ENG | HINDI

क्या प्रियंका गांधी लड़ेंगी चुनाव?

प्रियंका वाड्रा गांधी

कांग्रेस में जिस तरह से प्रियंका वाड्रा गांधी की सक्रियता बढ़ी है उससे हर कोई कयास लगाने लगा रहा है कि जल्द ही प्रियंका गांधी राजनीति में आने वाली हैं।

उन्नाव और कठुआ रेप केस से पहले कांग्रेस की हालत काफी खराब थी। लेकिन जिस तरह से इन रेप के मामलों के बाद प्रियंका वाड्रा गांधी की सक्रियता बढ़ी है और राहुल गांधी के हमले बीजेपी पर बढ़े हैं, उससे हर कोई अनुमान लगा रहा है कि जल्द ही प्रियंका गांधी चुनाव लड़ने वाली हैं। तो क्या सच में प्रियंका गांधी चुनाव लड़ने वाली हैं? राजनीति में प्रियंका गांधी की सक्रियता को देखकर यह कहना कोई अतिशयोक्ति भी नहीं होगा।

तो चलिए आज इस लेख में हम पड़ताल करते हैं कि प्रियंका वाड्रा गांधी जल्द ही चुनाव लड़ेंगी की नहीं?

कैमरे का किया सामना

कांग्रेस ने कठुआ और उन्नाव रेप केससे के बाद दिल्ली के इंडिया गेट पर विरोध मोर्चा निकाला जिसमें आधी प्रियंका गांधी वाड्रा का अलग ही अंदाज़ देखने को मिला। इस कार्यक्रम में प्रियंका गांधी काफी गुस्से में थी और पूरे कार्यक्रम को लीड कर रही थीं। सबसे आश्चर्य वाली बात यह थी की इस कार्यक्रम में प्रियंका गांधी ने कैमरे से चेहरा नहीं छुपाया। इन्होंने इस कार्यक्रम में आक्रामक तरीके से हिस्सा लिया और वे कैमरे से दूर भी नहीं रहीं। जबकि अब तक वो कैमरे के पीछे ही रहना पसंद करती थीं।

इस कार्यक्रम के ज्यादातर फैसले प्रियंका ने ही किए

प्रियंका वाड्रा गांधी

सबसे बड़ी बात है कि इस कार्यक्रम के सारे महत्वपूर्ण फैसले प्रियंका ने ही किए थे। प्रियंका ने ही फैसला किया था कि सारे नेता सामने बैठेंगे और जिसे बोलना होगा, वही सिर्फ मंच पर जाएगा। प्रियंका ने ही फैसला किया था कि मंच पर वक्ता के अलावा किसी और के लिए जगह नहीं होगी।

कौन है महिला कांग्रेस का अध्यक्ष?

प्रियंका वाड्रा गांधी

अब जरा अपने दिमाग पर जोर डालिए और बताइए कि महिला कांग्रेस का अध्यक्ष कौन है? नहीं मालूम ना। हमें भी नहीं मालूम। लेकिन कयास ये लगाए जा रहे हैं कि महिला कांग्रेस का अध्यक्ष पद उन्हें देकर राजनीति में लाया जा सकता है। अभी प्रियंका गांधी कांग्रेस में सारे फैसले सोनिया गांधी और राजीव गांधी की बेटी व राहुल गांधी की बहन के तौर पर लेती हैं। लेकिन कांग्रेस पार्टी खुद ही उन्हें कोई जरूरी जिम्मेदारी निभाते हुए देखना चाहती है।

ऐसे में हर कोई समय-समय पर उन्हें राजनीति में आने की सलाह दे चुका है। अब लगता है कि यह सलाह मानने का वक्त आ गया है और अगर यह सलाह मानी जाती है तो महिला कांग्रेस का अध्यक्ष पद इसके लिए बेहतर हो सकता है।

2019 का चुनाव

प्रियंका वाड्रा गांधी

2019 के चुनाव होने में अब एक साल से भी कम समय का वक्त रह गया है। अब भी बड़े-बड़े राजनीतिज्ञों का मानना है कि कांग्रेस बीजेपी के खिलाफ कहीं नहीं टिकती। ऐसे में कई लोगों को यह लगता है कि नरेंद्र मोदी की भाजपा का मुकाबला करने के लिए कांग्रेस को खुद को मजबूत बनाने की कोशिश के तहत प्रियंका गांधी को 2019 लोकसभा चुनावों के लिए चुनाव अभियान समिति का अध्यक्ष बना देना चाहिए। क्योंकि राहुल गांधी नरेंद्र मोदी के सामने अकेले फीके पड़ जाते हैं लेकिन प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस काफी ऊर्जावान लगती है।

वैसे भी प्रियंका वाड्रा गांधी को नजरअंदाज करने की हिम्मत तो बीजेपी अब तक नहीं कर पाई है। ऐसे में अगले चुनाव को जीतने के लिए कांग्रेस के पास प्रियंका वाड्रा गांधी ही एक अकेला विकल्प है जिसे आजमाने का फैसला उसे जल्द ही कर लेना चाहिए।

Don't Miss! random posts ..