ENG | HINDI

रेखा मेरी 2 दर्जन चचेरी बहनों में से एक है – सुशील मोदी

रेखा मोदी

सुशील मोदी कह रहे हैं कि रेखा मोदी उनकी चचेरी बहन है।

हाल ही में उन्होंने ट्विटर पर एक ट्विट शेयर कर कहा है कि रेखा मोदी उनकी बहन है। जब आप यह पोस्ट पढ़ेंगे तो आपके दिमाग में सबसे पहले ख्याल बॉलीवुड ऐक्ट्रेस रेखा का आएगा। लेकिन नहीं, सुशील मोदी यहां पर किसी और रेखा की बात कर रहे हैं।

सुशील मोदी के बारे में तो आप जानते ही हैं। यह बिहार के मुख्यमंत्री हैं और नीतिश कुमार के खास माने जाते हैं। इनके पास अगर नीतिश कुमार के बाद बिहार में किसी की धाक चलती है तो सिर्फ इन्हीं की चलती है।

कौन है रेखा?

“रेखा मेरी 2 दर्जन चचेरी बहनों में से एक है- सुशील मोदी”।
यहां जिस रेखा की बात हो रही है, वह है- रेखा मोदी। रेखा मोदी सुशील मोदी की बहन है। तब तो आप मान सकते हैं कि ये सुशील मोदी की बहन हैं।

क्या है मामला?

यह मामला बिहार के कुख्यात सृजन घोटाले से जुड़ा है जिसके तार बिहार के उपमुख्यमंत्री की चचेरी बहन रेखा मोदी से जुड़ रहे हैं। जब से इस घोटाले में रेखा मोदी का नाम आया है तबसे बिहार की राजनीति गरम हो गई है।

रेखा मोदी

रेखा के यहां पड़ा छापा

सृजन घोटाले में अभी रेखा मोदी का नाम आया ही था कि उनके घर पर इनकम टैक्स का छापा पड़ा है। अब विपक्ष सुशील मोदी पर आरोप लगा रहे हैं कि ऐसा उन्होंने अपनी बहन को बचाने के लिए किया है। विपक्ष के इन्हीं आरोपों का जवाब देते हुए सुशील मोदी ने कहा, “उनकी दो दर्जन से ज्यादा चचेरी, ममेरी, फुफेरी और मौसेरी बहने हैं। अगर इनमें से किसी के खिलाफ कोई सबूत जांच एजेंसियों को मिले तो उन पर कड़ी कार्रवाई हो।”

रेखा मोदी

अगर इनमें से किसी के खिलाफ कोई सबूत जांच एजेंसियों को मिले तो उन पर कड़ी कार्रवाई हो। बता दें कि रेखा मोदी सुशील मोदी की चचेरी बहन हैं और करीब 800 करोड़ रुपये के सृजन घोटाले में आरोपी हैं। इसी सिलसिसे में आईटी डिपार्टमेंट ने गुरुवार (06 सितंबर) को उनके पटना और भागलपुर ठिकानों पर छापेमारी की है।

रेखा मोदी ने किया है सुशील मोदी पर मुकद्दमा

ट्विटर पर सुशील मोदी ने एक बड़ा सा पत्र लिखकर पोस्ट किया है जिसकी हेडिंग डाली है, “रेखा मोदी ने मुझ पर मुकद्दमा कर रखा है…। रेखा ने अपने भाई-भतीज व अन्य परिवारजनों और पड़ोंसियों पर मुकद्दमा कर रखा है। वह कहां रहती है और कौन सा व्यापार करती है इसके बारे मुझे कुछ जानकारी नहीं है।”

क्या है सृजन घोटाला?

घोटाले का नाम ‘सृजन घोटाला’ इसलिए पड़ा क्योंकि कई सरकारी विभागों की रकम सीधे विभागीय ख़ातों में जाने के बजाय ‘सृजन महिला विकास सहयोग समिति’ नाम के एनजीओ के छह ख़ातों में ट्रांसफ़र की जाती थी और फिर वहां से प्रशासन व बैंकि अधिकारी पैसों की हेरा-फेरी करते थे।

सृजन घोटाले की मास्टरमाइंड मनोरमा देवी है। बताया जा रहा है कि रेखा मोदी इनकी करीबी है। उन पर सृजन के खाते से करोड़ों रुपये लेने के आरोप हैं। इसके अलावा रेखा 2010 में पुलिस से बद्तमीजी के आरोप में भी एक सप्ताह तक जेल में रह चुकी हैं।

Don't Miss! random posts ..