ENG | HINDI

भारत की ऐसी अजीबोगरीब बातें जिन्हें ख़ुद भारतीय नहीं जानते है

भारत की अजीबोगरीब बातें

भारत की अजीबोगरीब बातें – “अतुल्य भारत” इस विज्ञापन को हमने देश भर के कई कोनों में देखा है लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत असल में इतना अतुल्य क्यों हैं?

अगर आपको नहीं पता कि भारत वास्तव में अतुलनीय है या नहीं

तो आइए आज आपको बताते हैं कि हमारा देश आखिर को इतना अतुल्य है. ऐसी बहुत सी चीजे हैं जो हमारे देश को महान बनाती हैं. आज हम आपको भारत की अजीबोगरीब बातें बताएंगे जिनके बारे में खुद कई भारतीय नहीं जानते होंगे.

भारत की अजीबोगरीब बातें –

१ – बांद्रा से वर्ली समुद्र लिंक

आपको जानकर हैरानी होगी कि बांद्रा से लेकर वर्ली तक बने इस पुल पर उपयोग की गई स्टील की केबल की लंबाई पृथ्वी की परिधि के बराबर है. इस पुल को बनाने में लगभग 16 बिलियन रुपयों की लागत आई थी. इस पुल की सबसे खास बात ये है की यह अफ्रीका के 50 हजार हाथियों का वजन एक साथ उठा सकता है.

भारत की अजीबोगरीब बातें

२ – महाकुंभ मेला

यह मेला दुनिया के सबसे बड़े मेलों में से एक है. इसे हर 12 साल में एक बार आयोजित कराया जाता है और इसमें शामिल होने के लिए दुनिया भर से लोग आते हैं. हरिद्वार, इलाहाबाद, नासिक और उजैन ये चार पवित्र स्थान हैं जहा बारी-बारी यह मेला आयोजित किया जाता है. बता दे कि इस मेले को यूनेस्को द्वारा वर्ल्डहैरिटेजलिस्ट में भी शामिल किया गया है. जिसके मुताबिक ये दुनिया का एक लौता धार्मिक सबसे बड़ा मेला है जहा करोड़ों कि ताकाद में लोग गंगा स्नान करके खुद को पवित्र करने आते हैं. मान्यता है कि महाकुंभ मेले के दौरान अगर आप गंगा स्नान कर ले तो आपके किए गए सभी पाप और कुकर्म धुल जाते हैं.

भारत की अजीबोगरीब बातें

३ – चैल क्रिकेट ग्राउंड

यह क्रिकेट ग्राउंड हिमाचल प्रदेश में ब्रिटिशर्स द्वारा सन 1893 में बनाया गया था. वैसे तो यह एक आम क्रिकेट ग्राउंड कि ही तरह है लेकिन इसकी सबसे खास बात ये है कि यह दुनिया का सबसे उंचाई पर स्थित क्रिकेट ग्राउंड है. जिसकी उंचाई समुद्र तल से 2444 मीटर है.

भारत की अजीबोगरीब बातें

४ – शैंपू का आविष्कार भारत में हुआ था

प्लास्टिक सर्जरी की ही तरह शैंपू का भी इजात भारत में ही हुआ था. असल में शैंपू को भारतीय संस्कृति में चैंपू नाम से जाना जाता था. जिसे आवला और अन्य संस्कृति हर्ब्स को मिलाकर भारत में बनाया जाता था. जब इस आविष्कार का पता ब्रिटिशर्स को लगा तो वह इसे अपने देश इंग्लैंड ले गए और वहाँ इसे शैंपू नाम देकर दुनिया भर में परिचित कराया. ठीक इसी तरह भारत ने कई चीजें दुनिया को दी हैं लेकिन इन आविष्कारों कि जन्म भूमि के बारे में बहुत कम लोग ही जानते हैं.

भारत की अजीबोगरीब बातें

५ – भारत का पहला रॉकेट एक साइकिल द्वारा ले जाया गया था

भारत का पहला रॉकत बहुत छोटा था और इस का वजन भी बहुत कम था इसलिए उन्होंने इसे ले जाने के लिए एक साइकिल का इस्तेमाल किया था. भारत का पहला रॉकेट ही छोटा था लेकिन आज के समय में भारत काफी आगे बढ़ चुका है.

भारत की अजीबोगरीब बातें

हमे पता है कि भारतीय होने के बावजूद आप में से कई लोगों को भारत कि इन अतुल्य तथ्यों के बारे में नहीं पता होगा.

Don't Miss! random posts ..