ENG | HINDI

नीरव मोदी जैसी छोटी मछली को छोडिए और मिलिए घोटालों के समुद्र की शार्क से !

फ्रैंक एबेग्नेल

फ्रैंक एबेग्नेल – देश भर में माल्या और मोदी द्वारा किए गए घोटालों के चर्चे हो रहे हैं.

भारत में घोटाले होना कोई नई बात नही है. इस समय देश एक बार फिर घोटाले से चर्चा में है और इस बार कारण बने हैं नीरव मोदी और उनके द्वारा किया गया पीएनबी घोटाला. ठीक विजय माल्या की ही तरह नीरव मोदी भी देश का पैसा लूटकर विदेशी जमीन पर ऐश कर रहे हैं.

आपको लग रहा होगा कि इस घोटाले से बड़ा क्या ही किसी ने फ्रॉड किया होगा लेकिन आपको बता देंकि मोदी और माल्या तो केवल मछली हैं – अमेरिका के फ्रैंक जूनियर एबेग्नेल के कारनामों और घोटालों के बारे में अगर आपने जान लिया तो आपके तो होश ही उड़ जाएंगे. आपको बता देंकि फ्रैंक एबेग्नेल इतने बड़े लूटकार हैं कि हॉलीवुड में उनके ऊपर एक फिल्म तक बन चुकी है “कैच मी ईफ यू केन”.

इस फिल्म में फ्रैंक का रोल हॉलीवुड सुपरस्टार लियोनार्डो डि कैप्रियो ने निभाया है और उनके कारनामे देखकर आपको पता चल जाएगा कि फ्रैंक जूनियर एबेग्नेल का इतिहास कितना दिलचस्प था. शायद फिल्म देखने के बाद आप खुद ही कह देंकिमाल्या, कोठारी और मोदी जैसे लोग तो छोटी मछलियां हैं. घोटालों के समुंद्र की शार्क तो फ्रैंक जूनियर एबेग्नेल है.

फ्रैंक के बारे में आपको बताने से पहले ये बता देंकि केवल 19 साल की उम्र तक आते-आते फ्रैंक जूनियर एबेग्नेल ने अमेरिका के 50 राज्यों और दुनिया के 26 देशों के बैंको को चूना लगा दिया था. यहां तक कि फ्रैंक ने मुफ्त में दुनियाभर की सैर की और तमाम तरह की हाई प्रोफाइल नौकरियों को अंजाम दिया और बला की खूबसूरत लड़कियों को अपनी गर्लफ्रैंड बनाया. इसे शायद फ्रैंक की काबिलियत ही कहा जाएगा, जिसके चलते फ्रैंक की धोखेबाजी को जानते हुए भी बैंक और एफबीआई फ्रैंक की शरण में आए और उससे लोगों द्वारा बैंको में की जा रही चोरी को रोकने की सलाह मांगी. फ्रैंक ने बैंको और एफबीआई को रहम की निगाहों से देखा और इन्हें चोरी से निजात के लिए सेशन दिया मगर उसके लिए 500 डॉलर प्रति सेशन वसूले.

फ्रैंक एबेग्नेल

कुछ इस तरह हुई थी फ्रैंक एबेग्नेल की शुरुआत

इस सब की शुरुआत हुई साल 1964 में जब फ्रैंक एबेग्नेल केवल 15 साल के थे और उन्होंने अपने पहले फ्रॉड को अंजाम दिया. फ्रैंक ने अपना पहला फ्रॉड 3400 डॉलर का अपने पिता के क्रेडिट कार्ड से किया था. इसके बाद उन्होंने फ्रॉड का सिलसिला चेक से शुरु कर दिया.

फ्रैंक एबेग्नेल ने हाईप्रोफाइल सभी नौकरियां की

फ्रैंक एबेग्नेल ने ना केवल पैसों का फ्रॉड किया बल्कि उन्होंने हाईप्रोफाइल नौकरियां भी की, बताया जाता है कि फ्रैंक पायलेट से लेकर डॉक्टर, वकील और टीचर तक लगभग सभी नौकरियां कर चुके हैं.

अक्सर हमने सुना है कि अगर चोर को ही कोतवाल बना दिया जाए तो सोचो परिस्थिति कैसी होगी? फ्रैंक एबेग्नेल के केस में भी कुछ ऐसा ही है. कल तक जो इंसान लोगोंके साथ फ्रॉड करता था आज अपने पापों का प्रायश्चित कर के लोगों को हर तरह के फ्रॉड से बचाता है.

फ्रैंक एबेग्नेल ने इस काम के लिए एक कंपनी तक खोल रखी है. आपको जानकर शायद हैरानी होगी लेकिन अमेरिका के और उसके आसपास के सभी देशों के ज्यादातर बैंक फ्रैंक के क्लाइंट हैं.

Don't Miss! random posts ..