ENG | HINDI

ऋषभ पंत की ये बातें जो नहीं जानता है हर कोई

ऋषभ पंत की बातें

ऋषभ पंत की बातें – भारतीय क्रिकेट टीम में अब आखिरकार महेंद्र सिंह धोनी के टेस्ट में संन्यास के बाद अच्छा विकेटकीपर बल्लेबाज मिला है और वह है ऋषभ पंत।

बता दें कि उत्तराखंड का यह युवा क्रिकेटर जो दिल्ली के लिए घरेलू क्रिकेट खेलता है और पिछले कुछ समय से आईपीएल में भी दिल्ली डेयरडेविल्स का प्रतिनिधित्व करता आ रहा है। ऋषभ पंत जो बाएं हाथ से बल्लेबाजी करते है और हाल ही में सम्पन्न हुई वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज में शानदार प्रदर्शन करते हुए यह अहसास दिला दिया कि वह अब टीम इंडिया का सभी प्रारूपों में अगला विकेटकीपर है।

तो आइये आज हम जानते है ऋषभ पंत की बातें जिनके बारे में शायद आप नहीं जानते है।

ऋषभ पंत की ये 10 ख़ास बातें जो आप भी शायद नहीं जानते है

ऋषभ पंत की बातें –

ऋषभ पंत की बातें

1) ऋषभ पंत ऑस्ट्रेलियाई पूर्व दिग्गज एडम गिलक्रिस्ट के प्रेरित होने पर क्रिकेट को अपना करियर बनाया। उन्हीं की तरह यह भी बाएं हाथ से बल्लेबाजी करते है और विकेटकीपर की भूमिका निभाते है।

2) ऋषभ पंत का जन्म उत्तराखंड में हुआ था लेकिन वो एक छोटे से गांव से थे और साथ ही उत्तराखंड की टीम को भी मान्यता नहीं थी इस कारण इन्होंने राजस्थान की तरफ से खेलना शुरू किया लेकिन उसमें परिणाम अच्छा नहीं मिला इस कारण दिल्ली के लिए खेलना उचित समझा।

3) इसके बाद दिल्ली में, पंत को सोनेट क्लब में नामांकित किया गया था। यहां पर वह तारक सिन्हा के सम्पर्क में आये जो दिल्ली क्रिकेट के सबसे अनुभवी कोच में से एक रहे है। सिन्हा जिन्होंने 100 क्रिकेटरों को तैयार किया जिसमें से 12 ने अंतर्राष्ट्रीय टीम में भी जगह बनाई।

4) गिलक्रिस्ट का यह तगड़ा प्रशंसक अपने आक्रामक स्ट्रोकप्ले और निर्णायक फुटवर्क के लिए जाना जाता है और अंडर-19 क्रिकेट में ही अच्छा प्रदर्शन करते हुए यह दिखा दिया था कि आगे जाकर भारतीय टीम के लिए काफी कुछ हासिल करेगा।

5) बहुत से खिलाड़ियों को 18 साल की उम्र में अपने प्रथम श्रेणी क्रिकेट की शुरुआत करने का मौका नहीं मिलता है लेकिन इन्हें यह अवसर मिला और रणजी ट्रॉफी करियर की दूसरी ही पारी में बंगाल के खिलाफ खेलते हुए 71 गेंदों में 57 रन बनाए जिसमें 3 गगनचुम्बी छक्के और दो चौके शामिल थे।

6) अंडर-19 त्रिकोणीय श्रृंखला में पंत को इंडिया ग्रीन टीम की कप्तानी सौंपी गयी जो 28 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक पुणे में आयोजित की गयी थी। इसके बाद बीसीसीआई ने यह निर्णय लिया कि आगामी अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप में मौका दिया जाए जो बांग्लादेश में खेला गया था।

7) बाएं हाथ के सलामी बल्लेबाज ऋषभ पंत जिन्होंने 2016 के अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप में नेपाल के खिलाफ महज 18 गेंदों में अपना अर्धशतक बनाया, जो अंडर-19 के स्तर में सबसे तेज़ अर्धशतक है। इस मैच में उन्होंने 24 गेंदों पर 78 रनों की पारी खेली थी।

8) खतरनाक युवा बल्लेबाज पंत जिन्होंने भारतीय पुरुषों की अंडर-19 टीम के लिए उसी विश्वकप के सेमीफाइनल में 96 गेंदों का सामना करते हुए 111 रन बनाये थे जिसमें दो छक्के और 14 चौके शामिल थे। इस मैच में भारत ने 349 रन बनाये जिसके जवाब में नामीबिया की 152 रनों पर ऑल आउट हुई और टीम इंडिया को 197 रनों से जीत मिली थी।

9) इंडियन प्रीमियर लीग के नौवें सीजन में उन्हें शानदार प्रदर्शन के चलते 1.9 करोड़ रुपये में खरीदा जिनकी बेस प्राइस सिर्फ 10 लाख थी।

10) इसके बाद इंडियन प्रीमियर लीग के 11वें सीजन में दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से खेलते हुए ऋषभ पंत ने कुल 684 रन बनाए और साथ ही सबसे ज्यादा 37 छक्के, सबसे ज्यादा 68 चौके और एक शतक भी बनाया।

ऋषभ पंत की बातें

ये है ऋषभ पंत की बातें – इस प्रकार उत्तराखंड का यह 21 वर्षीय बाएं हाथ का तूफानी बल्लेबाज आज भारतीय टीम का सबसे खतरनाक बल्लेबाज बनकर उभरा है जिन्होंने अपनी पिछली तीन टेस्ट पारियों में क्रमशः 114, 92 और 92 रन बनाए है। साथ ही भारतीय टीम को भी ऐसे ही विकेटकीपर की जरुरत थी क्योंकि धोनी शायद 2019 क्रिकेट विश्व कप के बाद संन्यास ले लेंगे।

Don't Miss! random posts ..