ENG | HINDI

बीवी से ज्‍यादा गर्लफ्रेंड क्‍यों भाती है मर्दों को ?

बीवी और गर्लफ्रेंड

बीवी और गर्लफ्रेंड – अकसर देखने और सुनने में आता है कि मर्दों को बीवियों से ज्‍यादा सुंदर अपनी गर्लफ्रेंड लगती है।

चलिए सुंदर की बात तो छोड़ भी दीजिए लेकिन मर्द बीवी से ज्‍यादा खुश अपनी गर्लफ्रेंड के साथ रहते हैं।

अगर आप पुरुष हैं तो मेरी इस बात से कहीं ना कहीं आप भी वाकिफ होंगें कि गर्लफ्रेंड पुरुषों को ज्‍यादा भाती हैं लेकिन क्‍या आपने कभी सोचा है कि ऐसा क्‍यों होता है।

आखिर दिनभर घर में काम करने वाली बीवी से अच्‍छी पैसा उड़ाने वाली गर्लफ्रेंड क्‍यों लगती है।

तो चलिए आज हम आपको बताते हैं कि मर्दों को बीवी और गर्लफ्रेंड में से ज्‍यादा अच्‍छी गर्लफ्रेंड क्‍यों लगती है।

नहीं होती कोई जिम्‍मेदारी

जितन जिम्‍मेदारी आपकी पत्‍नी को लेकर होती है उतनी गर्लफ्रेंड के लिए नहीं होती है। गर्लफ्रेंड को आप बेफिक्र होकर एक-दो चीज़ों के लिए मना कर सकते हैं लेकिन अगर आपने अपनी बीवी को किसी बात के लिए ना कह दिया तो उनका पारा चढ़ जाता है। बहुत कम ही मर्द ऐसे होते हैं जो अपनी बीवी को ना कह पाते हैं।

आजादी की चाहत

हर किसी को आजादी प्‍यारी होती है। चाहे लड़की हो या लड़का, हर कोई अपनी जिंदगी पूरी आजादी से जीना चाहता है। शादी के बाद ये आजादी छीन सी जाती है। लड़कों को अपनी हर छोटी बात अपनी पत्‍नी से शेयर करनी पड़ती है जबकि गर्लफ्रेंड के साथ ऐसा नहीं है। वो जो चाहें अपनी गर्लफ्रेंड को बताएं या उनके छिपा लें। ये सब उनकी मर्जी पर डिपेंड करता है लेकिन पत्‍नी के मामले में ऐसा नहीं होता है। वहीं गर्लफ्रेंड ज्‍यादा रोकटोक भी नहीं करती है। पत्‍नी की नज़र आपकी हर एक हरकत पर होती है जबकि गर्लफ्रेंड कुछ चीज़ों को इग्‍नोर कर देती है क्‍योंकि उसकी आपसे शादी नहीं हुई होती। हालांकि, वहीं गर्लफ्रेंड पत्‍नी बनने पर आप पर रोकटोक शुरु कर सकती है।

 भरपूर करे प्‍यार

शादी के बाद अकसर महिलाएं घर की जिम्‍मेदारियों में उलझ जाती हैं और ऐसे में उन्‍हें अपने पति के लिए समय ही नहीं मिल पाता है। शादी के बाद कई पति ये शिकायत करते हैं कि बच्‍चों और घर को संभालने के बीच उनकी पत्‍नी को उनके लिए समय ही नहीं मिल पाता है और इस वजह से उनके रिश्‍ते के बीच दूरियां बढ़ती जा रही हैं। गर्लफ्रेंड के साथ ऐसा नहीं होता है। ना तो गर्लफ्रेंड पर घर की कोई जिम्‍मेदारी होती है और ना ही परिवार की। वो तो मस्‍त घूमती हैं और अपने पार्टनर को पूरा समय और प्‍यार देती हैं।

भले ही आप गर्लफ्रेंड को कितना भी पसंद कर लें लेकिन सच तो यही है कि हर बार मुश्किल समय में गर्लफ्रेंड से ज्‍यादा साथ पत्‍नी ही देती है। शादी के समय सात वचनों में एक वचन ये भी होता है कि आपकी पत्‍नी हर मुश्किल और बुरे समय में आपका साथ देंगीं और अपना ये वचन हर पत्‍नी पूरा भी करती है जबकि गर्लफ्रेंड तो मुश्किल आने पर किसी दूसरे का हाथ थाम लेती हैं।

अब तो आप समझ गए होंगें कि बीवी और गर्लफ्रेंड में क्‍या आपके लिए बेहतर है।

Don't Miss! random posts ..