ENG | HINDI

भारत के 2 करोड़ लड़के फेसबुक पर बने हुए हैं लड़की

फेक प्रोफाइल

फेक प्रोफाइल – लोगों का डाटा चुराने वाली मशहूर ब्रिटिश कंपनी कैम्‍ब्रिज एनलिटिका ने खुलासा किया है कि फेसबुक पर दो करोड़ से भी ज्‍यादा लड़कियों की फेक प्रोफाइल के पीछे लड़के छिपे हुए हैं और इनमें से ज्‍यादातर यानि 80 प्रतिशत फेक प्रोफाइल भारतीय लड़कों के हैं जो कि लड़कियों के नाम से फेसबुक यूज़ कर रहे हैं।

फेसबुक पर लड़की बन गए हैं लड़के

कैंब्रिज वालों ने भारत की राजनीतिक पार्टियों के लिए फेसबुक से डाटा लीक या खरीदा था।

उस डाटा की छानबीन के बाद ही उन्‍होंने यह खुलासा किया है। इस बारे में कैंब्रिज के सीईओ रॉबर्ट शर्मा का कहना है कि – हमें भारतीयों का डाटा पढ़ने के बाद काफी हैरान कर देने वाली जानकारी हासिल हुई है।

इस जानकारी को हासिल करने के बाद हम कंफ्यूज़ हो गए हैं और इस वजह से हमें कांग्रेस पार्टी के लिए रणनीति बनाने में दिक्‍कत आ रही है। फेसबुक पर एक ओर हमें कमेंट में पांच लिखें और जादू देखें जैसे वाहियात पोस्‍ट मिले तो वहीं दूसरी ओर लाखों ऐसे टैलेंटेड भारतीय भी दिखे जो लड़कियों की प्रोफाइल  बनाकर लाखों लड़कों को काट चुके हैं।

इस नाम से बने हैं फेक अकाउंट

भारतीय लड़कों ने फेसबुक पर एंजल प्रिया और नेहा के नाम से सबसे ज्‍यादा प्रोफाइल बना रखी हैं।

यह फेसबुक कम और स्‍वर्ग ज्‍यादा लगने लगता है। कुछ लड़के तो फेसबुक पर इतने बेवकूफ मिले की प्रोफाइल फोटो में कैटरीना कैफ की फोटो देखकर ‘ यू आर सो ब्‍यूटीफुल’ की कमेंट कर गए। इसके साथ ही कुछ अधेड़ उम्र के भारतीय मर्द भी दिखे तो ऋतिक रोशन की फोटो लगाकर लड़कियों को फंसाने में लगे थे।

ऐसी स्थिति में कैंब्रिज परेशान है कि वो आगे क्‍या करे और इस मुसीबत से कैसे सुलझे। इतने पर भी कैंब्रिज की परेशानी खत्‍म नहीं हुई। उनके स्‍टाफ के लिए सबसे बड़ा चैलेंज तो कैंडी क्रश रिक्‍वेस्‍ट को इग्‍नोर करना था। उन्‍होंने कहा कि एक तो वो सब वैसे ही परेशान थे और ऊपर से हर एक मिनट में दस लोग कैंडी क्रश की रिक्‍वेस्‍ट भेज रहे थे। ये सब भी हम सह लेते लेकिन जब हमने मीना बॉयज़ की प्रोफाइल देखी तो हमारे सब्र का बांध टूट गया। उनकी गंदी एडिटिंग और एटि‍ट्यूड वाले कैप्‍शन देखकर कैंब्रिज के स्‍टाफ के पांच इंप्‍लॉयीज़ ने तो फांसी लगा ली।

इस सबसे डर कर अब कैंब्रिज भारत में रणनीति बनाना ही छोड़ रहा है। उनका कहना है कि शायद वो राहुल गांधी की छवि सुधारने में सफल भी हो जाएं लेकिन उनका खुद का दिमाग खराब हो जाएगा और फिर उन्‍हें बाकी देशों को भी तो संभालना है।

कैंब्रिज एनलिटिका अब फेसबुक के बाद भारतीयों के ट्विटर पर नज़र गड़ाए हुए है और हमें पूरी उम्‍मीद है कि उन्‍हें भारतीयों के ट्विटर पर भी काफी कुछ मज़ेदार मिल जाएगा। हालांकि, कैंब्रिज वालों को ये तो समझना चाहिए कि जिस देश को ऋषि-मुनि नहीं समझ पाए तो उन जैसे मामूली लोग कैसे समझ पाएंगें।

दोस्‍तों, ये मज़ेदार कहानी बहुत ह्यूमरस है लेकिन इसमें कोई सच्‍चाई नहीं है। इसे आप कैंब्रिज एनलिटिका पर व्‍यंग्‍य के तौर पर देख  और समझ सकते हैं।

Don't Miss! random posts ..