ENG | HINDI

इस किसान ने खरीदा दश लाख का नारियल !

दश लाख का नारियल

दश लाख का नारियल – आपने अक्सर स्टार्स के कपड़े या दूसरी चीजों की बोली लगते देखा होगा ।

ये चीजें इस्तेमाल की हुई होती है इसके बावजूद लाखों करोड़ो की बोलियों में बिकती है ऐसा इसलिए क्योंकि ये चीजें उनके स्टार्स ने इस्तेमाल की होती है । इसलिए एक याद के तौर पर लोग इन चीजों को लाखों करोड़ो में खरीदने तैयार हो जाते है ।

लेकिन क्या आप सोच सकते है कि कोई दश लाख का नारियल खरीदेगा वो भी एक किसान । ये तो हम सभी जानते है कि भारत में आस्था से बड़ा धर्म कोई नही है लोग आस्था के नाम पर कुछ भी करने को तैयार हो जाते है ऐसे में आस्था से जुड़ी किसी चीज को लोग कैसे छोड़ सकते है । पुणे के कोएली गांव के एक किसान ने बोली लग रहे एक नारियल को 10 लाख की बोली लगाकर जीता । महाराष्ट्र ओर देश के दूसरे राज्यों के कई किसान जहां गरीबी के कारण आत्महत्या करने को मजबूर है वही कुछ अमीर किसान ऐसे भी है । जो एक अच्छी खासी जिंदगी व्यतीत कर रहे है । जिनमें से एक किसान ने इस बोली लगे नारियल को 10 लाख में खरीदा ।

दश लाख का नारियल

वैसे आपको बता दे ये नारियल कोई मामूली नारियल नही है । ये नारियल भगवान को चढाया गया नारियल है । जिसका मिलना बहुत लकी माना जाता है ।

इस नारियल को पाने के लिए बहुत सारे किसान बोली में भाग लेते है ।

दरअसल पुणे इस गांव में  भानोब भगवान का उत्सव मनाया जाता है. उत्सव के दौरान यहां आने वाले  भक्त भगवान को नारियल चढाते हैं ।

उत्सव के आखिरी दिन मन्दिर के ट्रस्टी इन नारियलों की बोली लगाते हैं. इस बोली में गांव के लगभग सभी किसान भाग लेते है और नारियल  पाने के लिए अपना लक आजमाते है । लेकिन खबरों के अनुसार  पिछले 3 सालों से यहां लगातार बोली एक ही किसान भगवान को  चढ़ाया हुआ नारियल खरीद रहा है.

इस किसांन का नाम रेश्मा सुभाष बन्सोडे है जिन्होने इस साल भी नारियल की सबसे ज्यादा बोली लगाकर भगवान को चढ़ाया नारियल जीता है ।

दश लाख का नारियल

माना जाता है कि इस नारियल को पाने वाले घर में कभी किसी चीज की कमी नही होती सुख सृमद्धि के साथ धन लाभ भी होता है । इस नारियल को जीतने वाले रेश्मा सुभाष बन्सोडे के परिवार का भी यही मानना है कि जबसे उन्होने ये नारियल खरीदना शुरु किया है उनके घर में बरकत हो रही है । आपको बता दें नारियल की बोली लगाने की पंरपरा  साल 2000 से शुरु हुई थी । इस साल बोली 50 हजार से शुरु हुई थी । लेकिन नारियल को पाने की हो़ड़ में बोली 10 लाख तक जा पहुंची । इसी परिवार ने पिछले साल उत्सव में नारियल को 5 लाख की बोली से जीता था ।

दश लाख का नारियल ! ये सब जानकर तो एक ही बात समझ आती है कि चीजों की कीमत नजरों से नही ओहदे से पता चलती है वरना भगवान तो हर किसी के लिए है । सिर्फ बोली जीतने वालों के लिए नही ।

Don't Miss! random posts ..