ENG | HINDI

अजबो-गरीब मुल्क जहाँ लड़के नहीं लडकियाँ करती हैं उनका शारीरिक शोषण !

पुरुषों का शारीरिक शोषण

पुरुषों का शारीरिक शोषण – आमतौर पर पूरी दुनिया में सदियों से ही पुरुषों का वर्चस्व रहा है. पुरुष ही घर और समाज में मुखिया का किरदार निभाते आए हैं और सदियों से महिलाओं के जीवन से जुड़े सारे फैसले भी खुद पुरुष ही करते आए हैं.

आज भले ही दुनिया भर में स्त्री-पुरुष समानता की बात की जा रही है और भले औरतें मर्दों से किसी भी मामले में कम नहीं है लेकिन कई जगहों पर आज भी औरतों को पैर की जूती ही समझा जाता है.

देश और दुनिया में बढ़ती छेड़छाड़ और बलात्कार की घटनाओं से इस बात का अंदाजा लगाया जा सकता है कि आज भी अपनी इज्जत और आबरू को बचाने के लिए महिलाओं को मर्दों के सामने झुककर ही रहना पड़ता है.

पूरी दुनिया में भले ही आज भी मर्दों का ही बोलबाला क्यों ना हो लेकिन दुनिया की इसी भीड़ में आज हम आपको एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां पुरुषों का नहीं बल्कि सिर्फ महिलाओं का राज चलता है और यहां लड़कियां ही पुरुषों का शारीरिक शोषण करती हैं.

पुरुषों का शारीरिक शोषण

उत्तरी नाइजीरिया में चलता है महिलाओं का राज

दरअसल उत्तरी नाइजीरिया के तुआरेह जनजाति की महिलाओं को पुरुषों के बराबर अधिकार दिए गए हैं. यहां की महिलाएं अपने इन अधिकारों का पूरी तरह से इस्तेमाल भी करती हैं.

यहां रहनेवाली लड़कियां निडर होकर मर्दों को छेड़ती है इतना ही नहीं यहां पर वो पुरुषों का शारीरिक शोषण करके उनके साथ जबरन शारीरिक संबंध भी बनाती हैं. यहां महिलाओं की आज़ादी की आलम तो यह है कि उनके डर के मारे मर्दों को पर्दे में रहना पड़ता है.

मर्दों को रहना पड़ता है महिलाओं से डरकर

उत्तरी नाइजीरिया में मर्दों को अपनी मर्जी से कुछ भी करने की आज़ादी नहीं है और यहां रहनेवाले सभी पुरुष महिलाओं से डरकर ही रहते हैं. आपको बता दें कि इस जनजाति में सदियों से इस परंपरा का पालन किया जा रहा है.

एक सर्वे के मुताबिक यहां की महिलाओं को शादी के बाद किसी भी पुरुष के साथ संबंध बनाने की आजादी होती है लेकिन पुरुष किसी और महिला के साथ संबंध नहीं बना सकता. यहां महिलाओं को ही सबसे ऊंचा दर्जा दिया गया है जिसके चलते महिलाएं किसी भी तरह से पर्दे में नहीं रहती हैं जबकि पुरुषों को अपना शरीर ढककर रखना पड़ता है.

महिलाएं जबरन बनाती हैं पुरुषों से संबंध

यहां रहनेवाले लड़कों को थोड़ा बड़ा होने के बाद से ही इस तरह के कपड़े पहनने पड़ते हैं जिससे कि उनका शरीर दिखाई ना दे, अगर कुछ दिखाई दे तो सिर्फ उनकी आंखें. यहां रहनेवाली महिलाएं शादी से पहले और शादी के बाद किसी भी मर्द के साथ शारीरिक संबंध बनाने के लिए आजाद हैं. ये महिलाएं चाहें तो किसी भी मर्द के साथ जबरन शारीरिक संबंध बना सकती हैं.

महिलाएं अपनी मर्जी से अपने पति को कभी भी तलाक दे सकती हैं. यहां शादी के वक्त का नज़ारा भी बाकी शादियों से बिल्कुल अलग होता है क्योंकि यहां दूल्हा बारात लेकर नहीं आता बल्कि दुल्हन बारात लेकर दूल्हे के घर जाती है और शादी करके लड़के को अपने साथ अपने घर ले आती हैं.

गौरतलब है कि यहां महिलाएं अपने हिसाब से मर्दों को कठपुतली की तरह नचाती हैं और बेचारे मर्दों को हर छोटे-बड़े काम के लिए महिलाओं से इज़ाजत लेनी पड़ती है.

 

Don't Miss! random posts ..