ENG | HINDI

मुस्लिम इतने बच्‍चे पैदा करते हैं कि रेप बढ़ रहे हैं : क्‍या ये सच है ?

भारत की राजनीति

भारत की राजनीति आए दिन नई करवटें लेती रहती है।

कभी किसी नेता का घोटाले में नाम आता है तो कभी कोई अपने विवादित बयान से ही खलबली मचा देता है। भारत की राजनीति नेता लोग धर्म के नाम पर बहुत गंदगी और अशांति फैला रहे हैं और अब फिर से एक नेता ने ऐसा ही कुछ कर दिया है जिससे धार्मिक अशांति फैल सकती है।

जी हां, यूपी के अंबेडकर नगर से बीजेपी सांसद हरि ओम पांडेय ने मुस्लिम समाज का लेकर एक विवादित बयान दे डाला है। उनका ये बयान देश में बढ़ते रेप के मामलों को लेकर आया है। सांसद पांडेय का कहना है कि देश में आतंकवाद और रेप की बढ़ती घटनाओं के लिए मुस्लिमों की बढ़ती आबादी जिम्‍मेदार है। इसके साथ ही सांसद ने ये भी कहा कि आने वाले समय में मुस्लिमों की बढ़ती आबादी पर नियंत्रण नहीं किया गया तो पाकिस्‍तान की तरह भारत में एक नया मुस्लिम देश आकार ले लेगा।

मुसलमानों पर बंदूक तानते हुए बीजेपी सांसद ने कहा कि इस धर्म में पुरुषों को 3-4 शादियां करने की अनुमति है और वो 9-10 बच्‍चे पैदा करते हैं। उनके बच्‍चों को कोई अच्‍छी शिक्षा भी नहीं मिलती है और वो बेरोज़गार रह जाते हैं। इससे निश्‍चित तौर पर अराजकता को बढ़ावा मिलता है। लगातार इस धर्म के लोगों की आबादी बढ़ रही है। आज वो शरिया की मांग कर रहे हैं और बाद में कहेंगें कि उनके लिए नया पाकिस्‍तान बनाकर दिया जाए।

भारत की राजनीति – जनसंख्‍या वृद्धि को लेकर हो कानून जारी

भारत की राजनीति –

अपने इस विवादित बयान में सांसद ने एक बड़ी ही काम की बात कही और वो ये कि देश में जनसंख्‍या को रोकने के लिए कानून बनाया जाना चाहिए। रेप, छेड़खानी और आतंकवाद जैसी घटनाओं के पीछे मुस्लिमों की बढ़ती आबादी को उन्‍होंने दोषी ठहराया। अगर समय रहते मुसलमानों की आबादी को रोका नहीं गया तो देश में अराजकता फैल जाएगी। पाकिस्‍तान की तरह एक और बंटवारे से भारत को बचाने के लिए ये सबसे सुरक्षित रास्‍ता है।

हिंदू भी करें 5 बच्‍चे पैदा

बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने अपने विवादित बयान में कहा था कि हिंदुओं की आबादी बढ़नी चाहिए और इसके लिए जरूरी है कि सभी हिंदू कम से कम पांच बच्‍चे पैदा करें। उनके अनुसार हर महंत की इच्‍छा है कि हर हिंदू अगर पांच बच्‍चे पैदा करेगा तो इससे भारत की ताकत बढ़ेगी।

हम सभी जानते हैं कि मुस्लिम मर्द एक से ज्‍यादा शादियां करते हैं और तकरीबन 8 से 10 बच्‍चे पैदा करते हैं। वाकई में इससे देश और दुनिया में मुस्लिमों की आबादी बढ़ रही है लेकिन क्‍या इसकी वजह से आतंकवाद और रेप जैसी घटनाएं भी बढ़ रही हैं ?

आज हर हिंदू संत-महात्‍मा हिंदुओं को चार बच्‍चे पैदा करने की सीख दे रहा है ल‍ेकिन ज़रा इनसे कोई ये पूछे कि इन बच्‍चों की शिक्षा और रहने का खर्च कौन उठाएगा और इसका देश की आबादी पर क्‍या असर पड़ेगा ?

खैर, नेता लोग तो बिना सोचे-समझे कुछ भी कह देते हैं लेकिन एक बात तो उन्‍होंने बिलकुल सही कही है कि देश में जनसंख्‍या नियंत्रण कानून होना चाहिए जिससे मुस्लिम ही नहीं बल्कि हर धर्म के लोगों में जनसंख्‍या को नियंत्रित किया जा सके।

ये है भारत की राजनीति – इस बारे में आपका क्‍या कहना है ?

Don't Miss! random posts ..