ENG | HINDI

चीन में इस्लाम को खतरा- कुरान पढ़ाने पर पाबंदी, मस्जिदों के लाउडस्पीकर हटाकर चीनी झण्डे लगाने का आदेश!

चीन में इस्लाम

चीन में इस्लाम धर्म पर संकट लगातार गहराता जा रहा है. हाल ही में पूर्वी तुर्किस्तान में चीन की पुलिस ने बेहद घटिया हरकत की है.

यहां चीनी पुलिस ने कुछ मुस्लिम महिलाओं के लंबे कपड़ों को सरेआम कैंची से काट दिया.

ये कोई पहली बार नहीं है जब इस्लाम धर्म मानने वालों के साथ ऐसी हरकत की गई हो. इससे पहले भी चीन इस्लाम धर्म को लेकर कई ऐसे फरमान सुना चुका है जिससे साफ है कि चीन में इस्लाम पर खतरा मंडरा रहा है.

पूर्वी तुर्किस्तान जिसे शिनजियांग के नाम से भी जाना जाता है, में चीन की पुलिस ने उइगुर मुस्लिम महिलाओं को परेशान करना शुरु कर दिया. उनके लंबे कपड़ों को सरेराह काटा जा रहा है. डॉक्यूमेंटिंग अप्रेशन अगेंस्ट मुस्लिम (डीओएएम) संगठन के मुताबिक चीन प्रशासन के द्वारा ऐसा इसलिए किया जा रहा है क्योंकि उन्हें लगता है कि उइगुर मुस्लिम महिलाओं के कपड़े काफी ज्यादा लंबे हैं.

पूर्वी तुर्किस्तान से ऐसी ही कुछ तस्वीरें मीडिया में सामने आ रही हैं. इन तस्वीरों में पुलिस द्वारा महिलाओं के कपड़े काटते देखा जा रहा है. पुलिस वाले ऐसी महिलाओं को अपना निशाना बना रहे हैं जिनके कपडे़ कमर के नीचे थोड़े लंबे हैं.

दरअसल, पूर्व तुर्किस्तान है तो मध्य एशिया का इलाका, लेकिन फिलहाल इस इलाके पर चीन का नियंत्रण है. यहां मुस्लिमों की आबादी ज़्यादा है. यही नहीं इस इलाके में चीन ने नियंत्रण बढ़ाने के लिए उच्च तकनीक वाले ड्रोन भी तैनात कर रखे हैं. वहीं मी़डिया से आ रही खबरों के मुताबिक इस इलाके में चीन ने मुसलमानों के लिए रिएजुकेशनल कैंप लगाए हैं, जिनमें मुस्लिमों से उनकी निजी जिंदगी और राजनीतिक विचारों के बारे में पूछताछ की जाएगी. बता दें कि शिनजियांग प्रांत में चीन मुसलमानों पर लगातार कड़े प्रतिबंध लगाता जा रहा है. कुछ दिनों पहले चीन ने स्कूली बच्चों के किसी भी तरह के धार्मिक कार्यक्रम में हिस्सा लेने पर रोक लगा दी थी. शिक्षा विभाग ने इस संबंध में जनवरी में एक नोटिस जारी किया था, जिसमें ठंडी की छुट्टी के दौरान बच्चों के धार्मिक स्थलों में प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने को कहा गया था.

इतना ही नहीं सरकार ने यहां के लोगों से कुछ समय पहले कुरान लौटाने को भी कहा था.

चीन सरकार ने कहा है कि देश में राष्ट्रीयता की भावना बढ़ाने के लिए सभी मस्जिदें पर चीन का राष्‍ट्रीय झंडा लगाया जाए। चीन में सरकार के सहयोग से चल रही संस्थान चाइना इस्लामिक एसोसिएशन ने सभी मुस्लिम धर्म गुरुओं को इस मामले पर निर्देश दिया है।

आपको बता दें कि कुछ समय पहले चीन ने अपने देश की मस्जिदों के ऊपर लाउडस्पीकर हटाकर पांच स्टार वाला लाल रंग का झंडा (राष्ट्रीय ध्वज) लगाए जाने का भी आदेश दिया था.

सरकार का कहना था कि मस्जिदों में राष्‍ट्रीय ध्वज लहराने से मुसलमानों में देशप्रेम की भावना बढ़ेगी और वे एक आदर्श नागरिक बनेंगे. इसके साथ ही इससे धार्मिक मान्यताओं में ज्यादा विश्वास करने वाले मुसलमानों में देशभक्ति की भावना जगेगी. इससे पहले चीन की सरकार ने एक और विवादित नोटिस जारी करते हुए लोगों को अपना धर्म छोड़ने की भी सलाह दी थी.

चीन में इस्लाम – चीन में करीब 2 करोड़ मुस्लिम रहते है जाहिर है सरकार के ऐसे रवैये से उनके लिए अपने धर्म को मानना मुश्किल हो गया है.

Don't Miss! random posts ..