ENG | HINDI

अब लडकियों को छेड़ा तो लगेगा 3000 वॉल्ट का करंट

वुमेन सेफ्टी जैकेट

वुमेन सेफ्टी जैकेट – देश में महिलाओं की सुरक्षा का मुद्दा गंभीर होता जा रहा है और इसी के चलते यूपी के मुरादाबाद के पांच इंजीनियरिंग के छात्रों ने एक ऐसी डिवाइस बनाई है तो महिलाओं को सुरक्षित महसूस करवा सकती है।

बनाय वुमेन सेफ्टी जैकेट

इन छात्रों ने मिलकर वुमेन सेफ्टी जैकेट बनाया है। महिलाओं को गलत नीयत से छूने वालों को यह जैकेट 3000 वोल्‍ट का झटका देगी। इतना ही नहीं जैकेट में फीड मोबाइल नंबरों पर मदद का अलर्ट और लोकेशन भी पहुंचेगी।

इस वुमेन सेफ्टी जैकेट को मुरादाबाद इंस्‍टीट्यूट ऑफ टेक्‍नोलॉजी के इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के पांच छात्रों शिवम श्रीवास्‍तव, राजीव मौर्या, नितिन कुमार, निखिल कुमार और ऋषभ भटनागर ने तैयार की है। इन छात्रों का कहना है कि देश में महिलाओं के प्रति अपराध बढ़ते जा रहे हैं। इस वजह से उन सभी ने मिलकर एक ऐसी डिवाइस तैयार की है जिससे महिलाओं को ज्‍यादा सुरक्षा मिल सके। उन लोगों ने जो डिवाइस तैयार की है वो देखने में जैकेट जैसी लगती है।

जीपीएस और जीएसम लगा है

इस वुमेन सेफ्टी जैकेट की खास बात है कि इसमें जीपीएस और जीएसएम लगा हुआ है। देखने में तो ये सामान्‍य जैकेट जैसी लगती है लेकिन है बहुत हाई टेक। अगर कोई गलत नीयत से महिला को छूता है तो वो इस जैकेट में दाईं ओर लगे बटन को दबा सकती है। बटन दबाते ही महिला को छूने वाले को 3000 वोल्‍ट का झटका लगेगा।

जैकेट में फीड मोबाइल नंबर पर महिला की लेाकेशन और अलर्ट पहुंचेगा। इतना ही नहीं जैकेट में एक कैमरा लगाया गया है जो सारी घटना को कैमरे में कैद कर लेगा जिससे महिला के पास उसके साथ हुई घटना का सबूत रहे।

आज भारत में रेप और महिलाओं पर उत्‍पीड़न के मामले बड़ी तेजी से बढ़ रहे हैं। यहां तो बच्चियों और नाबालिग लड़कियों तक से रेप हो रहे हैं और अधिकतर मामलों में रेप के आरोपी कोई और नहीं बल्कि पीडिता का बाप, भाई या कोई जानकार व्‍यक्‍ति होता है।

भारतीय समाज में पुरुषों की सत्ता चलती है और यहां स्त्रियों को उपभोग की वस्‍तु समझा जाता है। ये उनके प्रति हिंसा का सबसे बड़ा कारण माना जा सकता है। महिलाएं अपने अधिकारों से अपरिचित हैं और बचपन से ही उन्‍हें घर में आवाज़ उठाने की आजादी नहीं दी जाती है। इसी कारण समाज में भी उन्‍हें दया की दृष्टि से देखा जाता है। इस वजह से महिलाएं अपने साथ होने वाले अपराध की शिकायत करने की जगह सहम जाती हैं।

वहीं देश के अधिकतर जवान बड़े-बड़े नेताओं और अफसरों की सुरक्षा में तैनात हैं। दिल्‍ली में 84000 पुलिस जवानों में से सिर्फ एक तिहाई पुलिस ही आम जनता की सेवा में उपलब्‍ध है। ये बेहत मायूस कर देने वाली बात है। ऐसे में महिलाओं की सुरक्षा के साथ मजाक हो रहा है।

ऐसे में शायद इन इंजीनियर्स द्वारा बनाई गई ये वुमेन सेफ्टी जैकेट महिलाओं की सुरक्षा में अहम भूमिका निभा सकती है। अब देखना होगा कि ये जैकेट महिलाओं के कितने काम आती है और वो इसका प्रयोग कैसे करती हैं और ये कितना सफल हो पाती है। वैसे ये जैकेट है बहुत हाई टेक।

Don't Miss! random posts ..