ENG | HINDI

सुशील मोदी ने लिखी लालू पर किताब, ब्लैक में बिक रही लालू लीला !

लालू लीला

लालू लीला – बिहार के डिप्टी सीएम और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने हाल ही में RJD प्रमुख लालू यादव के जीवन काल उर्फ उनके कारनामों का खुलासा करते हुए एक किताब का विमोचन किया है।

लालू यादव पर सुशीलमोदी द्वारा लिखी गई इस किताब का नाम है “लालू लीला”

लालू लीला के लोकार्पण में किए थे ये बड़े खुलासे

डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने लालू यादव पर यह किताब लिखने के बाद इसके विमोचन में लालू यादव को लेकर इतने खुलासे और दावें किये कि जिसके बाद इस किताब को पढ़ने के लिए हर कोई उत्साहित हो जायेगा, फिर चाहे उसका राजनीति और लालू यादव से कोई लगाव हो या ना हो।

लालू लीला

सुशील मोदी ने विमोचन के दौरान कहा था कि उन्होंने अपने राजनैतिक करियर की शुरूआत लालू यादव के साथ की थी और वो लालू यादव को राबड़ी देवी से भी ज्यादा करीब से जानते है। इतना ही नहीं सुशील मोदी ने लालू घोटालों का चिट्ठा खोलते हुए कहा था कि लालू यादव ने चारा घोटाले के बाद भी रूकने का नाम नहीं लिया, और भ्रष्टाचार करते हुए अवैध संपत्ति हासिल करते हुए आज लालू यादव का परिवार करीबन 148 भूखंड, 30 फ्लैट और दर्जनभर से ज्यादा मकानों के साथ बिहार के सबसे बड़े जमींनदार बने हुए है। इतना ही नहीं उन्होंने लालू यादव पर लिखित किताब के विमोचन में उन पर एक नारा तक सुना दिया। सुशील मोदी ने कहा कि “सुभाष चन्द्र बोस ने नारा दिया था- “तुम मुझे खून दो मैं तुम्हे आजादी दूंगा और लालू जी ने कहते थे- तुम मुझे जमींन दो और मैं तुम्हारा काम करूंगा”।

इसका अलावा उन्होंने लालू यादव के कई किस्सों सुनाते हुए बताया कि किस तरह भ्रष्टाचार और सत्ता का दुरउपयोग कर लालू यादव और उनका परिवार आज अकूत संपति का मालिक बना हैं।

लालू लीला

सुशील मोदी ने लिखी किताब ब्लैक में बिक रही !

हाल ही में एक समारोह के दौरान जब पत्रकारों ने सुशील मोदी से लालू लीला की बिक्री को लेकर सवाल किए, और कहा कि क्या लालू लीला की सप्लाई सही चल रही है? इस सवाल का जवाब देते हुए डिप्टी सीएम ने कहा कि “लालू लीला” सुपरहीट साबित हो रही है, मार्किट में किताब की डिमांड इतनी ज्यादा हो रही है, कि प्रकाशक उसे पूरा नहीं कर पा रहा है जिसके चलते लालू लीला ब्लैक में बिक रही है।

बतां दे कि सुशील मोदी द्वारा लिखित लालू लीला RJD प्रमुख लालू यादव के भ्रष्टाचार पर आधारित है, किताब में लालू यादव द्वारा किये गए भ्रष्टाचारों का कच्चा-चिट्ठा खोला गया हैं। साथ ही उनके परिवार और परिजनों पर भी कई गंभीर आरोप लगाये गए है।

बता दे किताब में सुशील मोदी ने दावां किया है कि लालू यादव के पास आज जितना कुछ है वह सब उनके भ्रष्टाचार की देन है। गौरतलब है कि लालू लीला में सुशील मोदी ने 40 प्रेस कॉन्फ्रेंस का संकलन भी किया है। जिसके मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी अप्रैल 2017 से लेकर फरवरी 2018 तक की गई अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में लालू परिवार की संपत्तियों का खुलासा कर रहे हैं। 11 अक्टूबर को लालू लीला किताब का विमोचन किया गया था।

Don't Miss! random posts ..