ENG | HINDI

ये वो नशा है, जो बिना पिए चढ़ता है!

नशा करना

नशा करना बुरी आदत होती है लेकिन बिना नशे के ज़िन्दगी चलती भी नहीं.

नशा एक ऐसे चीज होती है, जो इन्सान की ज़िन्दगी में शामिल हो गई तो उसकी ज़िन्दगी बदल देती है.

जरुरी नहीं की यह नशा शराब, सिगरेट या किसी नशीले पदार्थों के सेवन का हो. ये वो है नशा जो बिन पिए चढ़ता है और इन नशे से इंसान की जिंदगी बदलने लगती है.

तो आइये जानते हैं जानते है नशा करना – नशा जो बिन पिए चढ़ता है.

आकर्षण – नशा 

आकर्षण एक ऐसा नशा है, जो बिना कुछ खाए पिए चढ़ने लगता है. इस नशे के कारण दो लोग एक दुसरे के जिंदगी में शामिल हो जाते है. यह नशा हर किसी को ज़िन्दगी में एक बार जरुर चढ़ता है, जिसके कारण इंसान अपने होश खोने लगता है.

प्यार – नशा 

प्यार एक ऐसा नशा है जिसमे कई बार कई ज़िन्दगी खत्म हो जाती है और कई जिंदगी बन जाती है. प्यार का नशा जब सवार होता है तो इंसान अपने होश खोने लगता है और पागलों के जैसे हरकतें करने लगता है. इस नशे से इंसान को भगवान भी नहीं बचा पाते.

कुछ पाने का नशा 

जब इंसान को ज़िन्दगी में कुछ पाने का हासिल करने का नशा चढ़ता है, तो वह दुनिया की हर चीज को पीछे छोड़ देता है और अपनी मंजिल को पाने के लिए खुद रास्ते तलाश कर  लेता है. यह नशा सबसे अच्छा नशा होता है.

खुश रहने का नशा 

इस नशे में जब इंसान अड़ता है तो दुनिया की कोई भी चीज इंसान को हरा नहीं पाती और हर मुश्किल का हल आसानी से मिल जाता है. गम में भी ख़ुशी का एहसास महसूस होता है. यह नशा भी अच्छा होता है.

जिंदगी जीने का नशा 

जिसको एक बार जिंदगी जीने और जिंदगी में सब पाने का नशा चढ़ जाता है, उसको दुनिया में किसी बेकार नशीले चीजों की लत नहीं लगती. जिंदगी जीने का नशा इंसान को इंसान बनाकर रखता है. इंसान को कभी नीचे गिरने और गलत काम करने नहीं देता है.

नशा करना – इन सब चीजो की लत एक बार जिस इंसान को लग गई, वह दुनिया में सबसे ज्यादा खुश रह सकता है.

Don't Miss! random posts ..