ENG | HINDI

क्या दूध सचमुच फायदेमंद होता है, जानिए इससे जुड़ी सच्चाई!

बचपन से हमें दूध के फायदे गिनाए जाते हैं.

दूध पीने से हड्डियां मज़बूत होती है, दांत मज़बूत बनते हैं आदि. बड़ों से लेकर बच्चों तक के लिए दूध बहुत फायदेमंद होता है ऐसे बड़े-बुज़ुर्ग कहते हैं और हेल्थ एक्सपर्ट्स की भी कुछ ऐसी ही राय होती है, मगर क्या सचमुच दूध इतना फायदेमंद होता है?

आज तक आपको दूध के फायदे तो बहुत गिनाए गए होंगे, लेकिन जितने फायदे बताए जाते हैं क्या वाकई दूध इतना फायदेमंद होता है? कभी आपने इस बारे में सोचा ही नहीं हो.

तो चलिए हम जानने की कोशिश करते हैं दूध के फायदे.

दूध के फायदे –

जहां तक दूध से हड्डियों के मज़बूत होन की बात कही जाती है, इस बारे कोई पुख्ता रिसर्च नहीं हुई है और ये अभी तक चर्चा का विषय है. स्टडी के मुताबिक, अमेरिका में दूध का काफी उपभोग होता है फिर भी वहां जापान, जहां दूध का उपभोग बहुत कम है, के मुकाबले हड्डी रोग के मामले काफी ज्यादा पाए जाते हैं, मतलब ज़रूरी नहीं कि दूध पीने वालों की ह़ड्डियां मज़बूत ही बनें.

इसमें कोई शक नहीं है कि दूध में कैल्शियम होता है लेकिन यही सिर्फ एक स्रोत नहीं है. राजमा, तिल के बीज और सोयाबीन में भी कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है. तिल के 100 ग्राम बीज में 1300-1400 मिग्रा कैल्शियम होता है जबकि 100 मिलीलीटर दूध में सिर्फ 280-300 मिग्रा कैल्शियम पाया जाता है.

दूध को कंप्लीट फूड कहा जाता है. प्रोटीन, विटमिन ए और बी12, राइबोफ्लेविन, कैल्शियम, फॉस्फोरस, जिंक, मैग्नीशियम और पोटैशियम समेत कई पोषक तत्व दूध में प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, लेकिन दूध में दो अहम पोषक तत्व विटमिन सी और आयरन की कमी होती है. खाने की जगह लंबे समय तक दूध पीते रहने से शरीर में आयरन की कमी हो सकती है. इसके अलावा नाश्ते में कार्बोहाइड्रेट्स, फैट्स और प्रोटीन का मिक्स होना चाहिए, कुछ लोग सिर्फ दूध पीते हैं जो सही नहीं है क्योंकि इससे सारे पोषक तत्व शरीर को नहीं मिलते हैं.

​कहा जाता है कि दूध पीना हर किसी के लिए ज़रूरी है. दरअसल, 12 साल की उम्र तक दूध को खाने का हिस्सा होना चाहिए लेकिन उसके बाद यह ऑप्शनल होना चाहिए. इसका कारण यह है कि इस उम्र के बाद हम वे चीजों खाना शुरू कर देते हैं जिससे दूध के बराबर में पोषक तत्व मिलने लगते हैं. वैसे भी वयस्कों को एक दिन में 2-3 सर्विंग्स से ज्यादा दूध का सेवन नहीं करना चाहिए.

​क्या आप जानते है कि एक साल से कम उम्र के बच्चों को गाय का दूध देने से बाद में ऑटोइम्यून डिजीज और टाइप-1 डायबीटीज हो सकती है. बच्चों को फॉर्म्युला मिल्क या ब्रेस्ट मिल्क देना बेहतर होता है. दूध के बारे में कहा जाता है कि इससे स्किन को काफी फायदा पहुंचता है. इसमें कोई शक नहीं है कि दूध में पानी होता है जो हमारी स्किन को हाइड्रेट करता रहता है, लेकिन दूध में अगर मिलावट हुई तो इससे स्किन समस्या हो सकती है. गाय के दूध में ऑक्सिटॉसिन की मात्रा ज्यादा रहती है जिससे स्वास्थ्य संबंधित अन्य समस्या पैदा हो सकती है.

ये है दूध के फायदे – तो दूध हेल्दी होता है, मगर सिर्फ दूध से आपको सारे पोषक तत्व नहीं मिल सकते, इसलिए इसे हमेशा सिर्फ एक विकल्प के दौर पर ही देखें.

Don't Miss! random posts ..