ENG | HINDI

शादी के लिए दवाब डाल रहे थे पैरेंट्स, लड़की ने जो किया जानकर हैरान रह जाएंगे!

शादी के लिए दवाब

शादी के लिए दवाब – किसी लड़की के लिए सिंगल रहना कितना मुश्किल होता है, ये बात हम भारतीय लड़कियों से बेहतर भला कौन समझ सकता है.

कॉलेज की पढ़ाई खत्म हुई नहीं कि पैरेंट्स को लड़की की शादी कि चिंता सताने लगती है. अगर लड़की शादी के लिए नहीं मानती है तो तरह-तरह के हथकंडे अपनाते हैं उसे मनाने के लिए.

से सिर्फ हमारे देश में ही नहीं दुनिया के अन्य देशों में भी लड़कियों का यही हाल है. ताज़ा मामला युंगाडा का है जहां लड़की ने parents के शादी के लिए दवाब से परेशान होकर अनोखा काम कर डाला.

यदि कोई लड़की 30 की उम्र तक भी शादी न करे तो पैरेंट्स के साथ ही आसपास के लोगों के लिए भी वो चर्चा का विषय बन जाती है.

ऐसे में शादी के लिए दवाब – पैरेंट्स किसी भी तरह बेटी की शादी करवाना चाहते हैं. युगांडा की लुलु जेमिमाह के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ. 32 साल की लुलु ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में अभी पढ़ रही है, लेकिन उसके माता-पिता हर दिन उसे शादी करने के लिए परेशान करते रहते हैं, लेकिन वो शादी नहीं करना चाहती, क्योंकि अभी वो अपना करियर बनाना चाहती है. अभी वह ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी में क्रिएटिव राइटिंग में मास्टर्स की डिग्री कर रही है.

अपने पैरेंट्स के दवाब से परेशान होकर लुलु ने एक मॉक वेडिंग की और अपने खास दोस्तों और परिजनों को आमंत्रित भी किया. लुलु ने एक ड्रेस किराए पर ली और वेडिंग वेन्यू पर पहुंच गई. लुलु ने मेहमानों के सामने दूल्हे की कमी पर एक भाषण भी दिया. वह बताती हैं कि पूरे दिन का खर्च केवल 188 रुपए ही आया क्योंकि उन्हें बस पब वेन्यू तक पहुंचने में पैसे खर्च करने पड़े.

बाकी का खर्च दोस्तों या तोहफों से मैनेज हो गया.

उसने जब शादी का इंविटेशन लोगों को दिया तो सब पूछने लगे कि दुल्हा कौन है तो लुलु ने कहा कि ये एक सरप्राइज़ है. लुलु ने अपने 32वें बर्थडे के दिन ही शादी की प्लानिंग की और गाउन पहनकर तैयार हो गई. उसने खुद से शादी करने का फैसला किया. वो कहती हैं कि ये फैसला उनके लिए भी थोड़ा अजीब था और उनकी मां को जब ये बात पता चली तो वो दुखी हो गई, लेकिन लुलु के लिए शादी से ज़रूरी है अपने सपने को पूरा करना.

लुलु ने कहा, मुझे अपनी जिंदगी से बहुत लगाव है और मैं एकैडैमिक बनने के अपने सपने को पूरा करना चाहती हैं, लेकिन मेरे परिवार के पास बस एक ही सवाल होता था कि मैं शादी कब कर रही हूं. पूरे युगांडा में शादी ही सबसे अहम चीज है. इसके बाद लोगों को यह चिंता होती कि मैं बच्चे कब पैदा करूंगी और परिवार कब शुरू करूंगी.

इस लड़की ने जो किया अपने आप में मिसाल है और करियर ओरिएंटेड लड़कियों को इससे सबक लेना चाहिए.

Article Categories:
विदेश

Don't Miss! random posts ..