ENG | HINDI

महंगे रेस्‍टोरेंट में भरपेट नहीं खा पाते हैं तो जान लें क्‍या है मांजरा, बड़ा रोचक है मामला

रेस्‍तरां

अकसर महंगे रेस्‍तरां में खूब पैसा खर्च करने के बाद भी पेट नहीं भरता है।

वहीं इसके उलट जब हम किसी सस्‍ती जगह या रेस्‍टोरेंट जाते हैं तो कम पैसों में भी बढिया खा लेते हैं।  सस्‍ती जगहों और रेस्‍टोरेंट में भी हमें अपनी पसंद का खाना मिल जाता है फिर ये महंगे और फैंसी रेस्‍तरां की प्रसिद्धि का क्‍या फंडा है।

किसी को पैसे के मूल्‍य के हिसाब से खाना नहीं मिलता है फिर क्‍यों लोग उन जगहों पर जाना पसंद करते हैं, क्‍या आप जानते हैं इसके पीछे क्‍या कारण है ?

आर्ट ऑफ फूड

दोस्‍तों, ये जो महंगे और फैंसी रेस्‍तरां होते हैं ये सब आर्ट ऑफ फूड पर काम करते हैं। इनमें काम करने वाले शेफ नेशनल और इंटरनेशनल संस्‍थानों से खाना पकाना सीखकर यहां आए होते हैं। होटल में आने वाले कस्‍टमर खाने की प्रेजेंटशन देखकर ही खुश हो जाते हैं। इन बड़े-बड़े होटलों में खाना पकाने और परोसने के लिए शेफ उच्‍च गुणवत्ता वाली चीज़ों का प्रयोग करते हैं। शेफ अपनी प्रतिभा को दिखाने और आपके सामने अपने कौशल को प्रस्‍तुत करने के लिए बहुत कलाकारी करते हैं। वो खाना पकाने में कई तरह की तकनीकों और पद्धतियों का इस्‍तेमाल करते हैं।

क्‍यों करते हैं इतनी मेहनत

बड़े रेस्‍तरां में काम करने वाले शेफ यही चाहते हैं कि आप उनके हर निवाले का आनंद लें। ऐसी जगहों पर आप पेट भर खाना खाएं या ना खाएं लेकिन खाने की प्रेजेंटेशन देखकर आपका दिल जरूर खुश हो जाता है। वहीं साधारण जगह पर खाना खाकर आपका बस पेट ही भरेगा, मन नहीं। बडे-बडे होटल वाले लोग इसी बात पर ध्‍यान देते हैं कि उनके कस्‍टमर का दिल उनके खाने को देखकर ही खुश हो जाए।

ज्‍यादा पैसे देकर भी नहीं भरता पेट

माना कि ऐसे स्‍थानों पर खाना महंगा और बढिया होता है लेकिन कभी-कभी इन जगहों का खाना और उनका नाम तक समझ नहीं आता है और अनजाने में लोग इसे ऑर्डर कर देते हैं और डिश जब सामने आती है तो समझ नहीं आता कि खाएं क्‍या। वहीं दूसरी ओर अगर आप पहली बार किसी महंगे रेस्‍टोरेंट में गए हैं तो भी आपको भरपेट खाना नहीं मिल सकता है। आपके लिए ये खाना महंगा भी होगा और शायद इस वजह से आप कम चीज़ें ऑर्डर करेंगें और ठीक तरह से नहीं खा पाएंगें।

मिडिल क्‍लास लोग अकसर सपना देखते हैं कि वो भी किसी महंगे रेस्‍टोरेंट में जाकर एक ना एक बार तो लंच या डिनर करके आएं लेकिन यहां का मैन्‍यू देखकर ही उनका सिर चकरा जाता है। आधी से ज्‍यादा डिशेज़ का तो उन्‍हें नाम ही नहीं पता होता है और कुछ की रेट लिस्‍ट देखकर ही पसीना छूट जाता है। इस वजह से अमूमन कई लोग बड़े और महंगे होटलों से पेट भर खाना खाए बिना ही वापिस लौट आते हैं।

आपके साथ भी लाइफ में खाने या महंगे होटल को लेकर कुछ ना कुछ अजीब जरूर हुआ होगा या आपको भी होटल से कभी बिना खाना खाए वापिस लौटना पड़ा होगा। अगर आपके पास भी कोई ऐसा मजेदार अनुभव रहा है तो नीचे कमेंट करके हमें जरूर बताएं।

Don't Miss! random posts ..