ENG | HINDI

आखिर क्यों खास होती हैं हमारी यादें, यहां जाने

यादें

यादें मिठाई के डिब्बे की तरह होती है एक बार खुला तो सिर्फ एक टुकड़ा नहीं खा पाओगे  !

फिल्म ये जवानी है दीवानी का ये डायलॉग तो आपको याद ही होगा, वैसे यादों की खूबसूरती के बारे में बात करने के लिए इससे खूबसूरत लाइन हो भी नहीं सकती है क्योकि सच में यादें बहुत खास होती है तब ही तो जब भी आती है हमे अपने साथ कहीं दूर ले जाती है कभी यादों को याद करते करते हमारे चेहरे पर मुस्कान आ जाती है तो कभी आंखो में आंसू भी छलक आते है।

ये यादें हमारे दिल के बहुत करीब होती हैं  पर कई बार वक्त के साथ भागते भागते वो यादे कहीं पीछे रह जाती है या यूं कहें कि हम ही रोजमर्रा की भागदौड़ में कुछ इस कदर खो जाते हैं कि इन यादों को पीछे छोड़ देते हैं

ये यादें तो हमसे मिलने के लिए कभी भी हमारे दिल के दरवाज़ें पर दस्तक दे देती है। यादें अपनों की …यादे सपनों की …यादे प्यार की… यादे प्यार में किए गए इतंजार की…..यादे किसी के साथ की…यादे किसी अधूरी मुलाकात की…..यादे उन खुशनुमा पलों की जब आपके अपने साया बनकर आपके साथ थे ……यादे मायूसी भरों उन पलों की जब जिदंगी के सफर में आप तन्हा थे….यादें हर उस लम्हे की जो दिल के करीब रहता है …यादे हर उस पल की जिसे दिल भूलना चाहता है।

यादें

इसलिए इन यादों के बारे में यही कहा जा सकता है कि ”थम के रह जाती है जिन्दगी तब जब जम के बरसती हैं पुरानी यादें”

यादें

आपने भी महसूस किया होगा कि जब आप यादों के शहर में कदम रखते हैं तो आपके चेहरे की मुस्कान अलग ही होती है ऐसा इसलिए क्योकि ये यादें बहुत खास होती हैं। दरअसल, यादें हमे हमारे गुज़रे हुए कल से मिलवाती है, वो कल जिसमें हम जा तो नहीं सकते लेकिन इन यादों के ज़रिए उस बीते हुए कल से मुलाकात ज़रूर कर सकते हैं।

यादें

असल में ये यादें हमारे आज और हमारे गुज़रे हुए कल के बीच का एक पुल होती हैं जो हमें हमारे बीते हुए कल से जोड़ कर रखती हैं और यादों के सहारे इस बीते हुए कल का हाथ थामकर हम आज एक खूबसूरत कल बनाने की कोशिश करते हैं।

यादें

यादों में हर वो लम्हा कैद होता है जो असलियत में हमारी पकड़ से दूर जा चुका है। वक्त किसी के लिए नहीं रुकता लेकिन जाते हुए वक्त को हम यादों के दायरे में ज़रूर बांध सकते हैं इसलिए यादें इतनी खास होती हैं।

यादें

आप भी मेरी बात से इत्तेफाक रखते होंगे ऐसा मुझे भरोसा है क्योकि यादों की डोरी से तो आप भी ज़रूर बंधे होंगे और इस बंधन से बंधे रहने की खूबसूरती को महसूस भी कर रहे होंगे। यादों के साये में आप यूं ही रहे और ज़िदंगी के हर एक पल को अपनी यादों की किताब में कैद कर के रखें।

Article Categories:
विशेष

Don't Miss! random posts ..