ENG | HINDI

आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति तेज, इस कांग्रेसी नेता ने मोदी को कहा हिटलर

भारतीय राजनीति

भारतीय राजनीति – जैसे-जैसे चुनाव नज़दीक आते जा रहे हैं नेताओं की जुबान फिसलने लगी है.

बड़े-बड़े नेता किसी के बारे में कुछ भी बक जाते हैं और उन्हें इस बात का अंदाज़ा भी नहीं होता कि जिस पद पर वो बैठे हैं वहां ऐसी अमर्यादित भाषा उन्हें शोभा नहीं देती. हाल ही में कांग्रेस के एक मंत्री ने मोदी की तुलना हिटलर से कर दी.

कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने एक बयान में नरेंद्र मोदी की तुलना हिटलर से कर दी थी.

जिस पर निशाना साधते हुए बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस को याद दिलाया कि उन्हें पूर्व पीएम इंदिरा गांधी के कार्यकाल को याद करना चाहिए, उन्होंने कहा कि पीएम की तुलना हिटलर से करना हैरान करने वाला. मल्लिकार्जुन ने बीजेपी पर देश में तानाशाही थोपने और हिटलर के कदमों पर चलने का आरोप लगाया था. इसके जवाब में रविशंकर प्रसाद ने कहा, ‘कांग्रेस के सीनियर नेता मल्लिकार्जुन खड़गे का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी की तुलना हिटलर से करना हैरान करने वाला है. मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि इंदिरा जी ने हिटलर के अंदाज में सत्ता चलाई. ये वही खड़गे जी हैं जो एक परिवार की इजाजत के बिना एक इंच हिल भी नहीं सकते हैं.’

खड़गे ने कहा था, ‘बीजेपी देश में तानाशाही लाना चाह रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भारत के साथ वही करना चाहते हैं जो एडोल्फ हिटलर ने जर्मनी के साथ किया था. संविधान खतरे में है और हमें इसे तबाह करने की बीजेपी की कोशिश से लड़ने की जरूरत है.’

नरेंद्र मोदी को हिटलर कहने वाले खड़गे कोई पहले नेता नहीं है. कई लोग मोदी को तानाशाह बता चुके हैं. विपक्षी पार्टी के नेता अक्सर नरेंद्र मोदी पर तंज कसते रहते हैं. वैसे भी भारतीय राजनीति में मुद्दों की बजाय आरोप-प्रत्यारोप और एक-दूसरे को नीचा दिखाने की राजनीति ज़्यादा ही होती है.

2019 के लोकसभा चुनाव में बेरोजगारी, देश का विकास, गरीबी और शिक्षा जैसे कई अहम मुद्दे हैं, मगर इन पर कुछ करने की बजाय नेताओं को तो बस एक-दूसरे पर कीचड़ उछालने में ही मज़ा आता है. ये है भारतीय राजनीति !

Don't Miss! random posts ..