ENG | HINDI

मुंबई पुलिस के ऐसे मीम्स जिन्हें देखकर अपराधी भी लोटपोट हो जाएं

मुंबई पुलिस के मीम्स

मुंबई पुलिस के मीम्स – सोशल मीडिया का ज़िक्र करें और मीम्स की बात न निकले ऐसा संभव नहीं है। मौजूदा समय में युवा जूते के फीते बाँधना बाद में सीखते हैं और मीम्स बनाना पहले। यही वजह है कि सोशल मीडिया में मीमबाजों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है।

आम युवाओं से लेकर बड़े सितारों तक, सभी सोशल मीडिया में चटकारे लेकर मीम्स के मजे लेते हैं। फेसबुक से लेकर इंस्टाग्राम व ट्विटर तक, सभी सोशल नेटवर्किंग साइट्स मानो मीममय हो चुकी हैं। ऐसे में यदि आपको लोकप्रियता हासिल करनी है तो मीमबाजी को बतौर करियर विकल्प भी चुना जा सकता है।

इस मीममय समाज में पुलिस प्रशासन समेत अन्य सरकारी महकमों को जनता से नजदीकी बनाए रखने के लिए मीम्स का सहारा लेते देख आश्चर्यचकित नहीं होना चाहिए। लेकिन यदि ये सरकारी महकमे बड़े-बड़े मीमबाजों को पछाड़ अपने स्वैग का लोहा मनवाते नजर आएं तो वाकई ये एक बड़ी बात है। इस समय मुंबई पुलिस के मीमबाजों का कुछ ऐसा ही स्वैग लोगों को नजर आ रहा है। जी हाँ दोस्तों, मायानगरी मुंबई का पुलिस महकमा शायद इस वक़्त देश का सबसे कूल पुलिस महकमा बन चुका है। सोशल ट्रेंड हो या कोई ज्वलित मुद्दा, मुंबई पुलिस अपने अलग ही अंदाज में सोशल मीडिया पर छाई होती है।

यदि आपको हमारी बात पर यकीन न हो रहा हो तो आइए देखते हैं मुंबई पुलिस के मीम्स – मुंबई पुलिस के कुछ सबसे शानदार व मजेदार मीम्स।

मुंबई पुलिस के मीम्स –

  1. ब्लॉक, ब्लॉक, एक और शानदार ब्लॉक। सोशल मीडिया पर मौजूद मनचलों के खिलाफ यह पोस्ट मुंबई पुलिस की कूलनेस का एक ताजा उदाहरण है।

  1. ऑनलाइन सेफ्टी का पाठ पढ़ाता इससे बेहतर मीम शायद ही इंटरनेट पर मौजूद हो।

 

  1. धड़क पर बन रहे मीम्स की धारा में मुंबई पुलिस ने भी हाथ धो लिया। वैसे इनका कहना भी सही है, ट्रैफिक सिग्नल की भी भावनाएं होती हैं भई।

  1. ड्रग्स की असलियत दिखाता यह मीम वाकई आँख खोलने वाला, लेकिन मजेदार है।

  1. ये है परफेक्शन।

  1. स्वैग का अलग लेवल। इन्होनें तो मुजरिमों के लिए ये मजेदार प्लेलिस्ट भी तैयार रखी है।

  1. नेटफ्लिक्स स्ट्रेंजर थिंग्स का मुंबई पुलिस वर्ज़न।

  1. ऑनलाइन सेफ्टी का एक और पाठ, मुंबई पुलिस के अंदाज में।

मुंबई पुलिस के मीम्स – मुंबई पुलिस का यह कूल अवतार उन्हें आम जनता, खासतौर से युवाओं के करीब लाने में बेहद कारगर साबित हो सकता है। इससे पुलिस की छवि सुधारने में मदद मिलेगी और युवा पीढ़ी पुलिस का नाम सुनकर पीछे हटने के बजाए आगे बढ़कर खुद को सुरक्षित महसूस कर सकेगी। मौजूदा समय में दूसरे राज्यों की पुलिस से लेकर अन्य सरकारी महकमों तक, सभी को इस तरह की पहल करनी चाहिए। ऐसा करके वे न केवल अपनी छवि सुधार सकते हैं, बल्कि लोगों के बीच जागरूकता भी फैला सकते हैं।

ये है मुंबई पुलिस के मीम्स – यदि आप मुंबई पुलिस के इस अवतार का समर्थन करते हैं तो यह स्टोरी शेयर करना न भूलें।

Don't Miss! random posts ..