ENG | HINDI

अब कॉलेज की लडकियाँ लड़कों को नहीं बल्कि शादीशुदा मर्दों को डेट करना पसंद करती हैं

शादीशुदा मर्द

अक्सर हमें ये सुनने को मिलता है कि शादीशुदा मर्द से एक लड़की ने प्यार कर लिया और उसके साथ भाग गई.

आम लोगों की जिंदगी में ही नहीं बल्कि ये तो ख़ास लोगों की जिंदगी में भी होता है. ऐसा होता क्यों हैं. कुछ महीनों पहले ही कंगना और ऋतिक का मुद्दा सामने आया था.

जब कंगना को पता था की ऋतिक शादीशुदा हैं, तो उन्हें उनसे नजदीकियां बढाने की कोई ज़रुरत ही नहीं थी, लेकिन प्यार ये सब नहीं देखता और बस हो जाता है.

ऐसा ही आजकल जमकर हो रहा है.

शादीशुदा मर्द की तरफ लड़कियां जल्दी और ज्यादा आकर्षित होती हैं. इसके कई कारण हो सकते हैं. सबसे पहला कारण है कि वो आर्थिक और मानसिक रूप से सक्षम होते हैं. उनमें बचपना नहीं होता.  क्या ये सच है कि महिलाओं को शादीशुदा मर्द ज्यादा पसंद आते हैं? जब किसी महिला का शादीशुदा मर्द के साथ अफेयर चलता है तो वो इस रिश्ते को लेकर बिल्कुल सीरियस नहीं रहती है. लेकिन कुछ ही दिनों बाद वो बेहद गंभीर हो जाती है और अपने उसी रिश्ते में घुल जाना चाहती है.

विशेषज्ञ भी मानते हैं कि आजकल ऐसा बहुत ही हो रहा है.

वे कहते हैं कि महिलाएं सिंगल पुरुष के साथ डेट नहीं करना चाहती हैं क्योंकि उन्हें इमोशनल सपोर्ट की जरूरत होती है और इससे रिलेशनशिप बढ़ने की संभावना ज्यादा हो जाती है, इसलिए महिलाएं शादीशुदा मर्द के साथ बिना किसी रिश्ते के बंधन के एंज्वाय करती हैं. उन्हें लगता है की वो उन्हें ज्यादा अच्छी तरह से संभाल सकते हैं. उनका ख्याल रख सकते हैं.

ये महिलाएं किसी तरह का जोखिम नहीं उठाना चाहतीं, इसलिए भी सिंगल को डेट करने से बचती हैं.

महिला शादीशुदा मर्द के साथ डेट कर रही है तो उसे परेशानी भी उठानी पड़ सकती है. शादीशुदा होने की वजह से वह सिंगल पुरुष की तुलना में महिलाओं को काफी अच्छी तरह से समझता है और उसका फायदा भी उठा सकता है. सिंगल महिला शादीशुदा मर्द का ध्यान खिंचना चाहती है. सिंगल पुरुषों की तुलना में शादीशुदा पुरूषों से अपनी तारीफ सुनकर महिलाएं ज्यादा खुश होती हैं. जब सिंगल पुरुष महिला की तारीफ करता है तो वह उसे उसका कोई गलत इरादा समझ लेती हैं. लेकिन जब शादीशुदा पुरुष तारीफ करता है तो वह उसपर ज्यादा भरोसा करती है क्योंकि इसके पीछे उसका कोई मोटिव नहीं होता है. बस यही सोच आजकल की लड़कियों को इस तरह के पुरुषों के साथ हो जाने और लम्बी बॉन्डिंग करने की सलाह देती हैं.

कॉलेज से निकलने के बाद या नौकरी करने के कुछ साल बाद जब लड़की को इस तरह के ऑफ़र आते हैं तो वो इनकार नहीं करती.

उसे सेफ ज़ोन का आभास होता है और वो झट से बिना कुछ सोचे समझे हाँ कर देती है. इसका उसको आगे चलकर फायदा भी मिलता है. दोनों को ही अपनी निजी जिंदगी में ज्यादा संभालने की ज़रुरत नहीं होती. दोनों फ्री होते हैं. लड़की को बेहतर और कैरिंग पार्टनर मिल जाता है.

इस रिश्ते पर किसी को शक भी नहीं होता, इसलिए दोनों के लिए फायदेमंद रहता है. अक्सर ये लड़कियों के लिए ज्यादा फायदेमंद रहता है.

Don't Miss! random posts ..