ENG | HINDI

भारत में एक ऐसा आदिवासी समुदाय है जिसका नाम ‘Chutiya’ है!

आदिवासी समुदाय

आदिवासी समुदाय – अक्सर हमने लोगों को बोलते सुना है कि ‘नाम में क्या रखा है’ और ये काफी हद तक सही भी है कि नाम में क्या रखा है सब कुछ लोगों के काम पर ही तो निर्भर करता है.

लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि कोई एक शब्द किसी एक के लिए गाली और किसी दूसरे के लिए नाम हो सकता है. दरअसल जिस शब्द ‘Chutiya’ को आम बोलचाल की भाषा में गाली समझा जाता है वही शब्द एक आदिवासी समुदाय का नाम भी है.

जी हाँ आपको जानकार हैरानी कि भारत के राज्य असम में एक आदिवासी जनजाति समुदाय रहता है जिसका नाम Chutiya और Sutiya है. ये लोग इस क्षेत्र में ‘Chutiya Pepole’ के नाम से जाने जाते है.

इस समुदाय का इतिहास-

असमिया क्रॉनिकल में Chutiya समुदाय से जुड़ा इतिहास देखने को मिलता है. इसके मुताबिक सातवीं शताब्दी के आसपास इस समुदाय के लोग ब्रह्मपुत्र नदी के किनारे निवास करते थे. इनके राजा का नाम अस्सम्भिना था जिन्हें Chutiya King के नाम से जाना जाता था. असम में रहने वाले Chutiya समुदाय को मंगोलिया के चीन-तिब्बती लोगों का पूर्वज माना जाता है. Chutiya वंश के लोगों ने 1187 से 1673 तक भारत के असम और अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में राज किया था. इस समुदाय के लोगों के बारे में ये भी कहा जाता है कि ये लोग दक्षिणी चीन से स्थानांतरित होकर भारत आये थे.

शारीरिक बनावट-

इस आदिवासी समूह के लोगों की शारीरिक बनावट पूर्व एशियाई और इंडो आर्यन से मिलती जुलती है.

भाषा-

जहाँ प्राचीन भारत में संस्कृत और हिंदी बोली जाती थी वहीं Chutiya People बर्मन मूल की भाषा बोलते थे. लेकिन असम में आकर बसने के बाद ये लोग असमिया बोलने लगे.

धर्म-

पहले ये लोग तिब्बती धर्म का पालन करते थे लेकिन असम में बसने के बाद धीरे-धीरे इन लोगो ने हिन्दू धर्म को अपना लिया.

आज के समय में इन लोगों की स्थिति कैसी है?

भारत एक ऐसा देश है जिसने कई छोटे-छोटे धर्म और समुदाय को बचाकर रखा है उनमे से एक Chutiya समुदाय भी है जिसे भारत सरकार ने ओबीसी के रूप में मान्यता दी हुई है. Chutiya समुदाय असमिया बोलने वाला भारत का एकमात्र आदिवासी समुदाय है. ये लोग आज भी असम के ऊपरी इलाकों में रहते है वहीं कुछ लोग काम और रोजगार की तलाश में निचले इलाकों में भी बस गए है. जनसँख्या के हिसाब से इन लोगों ने काफी विकास किया है साल 1901 की जनगणना की रिपोर्ट के अनुसार इनकी संख्या सिर्फ 28000 हजार थी, वहीं 2011 की जनगणना के अनुसार इन लोगों की संख्या 26 लाख के लगभग हो गई.

आदिवासी समुदाय

ऐसे आया था Chutiya शब्द चलन में-

दरअसल जिस Chutiya शब्द को हम और आप गाली समझते रहे है उसका मतलब ही अलग होता है. इतिहासकारों का मानना है कि Chutiya शब्द का उद्भव ‘Chut’ (चूट) से लिया गया है ‘चूट’ का मतलब होता है ‘पर्वत की चोटी’.

अब आप समझ ही गए होंगे कि जिस Chutiya शब्द को अभी तक आप और हम गाली समझ रहे थे असल में ये एक आदिवासी समुदाय का नाम है, जो अपने गौरवशाली इतिहास और परम्परा के लिए जाना जाता है. तो अगली बार जब भी आप किसी को Chutiya शब्द से संबोधित करे उससे पहले एक बार जरुर सोच लें.

Don't Miss! random posts ..