ENG | HINDI

ऑफिस में ऐसे कॉलीग से भगवान ही बचा कर रखें !

ऑफिस कॉलीग्स

ऑफिस कॉलीग्स – कभी-कभार व्यक्तिगत परेशानी व ऑफिस में नेगेटिव माहौल होने की वजह से ऑफिस के कार्य में मन नहीं लगता है।

अक्सर ऑफिस कॉलीग्स इस व्यवहार को भांपकर, हमारा मन ऑफिस के अनुरुप बनाने की प्रयास करते हैं। लेकिन ऑफिस में ऐसे भी सह-कर्मचारी मौजूद होते हैं जो इस मौके को गंवाना बिल्कुल नहीं भूलते हैं व अप्रत्यक्ष तरीके से व्यंग्य भी करते हैं।

अगर ऑफिस में ऐसे कॉलीग हो जो परेशानी कम करने की बजाए उसको बढ़ा दें तो उनसे भगवान ही बचाए ।

ऑफिस कॉलीग्स –

१ – बातों की चुगली करना

ऑफिस में अक्सर ऐसे कॉलीग मिल जाएंगे, जिन्हें दूसरों की लाइफ में इंटरफेयर यानी दख़ल देने में अच्छा लगता है। इन कॉलीग को चुगली में ऐसा आनंद मिलता है कि इनकी चुगली से कई बार दूसरों को ठेस भी पहुंचती है। जिसके लिए इनको न अफसोस होता है और न यह बाद में माफी मांगते हैं। देखा जाए इस तरह के कॉलीग ऑफिस में किसी सह-कर्मचारी के अपने नहीं होते हैं। यह अक्सर अपने घनिष्ठ कॉलीग को भी धोखा देते हैं।

ऑफिस कॉलीग्स

२ – बॉस से शिकायत करना

ऑफिस में ऐसे भी कॉलीग होते हैं जो आपके बुरे दिन को अधिक खराब बनाने में किसी तरह की कसर नहीं छोड़ते हैं। यह मौका ऐसे कॉलीग के लिए गोल्डन चांस होता है जब वह अपने सह-कर्मचारी की बॉस से शिकायत कर, स्वयं को बॉस की नजरों में बेहतर एम्पलॉए बनाने का प्रयास करते हैं। आमतौर पर हर ऑफिस में ऐसे कॉलीग मिल जाएंगे, जो गोल्डन चांस को बिल्कुल गंवाना नहीं भूलते हैं।

ऑफिस कॉलीग्स

३ – दूसरे दिन के मुकाबले अधिक काम करना

यदि ऑफिस का बेस्ट एम्पलॉए बीमार या किसी दूसरी परेशानी में फंसा हो फिर यह मौका ऐसे कॉलीग के लिए बेस्ट रहता है। क्योंकि इस तरह के एम्पलाए इस मौके पर जरूरत से अधिक काम करते हैं। आप यह मान सकते हैं कि ऐसे एम्पलाए पूरे साल का काम एक दिन ही पूरा कर लेते हैं। लेकिन उनके ऐसे काम करने में दिखावा अधिक ही शामिल होता है।

ऑफिस कॉलीग्स

४ – सह-कर्मचारी के काम में डिस्टर्बेंस लाना

ऑफिस में मूड खराब उस वक्त होता है जब हम एकाग्रता से कार्य कर रहे हो और ऑफिस का कॉलीग जान कर डिस्टर्ब करें। ऐसे कॉलीग अपने सह-कर्मचारी के लिए सरदर्द से अधिक नहीं होते हैं। क्योंकि यह बार-बार टेबल पर आकर डिस्टर्ब करते हैं जिससे काम से फोकस हट जाए। और हम दूसरों की नजरों में बुरे एम्पलाए बन जाएं। हो सके तो ऐसे एम्पलाए से दूरी बना कर ही रखें।

ऑफिस कॉलीग्स

५ – मुसीबत में साथ देने का वादा कहकर बाद में धोखा देना

ऑफिस में आपने ऐसे कॉलीग जरूर देखें हो जो बड़ी-बड़ी बातें करते हैं। लेकिन इनके बारे में उस वक्त जानकारी लगती है जब यह अपने वादे से पीछे हट जाते हैं। अक्सर ऐसे एम्पलाए शुरुआत में एकजुटता दिखाते हैं लेकिन जब एक्शन लेने का वक्त होता है तो यह तरह-तरह के बहाने बनाकर पीछे हट जाते हैं।

ऑफिस कॉलीग्स

ऑफिस कॉलीग्स – यदि आपके ऑफिस में ऐसे कॉलीग है जिनके लिए सह-कर्मचारी को परेशान व उसकी बातों की चुगली करने में आनंद मिलता है तो हम कामना करते हैं कि वे आपसे दूर ही रहें। क्योंकि उस तरह के एम्पलॉए किसी के भी अपने नहीं होते हैं।

Don't Miss! random posts ..