ENG | HINDI

इस देश में रेप करने वालों को दोषी नहीं माना जाता था

सोमालिया

सोमालिया – जैसा देश वैसा कानून. हर देश का कानून हर विषय पर अलग-अलग है.

एक ऐसा ही देश है इस धरती पर जहाँ रेप करने वालों को पहले दोषी नहीं माना जाता था. इसका मतलब ये हुआ कि यहाँ किसी भी लड़की के साथ कोई कुछ भी कर सकता था, लेकिन उसकी सुनवाई किसी पुलिस थाने या कोर्ट में नहीं होती थी.

आखिर ऐसा क्यों?

  हम जिस देश में रहते हैं वहां के कई कानून हमें अच्छे नहीं लगते, लेकिन रेप जैसी घटना पर हम सभी का एक ही मत होता है कि उस व्यक्ति को कड़ी से कड़ी सज़ा मिले और जो भुक्तभोगी है उसे न्याय मिले, लेकिन हर देश में ऐसा नहीं होता.

सोमालीलैंड एक स्व-घोषित राज्य है, जिसे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सोमालिया के स्वायत्त क्षेत्र के रूप में मान्यता मिली हुई है. इस देश में रेप कोई अपराध नहीं था.

जी हाँ, बिलकुल सही सुन रहे हैं आप. यहाँ पर रेप करना कोई अपराध नहीं है.

यहाँ पर लड़कियों के साथ रेप होता रहता है और बस उसके बदले ये फरमान सुना दिया जाता है.

इस घिनौनी घटना को वहां कानून की नज़र से नहीं बल्कि सांस्कृतिक समस्या के रूप में देखा जाता था. बलात्कार करने वाले को पीड़िता से शादी करने के लिए कहा जाता था और मामला खत्म हो जाता था. इसका मतलब ये हुआ कि जो भी लड़का चाहे वो जैसा हो, उसने जिस लड़की का रेप कर दिया वो उसे मिल जाती है. एक बार भी उस लड़की के बारे में नहीं सोचा जाता था कि आखिर उस लड़की के साथ कहाँ का न्याय हो रहा है.

यहाँ बहुत से मामले ऐसे होने लगे कि कुछ गिरोह ऐसे बन गए, जो अमीर और खूबसूरत लड़कियों का रेप करते और फिर उन्हीं से शादी कर लेते. यह समस्या धीरे-धीरे विकराल होती जा रही थी और सामूहिक बलात्कार के मामलों में बढ़ोतरी होने लगी थी. कई घटनाएं ऐसी हुई कि एक ही लड़का कई लडकियों का रेप करने लगा. सालों बाद इस जहाँ के लोगों को ये बात समझ आई और अब महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए इस देश में पहली बार रेप के खिलाफ एक कानून पास किया गया है.

यह कानून जैसे ही पारित हुआ महिलाओं के चेहरे पर ख़ुशी की लहर दौड़ पड़ी.

अब कानून बनने के बाद ये घोषित किया गया है कि रेप करने वाले अपराधी को 30 साल की जेल होगी. इस तरह के कानून बनने से ज़रूर वहां के मनचलों का दिमाग थोड़ा काबू में रहेगा और रेप जैसी घटनाओं पर लगाम लगेगा. सबसे बड़ी बात ये है कि देर से ही सही लेकिन वहां के राजनेताओं और कानून के जानकारों की बुध्दी खुली तो सही.

हम आपको बता दें कि सोमालिया पूर्वी अफ्रीका में स्थित एक विफल देश है, जिसे दुनिया का पांचवां खतरनाक देश माना जाता है. सोमालिया में रेप, लूटपाट जैसी घटाएं होती रहती हैं. लोगों को यहाँ जाने में डर लगता है. ये देश पिछड़ा हुआ है और यहाँ के लोगों के दिमाग का विकास भी न के बराबर है.

शुक्र है अब सोमालिया की महिलओं को खुली हवा में सांस लेने की आज़ादी मिलेगी और उनके साथ हो रही ये घटनाएं कम होंगी.

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...

Don't Miss! random posts ..