ENG | HINDI

केवल किस्मत वालों के हाथ में होता है ‘V’ अक्षर, आपके हथेली में है तो ये जान लो

हस्तरेखा

हस्तरेखा – मनुष्य के व्यक्तित्व की पहचान करनी हो या फिर उसके भूत, वर्तमान या भविष्य की बात जाननी हो.

उनके लिए कई विद्याएं हैं. उन्ही में से हस्तरेखा विज्ञान भी एक विद्या है. इसे ज्योतिष विद्या के तौर पर हम जानते हैं. इस विद्या के अंतर्गत ज्योतिष हमारे हाथों की रेखा, हमारे माथे की रेखा पैर की रेखा इत्यादि को देख कर हमारे भविष्य और व्यक्तित्व के बारे में जानकारी देते हैं.

हस्तरेखा को देख कर ज्योतिष विज्ञान मनुष्य के भविष्य के बारे में हर बात बता सकता है.

मनुष्य की हथेली पर ढेर सारी रेखाएं बनी होती है और निशान बने होते हैं जो मनुष्य के व्यक्तित्व की व्याख्यान करते हैं. स्वास्थ्य से संबंधित सारी जानकारी हस्तरेखा में उपलब्ध होती है. साथ ही भविष्य में होने वाली अच्छी और बुरी घटनाओं के बारे में भी बताती है. समुंद्र शास्त्र में हस्तरेखा के विषय में विस्तृत जानकारी मिलती है.

हस्तरेखा

हस्तरेखा शास्त्र के मुताबिक व्यक्ति के कलाई, हाथ, अंगूठा, उंगलियों इत्यादि की मदद से व्यक्ति के बारे में सब कुछ आसानी से बताया जा सकता है. आपके हाथ की रेखा आपकी किस्मत के बारे में काफी कुछ बताती है. आपके हाथ में खींची हुई हर लकीर का बेहद खास मतलब है. इतना ही नहीं आपके हाथ की लकीरें आपस में मिलकर जिन आकृतियों को बनाती है वे आपके व्यक्तित्व के बारे में काफी कुछ बताती है.

ये लकीरें आपस में मिलकर अलग-अलग अक्षर भी बनाती है. ध्यान देंगे तो आप पाएंगे कि किसी के हाथ में M बना हुआ है तो किसी के हाथ में X बना हुआ है तो किसी के हाथ में V इत्यादि बना हुआ है.

हस्तरेखा

अब दोस्तों यहां हम बात कर रहे हैं उस हथेली की जिस हथेली की लकीरें आपस में मिलकर V अक्षर बनाती है.

तो आइए जानते हैं V अक्षर की विशेषताओं को

अगर आपकी हथेली में बनी हुई लकीरें V अक्षर बनाती है तो इसका साफ तौर पर यही मतलब होता है कि आप किस्मत के धनी हैं. यानी कि आप भाग्यवान इंसान हैं. मेहनत तो हर किसी को करना ही पड़ता है लेकिन मेहनत के साथ-साथ अगर किस्मत भी साथ दे जाए तो दिन दूनी रात चौगुनी प्रगति करना किसी भी इंसान के लिए काफी सरल हो जाता है. ऐसे में जिस भी व्यक्ति की हथेली पर V अक्षर बनता है वैसे व्यक्ति किस्मत के काफी धनी होते हैं.

हस्तरेखा

हो सकता है कि शुरुआत में आपको मेहनत करनी पड़े लेकिन एक समय सीमा अवधि के बाद सफलता निश्चित रूप से आपके कदम चूमेगी. व्यवसाय में आपको सफलता हाथ लगेगी. जीवन में खूब पैसे कमाएंगे. जिनके हथेली में V अक्षर हैं वे ‘भगवान के बंदे’ कहे जा सकते हैं. क्योंकि ईश्वर का इनके ऊपर विशेष रुप से आशीर्वाद रहता है.

वैसे तो किस्मत उस इंसान की भी अच्छी होती है जिनके हाथ ही नहीं होते. ये मैं नहीं कह रही बल्कि किसी और के द्वारा कही गई बात है लेकिन इसमें सच्चाई तो है. जबकि दूसरी ओर इस बात को भी हम झुठला नहीं सकते की हाथ की रेखाएं आपकी किस्मत के बारे में सब कुछ कह जाती है. हाथ की लकीरें भविष्य वाणी कर सकती है.

बदलती रहती हैं रेखाएं

मनुष्य के कर्मों के अनुसार समय समय के साथ रेखाएं अपने आप बदलती रहती है. लेकिन इन रेखाओं को देख कर भविष्यवाणी की जा सकती है.

हस्तरेखा

किस्मत का रोल काफी अहम होता है

हममें से बहुत लोग ऐसे भी हैं जो अपनी मेहनत पर भरोसा करने वाले होते हैं उनका मानना होता है कि मेहनत के बल पर सब कुछ हासिल किया जा सकता है लेकिन आप जब अपने चारों ओर नजर दौड़ाएंगे तो ऐसे बहुत व्यक्ति आपको दिख जाएंगे जो जी जान से मेहनत करते हैं. उनमें काबिलियत भी है लेकिन फिर भी वे व्यक्ति सफल नहीं हो पाते हैं. जबकि दूसरी तरफ आपको एक ऐसा व्यक्ति भी मिल सकता है जिसमें उस मेहनती व्यक्ति की तुलना में काबिलियत कम है और वह मेहनत भी उसकी तुलना में कम कर रहा है बावजूद इसके सफलता उसके कदम चूम रही है.

हो सकता है कि उसके कार्य करने का तरीका ऐसा हो जो सफल हो रहा है. लेकिन इतना तो है कि किस्मत का हमारी सफलता और असफलता में काफी अहम रोल होता है. अगर हम मेहनती भी हो और किस्मत भी अच्छी हो तो सफलता की बुलंदी को छूना काफी आसान हो जाता है. लेकिन हमारे अंदर सब कुछ होने के बावजूद अगर किस्मत अच्छी ना हो तो हमें निराशा ही हाथ लगती है. बार-बार मेहनत के बावजूद हम सफल नहीं हो पाते.

जो भी हो इंसान को सबसे पहले अपनी मेहनत और काबिलियत पर विश्वास होना चाहिए. कुछ कर गुजरने का जज्बा होना चाहिए. उसके बाद ही किस्मत पर भरोसा होना चाहिए. क्योंकि लकीरें तो बनती और बिगड़ती रहती है. जैसा कि कहा जाता है कि कर्म अच्छा हो तो फल निश्चित रूप से अच्छा मिलता है.

अगर आपका कर्म अच्छा रहेगा तो आपके हाथ की बुरी लकीरें भी अच्छी बन जाएगी.

Don't Miss! random posts ..