते हैं. इसे Jack-O-lanterns कहते हैं.

हैलोवीन फेस्टिवल पश्चिमी देशों में धूमधाम से मनाया जाता है. आजकल हमारे देश में लोग इस त्योहार को मनाने लगे हैं और लड़कियां खासतौर पर भूत और चुड़ैल जैसा मेकअप करवाती हैं.

Don't Miss! random posts ..