ENG | HINDI

दिल्ली या मुंबई कौन सी सिटी है आपके लिए बेहतर

दिल्ली और मुंबई

दिल्ली और मुंबई दोनों ही महानगरों की जिंदगी एक दूसरे से अलग होकर भी कुछ कुछ एक जैसी ही है । क्योंकि दिल्ली और मुंबई दोनों ही शहर आजादी के बाद से ही रोजगार की तलाश में दूसरें राज्यों से आने वाले लोंगो के लिए एक बड़ी उम्मीद बनकर उभरे है ।

जिस वजह से यहां हर साल बाकी राज्यों के मुकाबले सबसे ज्यादा पलायन होता है । जिस वजह से इन दोनों शहरों में से कौन सा शहर बेहतर है ये जानना भी बहुत दिलचस्प हो गया है ।

दिल्ली और मुंबई में संस्कृतिक विविधता

दिल्ली में देश के कोने कोने से लोग बेहतर शिक्षा , बेहतर रोजगार की तलाश में आते है । जिस वजह से दिल्ली की संस्कृति अब बहुत मिश्रित किस्म की हो चुकी है ।हालांकि यहां पर उत्तराखंड , यूपी , बिहार,हरियाणा और पंजाब के लोगों की जनसंख्या ज्यादा है । वहीं अगर हम बात करें मुंबई की । मुंबई में गुजराती और मराठी लोग ज्यादा देखने को मिलते है । जिस वजह से मुंबई संस्कृति में मराठी के साथ – साथ गुजराती संस्कृति की झलक देखने को मिल जाती है ।

खान – पान में मुंबई से बेहतर है दिल्ली

ये हम सभी जानते है कि दिल्ली को फूड हब कहा जाता है । दिल्ली में मुगलाई , साउथ इंडियन , पंजाबी ,हरियाणवी खाने के अलावा कई अलग – अलग तरह के स्ट्रीट फूड भी खाने को मिलते हैं । और दिलचस्प बात ये है कि दिल्ली में हर वर्ग का आदमी इन फूड डिशस को अफॉर्ड कर सकता है । क्योंकि आपको एक ही डिश अलग – अलग जगह अलग – अलग रेट पर मिलती है । अगर आप खाना अगर रेस्टोरेंट में खा रहे है तो आपको उसके लिए थोड़ा ज्यादा रेट चुकाना पड़ेगा ।वहीं अगर हम बात करें मुंबई की तो मुंबई के कुछ ही स्ट्रीट फूड आइटम मशहूर है इसके अलावा मुंबई में गुजराती और मराठी डिश ज्यादा देखने को मिलती है ।

दिल्ली और मुंबई

मुंबई और दिल्ली शिक्षा के क्षेत्र में

मुंबई और दिल्ली दोनों ही देश की सबसे विकसित सिटीज में से एक है जहां शिक्षा के विकल्प दूसरों राज्यों के मुकाबले कहीं बेहतर है ।दिल्ली और मुंबई दोनों ही शहरों में अच्छे – अच्छे सरकारी , प्राइवेट स्कूल कॉलेजस है । दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए देश भर से आवेदन आते हैं । वहीं दिल्ली के सरकारी स्कूलों की हालात भी दूसरे राज्यों से कही बेहतर है । लेकिन प्राइवेट शिक्षा संस्थानें दिल्ली से बेहतर मुंबई की है । जो बच्चों को शिक्षा के साथ – साथ रोजगार के लिए भी मदद करती है ।

सुरक्षा के लिहाज से

पिछले कुछ वक्त में महिला सुरक्षा को लेकर दिल्ली कई बार सवालों के घेरे में आई है । हालांकि दिल्ली सरकार और दिल्ली पुलिस की तरफ से महिलाओं की सुरक्षा को लेकर कई कदम भी उठाए गए है । वहीं मुंबई को सबेस सेफ सिटी तो नहीं कहा जा सकता , लेकिन इतना जरुर कहा जा सकता है कि महिला सुरक्षा के मामले में मुंबई दिल्ली से बेहतर है ।

दिल्ली और मुंबई

दिल्ली और मुंबई का ट्रांसपोर्ट  सिस्टम

दिल्ली और मुंबई दोनों का ही ट्रांसपोर्ट सिस्टम काफी अच्छा है । हालांकि मैट्रो के शुरु होने के बाद दिल्ली का ट्रांसपोर्ट सिस्टम ओर बेहतर हुआ है । दिल्ली में ऑटो, रिक्शा, प्राइवेट कैब्स, डीटीसी बसें, रेल, मैट्रो के कारण  दिल्ली के लोगों की जिंदगी पिछले कुछ वक्त में काफी सरल हो गई है । वहीं मुंबई के ट्रांसपोर्ट सिस्टम को रफ्तार यहां की लोकल ट्रेन देती है । जो यहां के लोगों को इस शहर की रफ्तार भरी जिंदगी से जोड़ती है ।

दिल्ली और मुंबई में रहने वाले लोगों के लिए तो अपना ही शहर बेहतर है , लेकिन बाहर से पलायन कर इन दोनों शहरों में आने वाले लोगों के लिए भी यहां एडजिस्ट करना ज्यादा मुश्किल नहीं होता । जो इन शहरों की कमियों और खूबियों के साथ यहां रहना सीख जाते हैं .

Don't Miss! random posts ..