ENG | HINDI

दुनिया का ऐसा द्वीप जहां के घर बने हैं अनगिनत सीपियों से

सीपियों से बने घर

सीपियों से बने घर – जब आप बीच में जाते होंगे तो आपने कई बार बीच में सीपियों को देखा होगा.

ये सीपियां  वास्तव में एक समुद्री जीव का खोल होती हैं, जो कि उनके मरने के बाद लहरों के सहारे समुद्र के किनारे पर आ जाती हैं. आप ने इन सीपियों की पेंटिंग या उन्हे डेकोरेशन वाले समानों में कई बार देखा होगा. सीप से बनी हुई चीजें काफी सुंदर लगती हैं. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि दुनिया में एक ऐसी जगह भी है जो सीपियों के द्वारा ही बनी है. यहां पर सीपियों से बने घर है हम कह सकते हैं कि यह द्वीप ही सीपियों से बना है तो शायद आप विश्वास नहीं करेंगे.

सीपियों से बने घर –

१ – ‘जोल-फडिऊथ आइलैंड’

लेकिन यह सच है, दरअसल पश्चिमी अफ्रीका के सेनेगल कोस्ट देश में करीब 7,465 एकड़ क्षेत्र में फैला खूबसूरत द्वीप ‘जोल-फडिऊथ आइलैंड’ है. इस आइलैंड पर करोड़ों की संख्या में सीपियां इकट्ठा हो गई है. जिस वजह से इसे शैल आइलैंड भी कहा जाने लगा है. इस आइलैंड की सड़के सीपियों की बनी हैं वहीं मकानों की दीवारों पर सीपियां जड़ी हैं. इसके अलावा क्रिश्चियन लोगों ने कब्र तक सीपियों से बनाई हुई है.

२ – सीपियों का खजाना

इस द्वीप में 90 फीसदी आबादी मुस्लिम है और 10 फीसदी आबादी क्रिश्चियन है. यहां बसे आदिवासी अपनी जीविका चलाने के लिये समुद्र पर ही निर्भर है. वे मछलियों और समुद्री जीवों को पकड़ते हैं. उनसे ही अपनी आजीविका चलाते हैं. वहीं समुद्र में उन्हें सीपियां भी ढेर सारी मिलती हैं, आदिवासी इन सीपियों के मीट को निकालकर भोजन के रूप में इस्तेमाल करते हैं वहीं खाली सीपियों से व्यापार करते हैं. ऐसे में वह खराब खाली सीपियों को फेंक भी देते हैं जिसकी वजह से यहां पर हर जगह सीपियां ही सीपियां नजर आती हैं. इस छोटे से देश में सैकड़ों द्वीप है 400 से 500 मीटर लंबा लकड़ी का पुल इन द्वीपों को आपस में जोड़ता है. यहां पर रहने वाले ज्यादातर लोग मोलूयकस का व्यापार करते हैं.

३ – समुद्री दृश्य का नजारा

आमतौर पर कई सालों से लोग यहां पर घूमने के लिये आते हैं. इससे स्थानीय लोगों को आय का जरिया भी मिला है. पैसा होने के बावजूद भी यहां के लोग पर्यावरण को लेकर काफी गंभीर है इसलिये उन्होंने इस द्वीप पर पक्की सड़के तक नहीं बनवाई हैं. यहां आने वाले पर्यटक पैदल ही इस आइलैंड का मजा लेते हैं. यहां पर सैलानियों के ठहरने के लिये शानदार होटल और रेस्टोरेंट हैं. यहां होटल ऐसी जगह बने हैं जहां से पर्यटर समुद्र दृश्य का आनंद ले सकें.

सीपियों से बने घर

४ – डिगोयो म्यूजियम का महत्व

इस द्वीप में एक फेमस जगह है डिगोयो म्यूजियम जिसको देखना काफी दिलचस्प है. दरअसल यह संग्रहालय सेनेगल देश के पहले राष्ट्रपति म्बेड डिगोयो का घर है और यहां पर उनके जीवन की हर चीज संभालकर रखी गई है.

सीपियों से बने घर

५ – बाओबाब का महत्त्व

इस आइलैंड में बाओबाब पेड़ का काफी महत्व है. यहां पर लोग इस पेड़ की पत्तियों का पाउडर बनाते हैं जिसका इस्तेमाल मधुमेह, कैंसर, एड्स, पेट रोग और कई बीमारियों में किया जाता है.साथ ही इस पेड़ के पाउडर का इस्तेमाल सबसे ज्यादा खिलाड़ी और एथलीट करते हैं उन्हें स्ट्रेन्थ देता है. पहले जमाने में आदिवासी इस पेड़ की छाल का यूज अपने तन को ढकने में करते थे. वहीं यह पेड़ समुद्री पक्षियों के लिए रैन बसेरा का काम भी करता है. पक्षी बाओबाब पर काफी निर्भर हैं.

सीपियों से बने घर

यहाँ सीपियों से बने घर है – वहीं इस आइलैंड के स्थानीय लोगों को कहना है कि सीपियों की वजह से यह द्वीप पूरी दुनिया में फेमस हो गया है. यहां बड़ी तादाद में पर्यटक घूमने आते हैं. और यहां से सीपियों के बने हुए सामान को खरीदकर ले जाते हैं जिससे व्यापार भी अच्छा होने लगा है. इस द्वीप का सामान्य तापमान 29 डिग्री सैल्सियस रहता है. जुलाई से अक्टूबर महीने तक गरम और नवंबर से अप्रैल तक साधारण तापमान रहता है.

Don't Miss! random posts ..