ENG | HINDI

इन देशों में नमस्ते का स्टाइल जानकर शर्म से हो जायेंगे लाल

नमस्ते का स्टाइल

नमस्ते का स्टाइल – भारत एक ऐसा देश है जहां की संस्‍कृति और सभ्‍यता पूरी दुनिया को अपनी ओर आकर्षित करती है। आज भले ही भारतीय लोग पश्चिमी पहनावे और रहन-सहन को अपनाने लगे हों लेकिन यहां का स्‍टाइल पूरी दुनिया मानती है।

हम जब भी किसी से मिलते हैं तो उससे नमस्‍ते करते हैं और हमारा नमस्‍ते करने का अंदाज़ बहुत अलग होता है लेकिन आपको बता दें कि दूसरे देशों में नमस्‍ते करने का अंदाज़ भी कुछ कम नहीं है।

जब एक व्‍यक्‍ति किसी दूसरे से मिलता है तो एक-दूसरे को नमस्‍ते करता है या फिर हैल्‍लो बोलता है। शिष्‍टाचार की यह सबसे पहली पहचान है। जिस तरह दुनिया के हर देश में रहन-सहन, रीति रिवाज़ के अलग-अलग तरीके होते हैं उसी तरह हर किसी का वेलकम करने का  अंदाज़ भी अलग है। आज हम आपको अगल-अलग देशों के नमस्ते का स्टाइल कैसा है ये बताने जा रहे हैं।

नमस्ते का स्टाइल –

१ – तिब्‍बत

भारत के लोग घर आए मेहमान का हाथ जोड़कर अभिवादन करते हैं और नमस्‍ते बोलते हैं उसी तरह तिब्‍बत में मेहमान से मिलने पर जीभ को बाहर निकालकर उसका अभिनंदन किया जाता है।

२ – न्‍यूजीलैंड

अगर आप न्‍यूजीलैंड घूमने जाना चाहते हैं तो ये जान लें कि यहां पर नमस्‍ते की जगह होन्‍गी कहा जाता है। वहां की इस खास परंपरा के तहत होन्‍गी के साथ जब दो लोग आपस में मिलते हैं तो अपनी नाक से दूसरे की नाक रगड़ते हैं। इस तरह करने के पीछे इन लोगों का मानना है कि यह लंबी सांसों की कामना करने की दुआ करते हैं।

३ – जापान

जापान में लोग जब भी किसी से मिलते हैं या किसी का अभिनंदन करते हैं तो झुक कर मिलते हैं। इस तरीके की भी अलग-अलग पहचान है। अगर रिश्‍तेदार या फिर कोई दोस्‍त से मिल रहा है तो इसे साइकिरेई कहते हैं। अगर कोई बिजनसे डील के लिए मिल रहा है तो वह किरेई कहकर संबोधन करता है।

४ – फिलीपींस

फिलीपींस के लोग अपने मेहमानों को बहुत बड़े दिलचस्‍प अंदाज़ से मिलते हैं। यहां पर छोटे अपने बड़ों के सामने झुक कर उनके हाथ पर अपना माथा रगड़ते हैं। इसके लिए बड़े भी छोटों का बड़े प्‍यार से अभिनंदन करते हैं। वह उन्‍हें मानो पो कह कर आशीर्वाद देते हैं।

जैसा कि हमने बताया कि तिब्‍बत में नमस्‍ते करने की जगह जीभ बाहर निकालकर सामने वाली की छाती को छुआ जाता है। ये जानने के बाद आपको भी लग रहा होगा कि हमारे देश का नमस्‍ते का स्‍टाइल कितना अच्‍छा और अनोखा है।

भारत के तो नमस्‍ते के स्‍टाइल से भी सभ्‍यता झलकती है। शायद दूसरों को वेलकम करने में हम सबसे आगे हैं और ऐसा हो भी क्‍यों ना हमारे यहां मेहमान को भगवान माना जाता है।

अब तो आप जान गए ना कि किस देश में नमस्‍ते का स्‍टाइल क्‍या है। अब अगली बार अगर इन देशों की सैर पर जाएं तो अपने देश की जगह उनके स्‍टाइल में ही वहां के लोगों का अभिनंदन करें। यकीन मानिए वो लोग आपसे इंप्रेस हो जाएंगें और आपका दिल खुश हो जाएगा और आपकी खूब बढिया मेहमान नवाजी होगी।

Don't Miss! random posts ..