ENG | HINDI

बाप-दादा के पास नहीं थी दौलत, अपनी मेहनत के दम पर बनें अरबों के मालिक

अरबपति

अरबपति – अगर तुम गरीब पैदा हुए हो तो ये तुम्हारी गलती नहीं है, लेकिन अगर तुम गरीब मर जाते हो तो ये तुम्हारी गलती है शायद ये बात आपने कई बार लोगों के मुंह से सुनी होगी.

ये विचार देने वाले माइक्रोसॉफ्ट के जन्मदाता बिल गेट्स के हैं. जिनका मानना था कि जब आपके हाथ में पैसा होता है तो केवल आप अपने आपको भूल जाते हैं लेकिन जब आपके हाथ खाली होते हैं तो पूरी दुनिया आपको भूल जाती है कि आप कौन हो.

तो चलिए आज हम आपको कुछ ऐसे ही दुनिया के 5 अरबपति अमीर इंसानों के बारे में बताएंगे, जो जन्म से ही अमीर नहीं थे उनके पास कोई भी पैतृक संपत्ति नहीं थी उनके माता-पिता एक साधारण से इंसान थे लेकिन इन अमीर शख्सियतों ने अपने दम पर अपने सपनों को पूरा किया और आज बुलंदी उनके कदम चूम रही है.

अपने दम पर बने अरबपति –

जेफ बेजोस, अमेजन चेयरमैन, नेटवर्थ – 13,030 करोड़ डॉलर

इस लिस्ट में पहला नाम आता है दुनिया की पहली ऑनलाइन ई-कॉमर्स कंपनी अमेजॉन का, जिसके चेयरमैन हैं अरबपति जेफ बेजोस. एक समय ऐसा था जब बेजोस के पास पैसों की कमी थी. उनका जीवन काफी संघर्षों से गुजरा है. उनकी मां की शादी हाईस्कूल में हो गई थी. उनकी मां जैकलिन ने मैक्सिको शहर में बाइक शॉप ओनर टेड जोरगेन्नसन से शादी की थी. लेकिन शादी के एक साल बाद ही दोनों ने तलाक ले लिया था. जेफ के पिता शराब बहुत पीते थे जिस वजह से उनकी मां ने तलाक लेने का फैसला किया था. जब बेजोस 4 साल के थे, तब उनकी मां ने क्यूबा के इमीग्रेंट माइक बेजोस से शादी कर ली थी. माइक बिजोस ने जेफ बिजोस को गोद ले लिया. माइक एक्जॉन कंपनी में इंजीनियर का काम करते थे. जेफ बेजोस का बचपन अपना नान के साथ बीता और उनके नाना ने उन्हें कम्प्यूटर चलाना सिखाया. जेफ बेजोस बचपन से एक बारटेंडर बनना चाहते थे लेकिन बाद में उन्होंने अमेजन नदी के नाम पर एक ऑनलाइन रिटेल कारोबार साल 1994 में न्यूयॉर्क शहर में शुरु किया.

बिल गेट्स, माइक्रोसॉफ्ट फाउंडर, नेटवर्थ – 9,220 करोड़ डॉलर

माइक्रोसॉफ्ट के जन्मदाता और दुनिया के सबसे अमीर इंसान अरबपति बिल गेट्स का रियलनेम है विलियम हेनरी गेट्स. इनका जन्म वाशिंगटन के सिएटल में हुआ था. बिल के पिता विलियम एच गेट्स एक पॉपुलर वकील थे और उनका मां मैरी मेक्सवेल गेट्स, जो एक कंपनी के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में शामिल थी. गेट्स के दो बहनें थी. गेट्स केवल पढाई करने में लगे रहते थे ऐसे में उनके माता-पिता उन्हें खेलने के लिए हमेशा प्रेरित किया करते थे. इस वजह से गेट्स ने स्विमिंग, बॉलिंग जैसे खेलों में भाग लेना शुरु किया. जब वे जीतते थे तो उन्हें रिवॉर्ड मिलता था लेकिन जब हारते थे तो पेनाल्टी पड़ती थी. गेट्स ने हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में पढ़ाई के दौरान सबसे ज्यादा कंप्यूटर में अपना समय बिताते थे. उन्होंने 1974 में हनीवेल कंपनी ज्वॉइन कर ली. उन्होंने हार्वर्ड की पढ़ाई बीच से छोड़कर इंटेल 8080 सीपीयू कंप्यूटर में मौका तलाशा और बिजनेस शुरु कर दिया. उसके बाद से कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा.

अरबपति

मार्क जुकरबर्ग, फेसबुक चेयरमैन, नेटवर्थ – 7,300 करोड़ डॉलर

फेसबुक सीईओ अरबपति मार्क जुकरबर्ग का जन्म न्यूयॉर्क में हुआ था. उनके पिता एडवर्ड जुकरबर्ग एक डेन्टिस्ट थे और उनकी मां करेन केम्प्नेर एक मनोचिकित्सक थी. आपको बता दें कि मार्क ने अपने पिता से ही सबसे पहले कंप्यूटर पर सॉफ्टवेयर प्रोग्रामिंग सीखी थी. मार्क जुकरबर्ग ने सबसे पहले MuckNet नामक सॉफ्टवेयर बनाया था जिससे उनके परिवार के लोग एक कमरे से दूसरे कमरे के कंप्यूटर पर बातचीत कर पाते थे. जुकरबर्ग ने अपने 3 दोस्तों सगं मिलकर साल 2003 में फेसमाश नाम की एक वेबसाइट डिजायन की थी. जिसके जरिए एक दोस्त दूसरे दोस्त की फोटो पर “हॉट” या “नॉट” रेटिंग कर सकता था. साल 2004 में हार्वर्ड में पढ़ाई के दौरान मार्क जुकरबर्ग ने हॉस्टल के एक कमरे से फेसबुक की शुरुवात की थी. उन्होंने फेसबुक पर फोकस करने के लिए पढ़ाई बीच में छोड़ दी. मार्क जुकरबर्ग साल 2006 में 22 साल की उम्र में करोड़पति बन गए थे.

अरबपति

लैरी एलिसन, एक्ज्क्यूटिव चेयरमैन, ऑरेकल, नेटवर्थ – 5,750 करोड़ डॉलर

कंप्यूटर लैंग्वेज ऑरेकल के चेयरमैन अरबपति लैरी एलिसन का जन्म न्यूयॉर्क सिटी में हुआ था. उनकी मां एक अनमैरिड महिला थी. एलीसन के पिता इटालियन अमेरिकन यूनाइटेड स्टेट आर्मी एयर कॉर्प्स पायलट थे जिस वजह से उन्होंने एलिसन की मां से शादी नहीं की. लैरी एलिसन को 9 महीने की उम्र में निमोनिया हो गया था जिसके बाद उनकी मां नेलैरी को उनके अंकल और आंटी को गोद दे दिया. गोद देने के बाद लैरी बाद में 48 सालो तक अपनी जन्म देने वाली माँ से दोबारा नहीं मिल पाए थे लेकिन 48 साल की आयु में वे अपनी बॉयोलोजिकल मां से मिल पाए. लैरी ने अपनी कंपनी की शुरुआत घर के गैरेज से की थी. आज वे टेकवर्ल्ड में एक अलग मुकाम पर जगह बनाए हुए हैं.

अरबपति

लैरी पेज, गूगल को-फाउंडर, नेटवर्थ – 4,900 करोड़ डॉलर

अरबपति लैरी पेज का जन्म मिशिगन में हुआ था. पेज के पिता डॉक्टर कार्ल पेज और उनकी मां ग्लोरिया पेज दोनों IT क्षेत्र में काम करते थे. कार्ल पेज मिशिगन यूनिवर्सिटी से पहले कुछ PHD स्नातकों में से एक थे. उनके पिता कंप्यूटर विज्ञान और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के प्रोफेसर थे, जबकि उनकी मां ने विश्वविद्यालय में एक कंप्यूटर प्रोग्रामिंग वर्ग सिखाया था। लैरी पेज का घर बचपन से कंप्यूटर, साइंस और टेक्नोलॉजी बुक्स से भरा रहता था. उन्हें बचपन में किताबें पढ़ने का शौक वहीं से हुआ. उनके पास छह साल की उम्र में फर्स्ट जेनरेशन कंप्यूटर भी था.पेज ने मिशिगन यूनिवर्सिटी से डॉक्टर ऑफ इंजीनियरिंग की मानद उपाधि हासिल की है. साल 1998 में पेज और अपने साथी ब्रिन के साथ मिलकर Google Inc की स्थापना की और घर के गैराज में कुल चार कर्मचारियों के साथ काम कंपनी खोली.

अरबपति – तो दोस्तों, ये कुछ ऐसे दुनिया के अमीर और पॉपुलर इंसान हैं, जो बचपन से चांदी का चम्मच लेकर पैदा नहीं हुए उन्होंने अवसरों को पहचानकर कड़ी मेहनत की और अपने आइडिया के दम पर ये मुकाम हासिल किया है.

 

Article Categories:
विदेश

Don't Miss! random posts ..