ENG | HINDI

मुंबई में रात में ऑटो चलती है महिलाएं

महिला जो ऑटो चलाती है

महिला जो ऑटो चलाती है – भारत में भले ही काम करने वाली महिलाओं की संख्या दिन प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है.

कॉर्पोरेट क्षेत्र से लेकर पायलट या फिर कोई और सेक्टर क्यों न हो, हर क्षेत्र में महिलाएं पुरुषों से काफी आगे है. फिर भी भारत में आज महिलाओं की सुरक्षा एक बड़ा सवाल बना हुआ है. महिलाएं अपने घर से दिन में भी बाहर निकलने से पहले सोचती है कि वह बाहर लोगों के बीच सुरक्षित है या नहीं.

ऐसे में महिला जो ऑटो चलाती है   – मुंबई की एक महिला ऑटो ड्राइवर की तस्वीर आज कल सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही है जो महिलाओं को काफी प्रेरित कर रही है.

महिला जो ऑटो चलाती है

महिला जो ऑटो चलाती है –

मुंबई की विजयता नाम की महिला ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक महिला ऑटो ड्राइवर की तस्वीर को शेयर किया है.

तस्वीर में महिला रात के समय में ऑटो चलाती हुई दिखाई दे रही है.

जिसके बाद महिला की ऑटो चलाते हुए ये तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल होने लगी. विजयता ने अपने ट्वीट में लिखा, ‘आधी रात के समय पोवई इलाके में मेरी कैब खराब हो गई थी. मैंने एक ऑटो रोका और एक महिला को ऑटो चलाते हुए देखकर मैं हैरान रह गई. उसने मुझे घर छोड़ा. रास्ते में हमने काफी बातें भी की. ऐसे शहर में रहना बहुत अच्छा लगता है जहां महिलाएं किसी भी समय बाहर जाने में सुरक्षित महसूस करती हैं. काश ये हमेशा ऐसा ही रहे.’

महिला जो ऑटो चलाती है

भारत में ऑटो ड्राइवर का रूप एक पुरुष को ही समझा जाता है, वहां एक महिला को ऑटो चलाते देखकर लोगों को हैरानी के साथ खुशी भी हो रही है  कि महिलाएं रात के समय में भी आपने आप को सुरक्षित महसूस करती है. ये महिलाएं दिनभर अपने परिवार और बच्चों को संभालती है और रात में ऑटो चलती है.

आजतक आपने सुना था कि महिलाएं प्लेन, मेट्रो, बस ही चलती है, लेकिन मुंबई में महिलाएं ऑटो भी चलाती है. साल 2017 में 19 महिलाओं ने ऑटो रिक्‍शा मुंबई में चलाना शरू किया था. इन सभी को राज्‍य सरकार ने महिला सशिक्‍तकरण की स्‍कीम के तहत ऑटो रिक्‍शा चलाने की ट्रेनिंग दी थी.

महिला जो ऑटो चलाती है

क्‍या है राज्‍य सरकार की योजना 

राज्‍य सरकार ने नई स्‍कीम साल 2016 में शुरू की थी, जिसके तहत महाराष्‍ट्र में रिक्‍शा परमटि का पांच प्रतिशत महिलाओं के लिए रिजर्व रखा गया था. इसी तरह की स्‍कीम नई दिल्‍ली और रांची में भी चल रही है, जहां पिंक ऑटो को महिलाएं चलाती हैं और इन ऑटो में केवल महिलाएं ही सफर भी करती हैं. पर महाराष्‍ट्र में इन महिलाओं के ऑटो में पुरुष भी सवारी कर सकते हैं.

महिला जो ऑटो चलाती है  – विजयता के इस ट्वीट को कई लोग री-ट्वीट कर के अपनी बाते कहा रहे हैं. एक यूजर ने लिखा कि “मुंबई हमेशा से महिलाओं के लिए सुरक्षित रहा है, कभी देर रात को काम से लौटते समय डर नहीं लगता है.”

महिला जो ऑटो चलाती है

वही एक दूसरा यूजर ने लिखा कि “आजादी के 70 साल बाद भी हम किसी महिला को ऑटो चलाते देखकर खुश हो जाते हैं. असली खुशी तब होगी जब महिलाओं के लिए ये सब करना उतना ही आम होगा जितना पुरुषों के लिए है. ऐसे समय का इंतजार रहेगा. बदलाव ऑटो की वजह से नहीं, बल्कि उस महिला की वजह से देखने को मिल रहा है”.

बुहत सारें लोगों का बस यही कहना है कि ” ये समय जल्दी आए जब लड़की भी लड़को कि तरह रात में अकेले ड्राइव कर सके”.

Don't Miss! random posts ..