ENG | HINDI

ब्राजील के इस गांव की लड़कियां है बेहद खूबसूरत, फिर भी नहीं मिल रहे शादी के लिए लड़के

लड़को की कमी

लड़को की कमी – भारत में कुछ ऐसे राज्य जहां जन्म से पहले लड़कियों को मारने की वजह से लड़कियों की आबादी बहुत कम हो गई हैं और वहां लड़को को शादी के लिए लड़कियां नहीं मिल रही.

कई गरीब इलाकों में तो एक लड़की कई लड़को की दुल्हन बनने को मजबूर है. मगर एक जगह ऐसी भी है जहां लड़कियों की भरमार है, मगर उन्हें शादी के लिए लड़के नहीं मिल रहे.

वैसे तो हमारी संस्कृति के अनुसार लड़के और लड़कियों के लिये परिवार वाले ही रिश्ता तलाश करते है. माता पिता अपने बच्चो की शादी के फैसले लेने में अहम भूमिका निभाते हैं. माता पिता अपने बच्चो के लिए होनहार और पारिवारिक लड़के लड़कियों की तलाश करते है. ताकि उनका भविष्य सही हो. लेकिन एक गांव ऐसा है जहा माता पिता को अपनी बेटी के लिए कुंवारे लड़के मिलते नहीं है लड़को की कमी है जिसके चलते मजबूरन उन्हें शादीशुदा लड़को के साथ अपनी बेटी की शादी करवानी पड़ती हैं.

लड़को की कमी

१  तरसती है लड़किया

ब्राजिल के एक गांव की लड़कियों को शादी के लिए तरसना पड़ता है. कई लड़किया तो कुंवारे लड़को की चाह में जीवन भर कुवारी ही रहती है. दरअसल, गांव में लड़कियों की अपेक्षा लड़कों की संख्या कम है यही वजह है कि यहां लड़कियों को शादी के लिए लड़के नहीं मिल रहे.

ब्राजील में बसे इस गांव में 18 से 30 साल कि लड़कियों की भरमार है. तक़रीबन 600 महिलाओ की आबादी इस गांव मे है जिसमें से 300 से भी अधिक लड़कियों को शादी के लिए लड़का नहीं मिलता है.

२  लड़कियों की आस

यहाँ की लड़कियों की ऐसी सोच है की जिस लड़के से उनकी शादी हो वह लड़का शादी करने के बाद उन्ही के गांव मे आकर रहे और उनके नियमों का पालन करें. हो सकता है इस शर्त की वजह से ही दूसरे गांव के लड़के यहां कि लड़कियो से शादी न करना चाहते हों.

लड़को की कमी

३  महिलाये संभालती है सारा काम

महिलाये इस गांव में खेती से लेकर सभी काम संभालती हैं. अधिकतर महिलाओ के पति एवं 18 साल से अधिक उम्र के बेटे काम के सिलसिले में शहर मे ही रहते हैं. गांव में अकेली महिलाएं ही रहती हैं.

लड़को की कमी

४  गांव की नीव

इस गांव की नींव मारिया सनोरिया डिलिमा ने रखी थी. जानकारी के अनुसार 1851 में उन्हें अपने घर से निकाल दिया था. जिसके बाद उन्होंने इस गांव को बसाया एवं यहाँ के नियम बनाये थे.

लड़को की कमी

तो शादी की समस्या सिर्फ हमारे यहां ही नहीं, बल्कि दूसरे देशों में भी शादी एक बड़ी समस्या बन गई है. कभी लड़के को योग्य लड़की नहीं मिलती तो कहीं लड़की को लायक लड़का नहीं मिलता. आजकल गांव से लेकर शहर तक शादी की समस्या बहुत बड़ी हो गई है. एक तो लिंग अनुपात में असमानता और दूसरी लोगों की बढ़ती अपेक्षाएं ये दोनों ही वजह है जिससे आजकल शादी के लिए वर/वधू ढूंढ़ना बहुत मुश्किल काम हो गया है.

हमारे यहां राजस्थान और हरियाणा जैसे राज्यों में जहां लड़कियों की कमी हैं वहीं ब्राजिल के गांव में लड़को की कमी है जिससे दोनों ही जगह शादी एक जटिल समस्या बन चुकी है.

Don't Miss! random posts ..